सीडीपीओ कैसे बने? | सीडीपीओ बनने के लिए क्या करें? | योग्यता, वेतन और सैलरी

आजकल के युवाओं का ज्यादातर सपना यही होता है। कि वह सरकारी नौकरी करें। हमारे देश में भी सरकारी नौकरी करने की कोई कमी नहीं है। परंतु उसके लिए आपको उस काबिल बनना होगा। कि आपको सरकारी नौकरी दी जाए। आज हम आपको सीडीपीओ कैसे बने? इससे संबंधित संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। यदि आप सरकारी नौकरी करना चाहते हैं और सीडीपीओ बनना चाहते हैं। तो आपके लिए यह जानकारी बहुत महत्वपूर्ण है। इस नौकरी को पाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। तब जाकर आप सीडीपीओ की पोस्ट को प्राप्त कर सकते हैं। आइए जानते हैं इस बेहतरीन पोस्ट के बारे में।

आज आपको हमारे इस लेख में CDPO kon hota hai, CDPO ki full form kya hoti hai, CDPO kaise bante hai, तथा सीडीपीओ बनने के लिए कैसे तैयारी करें? इससे संबंधित संपूर्ण जानकारी आपको मिलेगी। यदि आप भी CDPO बनना चाहते हैं। तो आपको इसकी सारी जानकारी प्राप्त होनी चाहिए। जिससे आप इस पोस्ट को पाने के लिए मेहनत कर सकें। सीडीपीओ की सैलरी कितनी होती है? हम इस बारे में भी आपको बताएंगे। यदि आप सीडीपीओ की संपूर्ण जानकारी जानना चाहते हैं। तो आपको हमारा यह लेख अंत तक पढ़ना होगा

सीडीपीओ क्या होता है? What is CDPO?

सीडीपीओ वह व्यक्ति होता है। जिसे राज्य सरकार द्वारा नियुक्त किया जाता है। इसको 6 वर्ष तक के बच्चों के स्वास्थ्य के लिए और गर्भवती महिलाओं के मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य को ठीक रखने के लिए नियुक्त किया जाता है। यह गर्भवती महिलाओं और बच्चों को पोषण युक्त आवश्यक सुविधाएं प्रदान करता है। जिससे बच्चों को कुपोषण रोग ना हो। साथ ही साथ सीडीपीओ अफसर बनने के लिए राज्य सरकार द्वारा परीक्षा आयोजित की जाती है। उसके बाद सीडीपीओ ऑफिसर को नियुक्त किया जाता है।

सीडीपीओ कैसे बने? | सीडीपीओ बनने के लिए क्या करें? | योग्यता, वेतन और सैलरी

सीडीपीओ ऑफिसर को चाइल्ड डेवलपमेंट प्रोजेक्ट ऑफीसर के नाम से जाना जाता है। इस विभाग के अंतर्गत आप महिला बाल विकास अधिकार के लिए आवेदन करने में सक्षम होते हैं। यह विभाग ग्रामीण क्षेत्रों में महिला एवं बच्चों के विकास हेतु स्थापित हुए हैं। सीडीपीओ ऑफिसर अपने देश के हित के लिए कार्य करता है और उसे आंतरिक रूप से मजबूत कर पूरी सहायता करता है। सीडीपीओ ऑफिस से अपने दम पर सरकारी नौकरी का हकदार होता है।

सीडीपीओ का पूरा नाम | CDPO full form in hindi?

आपके मन में यह सवाल अवश्य आया होगा कि आखिर CDPO की फुल फॉर्म होती क्या है?  तो आज हम आपको CDPO की फुल फॉर्म बताने जा रहे हैं। CDPO को “Child Development Project Officer” कहते है। जिसे हिंदी में “बाल विकास परियोजना अधिकारी” कहा जाता है।

सीडीपीओ ऑफिसर कैसे बने? How to become a CDPO Officer?

