एगमार्क क्या है? | एगमार्क कैसे मिलता है? | एगमार्क के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

आजकल के इस दौर में बहुत से लोगों ने एगमार्क का नाम अवश्य ही सुना होगा। परंतु एगमार्क का सही मतलब नहीं पता होता है। वहीं दूसरी तरफ कुछ लोगों को एगमार्क की जानकारी होती है। परंतु सभी लोगों को एगमार्क से संबंधित जानकारी होनी चाहिए। साथ ही साथ आपको यह भी पता होना चाहिए, कि किन चीजों पर एगमार्क का चिन्ह जरूरी होता है और किन चीजों पर नहीं। परंतु इन सब की जानकारी आपको हमारे इस लेख को पढ़ने के बाद ही मिलेगी क्योंकि आज हमारे द्वारा उन लोगों के लिए यह लेख जारी किया जा रहा है। जिन्हें एगमार्क से संबंधित कोई भी जानकारी नहीं है। आज हम आपको अपने इस लेख के अंतर्गत AGMARK KYA HOTA HAI? इसके बारे में संपूर्ण जानकारी बताएंगे।

यह तो सभी लोग जानते हैं कि एगमार्क का संबंध उत्पादों से होता है। एगमार्क से संबंधित आप आए दिन नई नई खबरें पढ़ते रहते होंगे। परंतु शायद एगमार्क की संपूर्ण जानकारी ना होने के कारण आप उनको समझने में सक्षम नहीं होंगे। यही कारण है कि प्रत्येक व्यक्ति को 1 मार्च से संबंधित जानकारी प्राप्त होनी चाहिए ताकि वह अपने आसपास की चीजों से जागरूक रहें। यदि आप जानना चाहते हैं कि एडमार्क क्या होता है? तथा एगमार्क किन उत्पादों को मिलता है? तो हमारे द्वारा आज आपको इस आर्टिकल में Agmark से संबंधित संपूर्ण जानकारी के बारे में विस्तार से बताया जाएगा। इसी के तहत इस आर्टिकल में आपको What is Agmark? Which product gets Agmark? के बारे में जानकारी दी गई है।

Contents show

एगमार्क क्या होता है? (What is the Agmark?)

एगमार्क से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने से पहले आपको यह पता होना जरूरी है, की Agmark kya hota hai? इसीलिए हमारे द्वारा यहां आपको एगमार्क क्या होता है? इसके बारे में बताया जा रहा है। एगमार्क अपने आप में एक शॉर्ट फॉर्म होती है। इसकी फुल फॉर्म “Agriculture marketing” होती है। यह शब्द अधिकतर भारत के कृषि उत्पादों पर लिखा हुआ पाया जाता है। इस शब्द को भारत सरकार की एजेंसी विपणन और निरीक्षण निदेशालय के द्वारा कृषि के सभी उत्पादों की गुणवत्ता को जानने के बाद प्रदान किया गया है। किसी भी उत्पाद पर एगमार्क शब्द से से यह प्रमाणित होता है कि यह उत्पाद कई निर्धारित मानकों पर जांच के पश्चात भी सही पाया गया है।

एगमार्क क्या है? | एगमार्क कैसे मिलता है? | एगमार्क के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

एगमार्क का उपयोग अधिकतर भारत सरकार के द्वारा कृषि करके उगाई जाने वाली खाने-पीने की सभी वस्तुओं पर किया जाता है। इससे आप किसी उत्पाद की गुणवत्ता का अंदाजा लगा सकते हैं। कृषि उत्पाद अधिनियम को 1937 में लागू किया गया था। तथा इसके पश्चात 1987 में इस अधिनियम के अंतर्गत संशोधन किया गया था। एगमार्क मानक का उपयोग लगभग 205 खाने-पीने की चीजों में किया जाता है। इसके अंतर्गत गेहूं, चावल, तेल, सब्जियां, फल और आवश्यक अन्य जरूरी खाद्य पदार्थ आते हैं। यदि आपको इन सभी खाद्य पदार्थ में एगमार्क का निशान दिखाई देता है। तो आपको उस खाद्य पदार्थ की अच्छी गुणवत्ता का प्रमाण मिलता है।

एगमार्क ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन? (Agmark online registration?)