सीडीपीओ ऑफिसर बनने के लिए आपको क्या-क्या करना होगा? इसकी जानकारी हमने नीचे दी है। यदि आप सीडीपीओ ऑफिसर बनना चाहते हैं। तो नीचे की संपूर्ण जानकारी आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

1. 12th पास करें।

आपको 12th अपनी पसंदानुसार  विषय से पास करनी होगी। साथ ही यदि आप CDPO बनना चाहते हैं। तो उसे संबंधित विषयों को ही ले। जो आपके लिए आगे मददगार हो। 12th को आप 55% अंक के साथ पास करें। तभी आप आने वाली परीक्षाओं को देने में सक्षम होते हैं।

2. स्नातक की डिग्री पास करें?

12th करने के बाद आपको स्नातक की डिग्री प्राप्त करनी होगी। जिस सब्जेक्ट से आपने 12th किया है। उन्ही subjects से आपको स्नातक की डिग्री प्राप्त करनी होगी। साथ ही graduation में 55% अंक लाना आवश्यक है। ताकि आप सीडीपीओ की होने वाली परीक्षा में अवेदन करने के लिए सक्षम हो। तथा होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल हो।

3. CDPO बनने के लिए PCS की परीक्षा दे?

सीडीपीओ बनने के लिए आपको राज्य सरकार द्वारा आयोजित की जाने वाली पीसीएस परीक्षा में आवेदन करना होगा। इस परीक्षा के द्वारा ही आप सीडीपीओ की पोस्ट को प्राप्त कर सकते हैं। यह परीक्षा तीन चरणों में पूर्ण की जाती है। प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू। दोनों परीक्षाओं में पास होने के बाद आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। जिसमें आपके व्यक्तित्व, व्यवहार और क्षमता को रखा जाता है। जैसे ही आप इंटरव्यू क्लियर कर लेते हैं। वेसे ही आपको सीडीपीओ की पोस्ट पर नियुक्त कर दिया जाता है।सीडीपीओ की परीक्षा तीन चरणों में पूर्ण होती है। इसके बारे में नीचे जानकारी दी गई है। जो निम्न प्रकार है-

1. प्रारंभिक परीक्षा (Prelims Exam)

प्रारंभिक परीक्षा की बात करें। तो इस परीक्षा में आपसे बहु वैकल्पिक प्रश्नों के उत्तर पूछे जाते हैं। प्रीलिम्स परीक्षा में दिए जाने वाले पेपर को पूर्ण करने के लिए आपको 2 घंटे का समय दिया जाता है। राज्य सरकार द्वारा यह परीक्षा आयोजित की जाती है। आपको यह परीक्षा अच्छे नंबरों से पास करनी होती है। जब आप यह एग्जाम दे देते हैं। उसके बाद लगने वाली मेरिट लिस्ट में यदि आपका नाम होता है। तो आप इस परीक्षा को पास कर चुके होते हैं। प्रारंभिक परीक्षा पास करने के बाद ही आप अगली परीक्षा को देने योग्य होते है।

2. मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

जैसे ही आप प्रारंभिक परीक्षा पास कर लेते हैं। आपको एक और परीक्षा देनी होती है। जिसे मुख्य परीक्षा के नाम से जाना जाता है। मुख्य परीक्षा एक लिखित परीक्षा होती है। इसमें आपको क्वेश्चन के आंसर लिखने होते हैं। इस परीक्षा में आपसे गृह विज्ञान, मनोविज्ञान, समाजशास्त्र, श्रम एवं समाज कल्याण से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। इस परीक्षा को पूर्ण रूप से हल करने के लिए आपको 3 घंटे का समय दिया जाता है। आपको इस परीक्षा में भी अच्छे नंबरों से पास होना होता है और लगने वाली मेरिट लिस्ट में आपका नाम आना जरूरी होता है। तभी आप इस परीक्षा को पास कर सकते और अगले चरण की ओर बढ़ सकते हैं।

3. साक्षरता (Interview)

जब कोई विद्यार्थी प्रारंभिक शिक्षा और मुख्य परीक्षा को पास कर लेता है। तो उस व्यक्ति को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। जिसमें कुछ विशेष अधिकारियों की टीम होती है। जिनके द्वारा आपसे कुछ तार्किक समझ के प्रश्न का उत्तर पूछे जाते हैं। जिससे वह आपके व्यवहार, स्वभाव और सोचने की क्षमता रखते हैं और इस चीज का अंदाजा लगाते हैं। कि आप सीडीपीओ बनने के काबिल है या नहीं और उन अधिकारियों द्वारा आपको नंबर दिए जाते हैं। इसके बाद आपका कंप्लीट रिजल्ट आता है और यदि आपने इंटरव्यू पास कर लिया होता है। तो आपको सीडीपीओ की पोस्ट पर नियुक्त कर दिया जाता है।

CDPO बनने के लिए योग्यता क्या होगी? What is the Qualification to become a CDPO?