कृषि उत्पादों की एगमार्क गुणवत्ता को प्रमाणित करने हेतु केंद्रीय कृषि व किसान कल्याण मंत्रालय के द्वारा एगमार्क ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन एक सॉफ्टवेयर लॉन्च किया गया है। इस सॉफ्टवेयर को कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह के द्वारा लांच किया गया है। जिसके तहत कृषि उत्पादों का प्रमाणीकरण किया जा सकता है। जो भी पार्टियां अपने जिंसों का श्रेणीकरण एगमार्क के अंतर्गत कराने की इच्छुक हैं। उनको ऐसा करने से पहले प्राधिकरण पत्र प्राप्त करना होगा। उसके तत्पश्चात ही वह एगमार्क ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

आत्मक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने की एक पूरी प्रक्रिया होती है। जिसको अपनाकर ही कोई भी पार्टी अपने जिंसों का आवेदन करने में सक्षम होती है। एक पार्टियों को अपने सभी विहित दस्तावेजों के साथ विहित प्रपत्र में निदेशालय के करीबी कार्यालय के अंतर्गत आवेदन करना होगा। पार्टियों को ऑनलाइन आवेदन करने हेतु अवसंरचना, प्रसंस्करण सुविधाओं, प्रयोगशाला के ब्यौरे तथा अधिप्रमाण प्रमाण पत्र प्राप्त करने होंगे। पार्टियों के द्वारा इसकी अधिकारिक वेबसाइट https://agmarknet.gov.in पर एगमार्क ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया जाता है।

उत्पाद जानने की प्रक्रिया? (Product learning process?)

व्यक्ति को यह पता होना चाहिए कि उत्पाद किस प्रकार का होता है। यदि आपको नहीं पता कि उत्पाद की जानकारी कैसे प्राप्त की जा सकती है? तो हमारे द्वारा यहां आपको उत्पाद जानने की प्रक्रिया के बारे में बताया जा रहा है। एगमार्क एक प्रकार का प्रमाण चिन्ह होता है। जो मूल रूप से खाने पीने की चीजों पर उपस्थित होता है। जिसके द्वारा खाद्य वस्तुओं की शुद्धता प्रमाणित होती है। एगमार्क प्रमाण चिन्ह किसी भी वस्तु की अच्छी गुणवत्ता को प्रमाणित करता है। विश्व व्यापार संगठन के द्वारा कुछ मापदंड तय किए गए हैं। उसी के तहत भारत सरकार के खाद्य मंत्रालय द्वारा यह कार्य किया जाता है।

आपने मार्केट में बहुत खाद्य पदार्थ देखे होंगे। परंतु यदि किसी खाद्य पदार्थ पर आपको एगमार्क का चिन्ह दिखाई देता है। तो दुकानदार को उसकी शुद्धता का प्रमाण नहीं देना पड़ता है क्योंकि वह एगमार्क का निशान उसकी गुणवत्ता और शुद्धता को पूरी तरीके से प्रमाणित करता है। एगमार्क चिन्हित वस्तु अपने आप में गुणवत्तापूर्ण होती है। यही कारण है कि प्रत्येक व्यक्ति को एगमार्क की जानकारी होनी चाहिए। ताकि यदि व्यक्ति एगमार्क चिन्हित वस्तु प्राप्त करता है। तो उसे उस वस्तु के गुणवत्ता और शुद्धता पर भरोसा हो क्योंकि खाद्य मंत्रालय द्वारा इसी उद्देश्य से एगमार्क प्रमाण चिन्ह को लाया गया है।

एगमार्क किन उत्पादों से मिलता है? (Which product gets AGMARK?)

आपके अंदर अवश्य ही यह सवाल उत्पन्न हुआ होगा कि एगमार्क किन उत्पादों को मिलता है? जैसा कि ऊपर बताया गया है कि आपको एग्रीकल्चर मार्केटिंग के नाम से जाना जाता है। जिसके अंतर्गत सभी कृषि उत्पाद शामिल होते हैं। जैसे दालें, अनाज, गेहूं, चावल, तेल, फल, सब्जियां, दूध आदि जब आप मार्केट से इन सभी उत्पादों को खरीदते हैं। तो इन्हीं उत्पादों पर एगमार्क बना होता है।

इसी को देखकर ग्राहकों द्वारा यह निर्धारित कर लिया जाता है कि यह पदार्थ गुणवत्ता में अच्छा होगा क्योंकि एगमार्क के मानक मापदंड से जो खाद्य पदार्थ गुजरता है। तो उसे शुद्ध माना जाता है। एगमार्क चिह्नित खाद्य पदार्थ गुणवत्ता के लिहाज से ज्यादा हुआ होता है। हमें उम्मीद है कि आपको पता चल गया होगा कि खाद्य पदार्थ अर्थात कृषि द्वारा उगाई जाने वाली सभी उत्पादों पर एगमार्क का निशान चिन्हित होता है।

एगमार्क रजिस्ट्रेशन के लिए आवश्यक दस्तावेज? (Documents required for Agmark registration?)

यदि आप एगमार्क रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हैं। तो सरकार द्वारा रजिस्ट्रेशन के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होती है। यदि आपको नहीं पता कि एगमार्क रजिस्ट्रेशन के लिए किन दस्तावेजों की जरूरत होती है। तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि हमारे द्वारा नीचे आपको Documents required for Agmark registration? के बारे में नीचे पॉइंट के माध्यम से जानकारी दी गई है। यह जानकारी निम्न प्रकार है:-

  • एगमार्क अथॉरिटी के द्वारा मान्यता प्राप्त प्रयोगशाला से उत्पाद की जांच की रिपोर्ट अनिवार्य है।
  • कंपनी की स्थापना से संबंधित जरूरी दस्तावेजों की कॉपी।
  • उस उत्पाद का नाम जिसके लिए आवेदनकर्ता एगमार्क मानक प्राप्त करना चाहता है।
  • आवेदनकर्ता का नाम मुख्य तौर पर उल्लेखित होना अनिवार्य है।
  • आवेदन हेतु संस्थान का नाम और निवास प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • उत्पाद की जांच हेतु उत्पाद का सैंपल अनिवार्य है।
  • पिछले वर्ष और वर्तमान वर्ष की उत्पादन क्षमता का विवरण होना चाहिए।
  • पिछले वर्ष का कंपनी टर्नओवर विवरण आवश्यक है।
  • कार्यालय और फैक्टरी का नक्शा होना जरूरी है।
  • कार्यालय में उपस्थित मशीनरी की लिस्ट अनिवार्य है।
  • आवेदनकर्ता के पास आवेदन करने हेतु ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट होना आवश्यक है।
  • हमारे द्वारा ऊपर जिन आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी दी गई है। आवेदनकर्ता को एगमार्क ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन हेतु इन सभी दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।

एगमार्क रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट के लिए कैसे अप्लाई करें? (How to apply for an Agmark registration certificate?)

एगमार्क सर्टिफिकेट उत्पादों की प्रमाणिकता को सुनिश्चित करता है। हमारा भारत कृषि संबंधी सभी उत्पादों का एक बहुत बड़ी मात्रा में निर्यात करता है। ऐसे उत्पाद जिन उत्पादों का निर्यात किया जाता है। इन उत्पादों का वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन के तहत एगमार्क सर्टिफिकेट होना अनिवार्य है।

कृषि संबंधित उत्पादों के घरेलू व्यापार व निर्यात को विपणन और निरीक्षक निदेशालय ने भारत सरकार के कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के अधीन एडमार्ट सर्टिफिकेट स्क्रीम की शुरुआत की है। यह तो आप सभी को ऊपर बताया गया है कि एगमार्क रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट के लिए व्यक्ति को कुछ प्रक्रिया से होकर गुजरना पड़ता है। यदि आपको इस प्रक्रिया की जानकारी नहीं है तो हमारे द्वारा इसकी जानकारी नीचे दी गई है। जो कि निम्न प्रकार है-