यदि आप भी बाल विकास परियोजना अधिकारी यानी CDPO की पोस्ट पर नियुक्त होना चाहते हैं। तो आपको इसकी योग्यता के बारे में पता होना आवश्यक है। क्योंकि हर पोस्ट के लिए सरकार द्वारा कोई ना कोई योग्यता रखी जाती है। सीडीपीओ के लिए सरकार द्वारा क्या योग्यता  रखी गई है। इसके बारे में नीचे हमने पॉइंट के माध्यम से आपको बताया है।

  • सीडीपीओ की परीक्षा के लिए आवेदन करने हेतु अभ्यार्थी का किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री प्राप्त करना अनिवार्य है।
  • आवेदन करने वाले अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 37 वर्ष होनी चाहिए। पिछड़ा वर्ग वाले अभ्यार्थियों के लिए आयु में 3 वर्ष छूट दी जाती है। तथा अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग वाले विद्यार्थियों को 5 वर्ष की आयु की छूट दी जाती है।

CDPO की परीक्षा का सिलेबस हिंदी में CDPO Exam Syllabus in hindi

सीडीपीओ की परीक्षा देने वाले अभ्यार्थियों के मन में यह बात अवश्य आई होगी। कि आखिर सीडीपीओ की परीक्षा में कौन से प्रश्न पूछे जाते हैं? और किस विषय से पूछे जाते हैं? इस सिलेबस के माध्यम से आपको सीडीपीओ एग्जाम की तैयारी करने में थोड़ी मदद मिलेगी। सीडीपीओ के मुख्य परीक्षा में आपको हिंदी व्याकरण पर ज्यादा ध्यान देना होगा। साथ ही साथ अपनी जर्नल नॉलेज को भी बढ़ाना होगा।

History, Geography और Polity आदि सब्जेक्ट्स का गहन अध्ययन करना होगा। तभी आप प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा को पास करने में सक्षम हो पाएंगे और इसी से जुड़े प्रश्न व उत्तर जो कि जनरल अवेयरनेस के अंदर आते हैं। उस पर भी ध्यान देना होगा। ताकि आप अपने इंटरव्यू को एक अच्छे नंबरों से पास कर सकें।

CDPO की तैयारी कैसे करें? How to prepare for CDPO?

यदि आप सीडीपीओ ऑफिसर बनना चाहते हैं। तो CDPO की तैयारी कैसे करें? इसके लिए हमने नीचे कुछ टिप्स दी हैं। जिनके माध्यम से आप सीडीपीओ की तैयारी आसानी से कर सकते हैं।

  • सीडीपीओ की अच्छी तैयारी करने के लिए सर्वप्रथम आपको अपना टाइम टेबल बनाना होगा।
  • परीक्षा में पूछे जाने वाले सब्जेक्ट को निर्धारित करें।
  • उन subjects के मुख्य बिंदुओं को निर्धारित करें।
  • परीक्षा के सिलेबस के अलावा न्यूज़पेपर, करंट अफेयर और जनरल अवेयरनेस का भी गहन अध्ययन करें।
  • CDPO की परीक्षा के लिए आपको सबसे ज्यादा हिंदी के व्याकरण पर ध्यान देना होगा।
  • प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी करने के लिए आपको इतिहास, तकनीकी, संविधान, जीव विज्ञान और सामान्य विज्ञान के मुख्य बिंदुओं पर ध्यान देना होगा।
  • समय निकालकर अपने ग्रामीण क्षेत्र के बाल और गर्भवती महिलाओं की मानसिक व शारीरिक स्थिति पर ध्यान दें।
  • अगर समाजशास्त्र आपका वैकल्पिक विषय था। तो आपको उस विषय पर भी ध्यान देना होगा।

बाल विकास परियोजना अधिकारी (CDPO) के कार्य? Work of CDPO?