  • जो भी व्यक्ति या फिर कोई कंपनी एगमार्क के अंतर्गत कृषि संबंधी किसी भी नोटिफाइड कमोडिटी की ग्रेडिंग एवं सर्टिफिकेट प्राप्त करने की इच्छुक होती है। तो वह अपने जिले के नजदीकी डीएम कार्यालय से संपर्क करने में सक्षम होते हैं।
  • जब आप डीएम कार्यालय मैं पहुंचते हैं तथा एगमार्क रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट की जानकारी प्राप्त करते हैं। तो आपको वहां से एप्लीकेशन फॉर्म एवं आवश्यक दस्तावेजों की लिस्ट आसानी से प्राप्त हो जाती है। इस आवेदन फॉर्म में पूछी  गयी सभी जानकारी आपको ध्यान पूर्वक भरनी होगी। साथ ही साथ जरूरी दस्तावेजों को भी इस आवेदन फॉर्म से अटैच करने होगे।
  • जो भी व्यक्ति या कंपनी ग्रेडिंग एवं सर्टिफिकेट को प्राप्त करने की इच्छा रखती है। उसके पास जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर जैसी किसी मान्यता प्राप्त प्रयोगशाला से उत्पाद की जांच की रिपोर्ट का एक्सेस अथवा खुद की प्रयोगशाला होनी आवश्यक है।
  • स्वीकृत केमिस्ट यह सभी कार्य कच्चे माल व तैयार माल की जांच करने से पहले करेगा। डीएम कार्यालय से कोई अधिकारी सर्टिफाइड ऑर्गेनिक कमोडिटी पर अपना चेक जारी रखेगा।
  • इस प्रकार आप ऊपर दिए गए संपूर्ण प्रक्रिया को ध्यान में रखते हुए एगमार्क रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट के लिए अप्लाई कर सकते हैं।
  • आप इस प्रक्रिया को ऑनलाइन माध्यम से भी पूरा कर सकते हैं। ऑनलाइन माध्यम से इस सर्टिफिकेट के लिए आवेदन करने हेतु आपको एगमार्क की अधिकारिक वेबसाइट https://agmark.gov.in को विजिट कर सकते हैं।

एगमार्क क्या होता है? तथा एगमार्क कैसे मिलता है? इससे संबंधित प्रश्न व उत्तर (FAQs)

Q:-1. एमगमार्क क्या होता है?

Ans:-1. एगमार्क एक प्रकार का प्रमाणित चिन्ह है। जो किसी वस्तु की शुद्धता और अच्छी गुणवत्ता को प्रमाणित करता है। यह एक शॉर्ट फॉर्म है। जिसकी फुल फॉर्म एग्रीकल्चर मार्केटिंग होती है।

Q:-2. एगमार्क का चिन्ह किन उत्पादों को मिलता है?

Ans:-2. एगमार्क का चिन्ह खाद्य पदार्थ उत्पादों जैसे:- दाल, चीनी, गेहूं, चावल, सब्जी और फल आदि के पैकेट पर पाया जाता है। यह निशान कृषि उत्पादों पर मुख्य रूप से पाया जाता है।

Q:-3. उत्पाद जाने की प्रक्रिया क्या होती है?

Ans:-3. जिस उत्पाद पर एगमार्क का चिन्ह पाया जाता है। वह प्रमाणित करता है कि वह पूर्ण रूप से शुद्ध और गुणवत्तापूर्ण है। जिस कारण ग्राहकों को उसका शुद्धता पर पूरा भरोसा होता है।

Q:-4. एगमार्क का आरंभ कब से हुआ था?

Ans:-4. एगमार्क का उपयोग कृषि उत्पाद अधिनियम 1937 के  लागू होने पर किया गया था। इसके तत्पश्चात 1986 में इस अधिनियम में संशोधन किया गया था।

Q:-5. एगमार्क का इस्तेमाल कितने खाद्य पदार्थों पर किया जाता है?

Ans:-5. वर्तमान समय में एगमार्क का इस्तेमाल लगभग 205 खाने पीने की चीजों में किया जाता है। जिसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थ जैसे:- दाल, चावल, चीनी और गेहूं आदि शामिल होते हैं।

Q:-6. एगमार्क सर्टिफिकेट प्राप्त करने हेतु आवश्यक दस्तावेज कौन से होते हैं?

Ans:-6. एगमार्क सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए कुछ जरूरी दस्तावेजों की आवश्यकता होती है। इसकी जानकारी हमारे द्वारा ऊपर विस्तार पूर्वक दी गई है।

निष्कर्ष (Conclusion)

आज हमारे द्वारा आपको इस लेख में AGMARK KYA HOTA HAI? से संबंधित संपूर्ण जानकारी के बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया है। यदि आपको एगमार्क से संबंधित कोई भी जानकारी नहीं है। तो आपको परेशान होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि हमारे द्वारा ऊपर इस लेख में आपको एगमार्क से संबंधित सभी जानकारी दी गई है।

हमें उम्मीद है कि आपके मन में एगमार्क से संबंधित जो भी समस्या होगी। वह अवश्य ही खत्म हो गई होगी। यदि हमारा यह लेख आपको पसंद आया हो तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताइए। साथ ही हमारे इस लेख को अपने जरूरतमंद दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ शेयर करना ना भूले।

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।