सीडीपीओ ऑफिसर के बहुत सारे कार्य होते हैं। जो देश के हित के लिए अच्छे होते हैं। आइए जानते हैं CDPO ऑफिसर के कार्य क्या क्या है? जो कि निम्न प्रकार दिए है-

  • बाल विकास परियोजना अधिकारी (CDPO) का मुख्य कार्य देश के बच्चों के स्वास्थ्य के लिए सुविधाएं प्रदान करना होता है।
  • सीडीपीओ का कार्य देश के 6 वर्ष तक के बच्चों के स्वास्थ्य की जानकारी प्राप्त करना होता है।
  • जो बच्चे कुपोषित होते हैंम उन्हें पोषक सामग्री उपलब्ध कराना का कार्य भी सीडीपीओ का होता है।
  • गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की जानकारी रखना सीडीपीओ ऑफिसर की जिम्मेदारी होती है।
  • बच्चों में होने वाले रोग की रोकथाम के लिए उचित सामग्री प्रदान कराना।
  • बच्चों और गर्भवती महिलाओं को अच्छे स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना।

बाल विकास परियोजना अधिकारी (CDPO) का वेतन? Salary of CDPO ?

आप जानते हैं इंसान सरकारी नौकरी इसलिए ही करना चाहता है। क्योंकि उसे प्राइवेट नौकरी से ज्यादा सरकारी नौकरी में तनख्वाह मिलती है। जिससे वह अपना जीवन बहुत खुशहाल तरह बिता सकता है। सीडीपीओ एक सरकारी नौकरी है। इसके अंदर आपको अन्य सरकारी नौकरियों की तरह ही एक अच्छी सैलरी दी जाती है और प्रत्येक वर्ष  सरकार द्वारा यह सैलरी बढ़ती है। इसके अंतर्गत कुछ उच्च स्तर की पोस्ट भी होती है। सातवें वेतन के बाद CDPO की सैलरी ₹50000 प्रति महा होती है। जो समय के साथ साथ बढ़ा दी जाती है।

बाल विकास परियोजना अधिकारी (CDPO) कैसे बनें? इससे संबंधित प्रश्न व उत्तर (FAQs)

Q:- बाल विकास परियोजना अधिकारी किसे कहते हैं?

Ans:- बाल विकास परियोजना अधिकारी वह व्यक्ति होता है। जो देश के बच्चों और गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य संबंधित सुविधा प्रदान करता है।

Q:- बाल विकास परियोजना अधिकारी की परीक्षा कैसे होती है?

Ans:- बाल विकास परियोजना अधिकारी की परीक्षा तीन चरणों में पूर्ण होती है। प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू।

Q:- CDPO की फुल फॉर्म क्या होती है?

Ans:- CDPO की फुल फॉर्म Child Development projector Officer होती है। जिसे हिंदी में बाल विकास परियोजना अधिकारी के नाम से जाना जाता है।

Q:- सीडीपीओ अधिकारी की सैलरी कितनी होती है?

Ans:- सीडीपीओ अधिकारी की सैलरी ₹50000 प्रति माह होती है। जो समय के साथ-साथ बढ़ा दी जाती है।

Q:- सीडीपीओ अधिकारी बनने की तैयारी कैसे करें?

Ans:- सीडीपीओ अधिकारी बनने के लिए कुछ जरूरी बातें हमने ऊपर अपने इस लेख में बताई है। जिनके द्वारा आप सीडीपीओ अधिकारी बनने के लिए एक अच्छी तैयारी कर सकते हैं।

निष्कर्ष:- आज हमने अपने इस आर्टिकल में आपको सीडीपीओ अधिकारी कैसे बने? इससे संबंधित संपूर्ण जानकारी दी है। यदि आप बाल विकास परियोजना अधिकारी बनने के लिए तैयारी कर रहे हैं। तो आप को इस की संपूर्ण जानकारी जैसे:- CDPO कौन होता है? CDPO की फुल फॉर्म क्या होती है? CDPO की योग्यता, कार्य आदि की जानकारी पता होना आवश्यक है।

आज आपको हमारे इस लेख में यह सारी जानकारी मिल गई होगी। यदि आपको  हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई हो तो कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। साथ ही हमारे द्वारा दी गई जानकारी को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले।

Spread the love

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।