कंपनी सेक्रेटरी कौन होता है? | कंपनी सेक्रेटरी कैसे बनें?

आज के नए दौर की बात करें। तो हर नौकरी अपने अपने क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। इसी तरह कंपनी सेक्रेट्री भी एक अहम भूमिका निभाती है। कंपनी सेक्रेटरी का काम अपने बॉस के काम को deal करना होता है। और कंपनी सेक्रेटरी का संबंध कंपनी के बड़े-बड़े पदों जैसे :- सीईओ और मैनेजर डायरेक्टर आदि से होता है। यदि आपको भी व्यापार या कंपनी जैसे क्षेत्र में रुचि है। और आप भी कंपनी सेक्रेटरी की जॉब करना चाहते हैं। आज हम अपने इस आर्टिकल में कंपनी सेक्रेटरी कैसे बने?, (company secretary kaise bane) कंपनी सेक्रेटरी क्या होता है।, कंपनी सेक्रेटरी की योग्यताएं औऱ कंपनी सेक्रेट्री की सैलेरी कितनी होती है। इन सब से संबंधित जानकारी आपको देने वाले हैं।

बहुत सारी जॉब ऐसी होती हैं। जिनमें काम कम करना पड़ता है। और आपको पैसे ज्यादा मिलते हैं। उनमें से एक जॉब company secretary की  है। हमने सिनेमा में company secretary की भूमिका को बहुत बार देखा है। जिसके कारण लोगों के मन में इसकी गलत भावना बन गई है। कंपनी सेक्रेटरी केवल बॉस के काम और बॉस के आगे पीछे घूम कर ही सारे काम नहीं करता है। बल्कि कंपनी सेकेंडरी बोर्ड मेंबर के एडवाइजर के रूप में काम करते हैं। और कंपनी को अलग-अलग परिस्थितियों सुझाव देने का कार्य कंपनी सेक्रेटरी का ही होता है। इसलिए अगर आपके मन में ऐसी धारणा है। कि company secretary की जॉब कैसी होती है। तो हम आपको बता दें। यह जॉब अपने आप में एक अहम भूमिका निभाती है।

कंपनी सेक्रेटरी बनने की पूरी जानकारी

यदि आप भी कोई ऐसी जॉब करना चाहते हैं। जिसमें आप केवल अपनी इच्छा अनुसार काम कर सकें। तो कंपनी सैक्रेट्री कि यह जॉब आपके लिए best है। क्योंकि इसमें आपको ज्यादा कार्य करने की आवश्यकता नहीं होती है। परंतु हां, कंपनी के अच्छे और बुरे वक्त में उसका साथ देने की जिम्मेदारी आप की होती है।

कंपनी सेक्रेटरी कौन होता है  कंपनी सेक्रेटरी क्या कैसे बनें

और कंपनी को गलत decision लेने से रोकने का कार्य भी आप ही करते हैं। साथ ही साथ कंपनी के बड़े-बड़े पदों पर नियुक्त अधिकारियों के साथ अच्छे और बुरे decision पर वार्तालाप भी करते हैं। इसलिए यदि आप जानना चाहते हैं। कि company secretary कैसे बनते हैं? तो आज आप बिल्कुल सही जगह आए हैं। अधिक जानकारी के लिए हमारी इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें।

कंपनी सेक्रेटरी कौन होता है? (Who is a Company Secretary?)

कंपनी में सेक्रेटरी एक प्रबंधक की तरह कार्य करता है। जो कंपनी के बोर्ड मेंबर को विभिन्न परिस्थितियों में सुझाव देता है। निजी कंपनियों में कंपनी सेक्रेटरी का पद बहुत ही ज्यादा सम्मानजनक होता है। हिंदी में कंपनी सेक्रेटरी को कंपनी सचिव कहा जाता है। कंपनी सेक्रेटरी बोर्ड ऑफ मेंबर और कंपनी के बीच संतुलन बनाए रखने का कार्य करता है। साथ ही साथ कंपनी सेक्रेटरी बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के अधीन होता है। कंपनी सेक्रेटरी एक जिम्मेदारी भरी नौकरी है। जिसमें आपके माइंड ऑफ प्रजेंस का पता चलता है। क्योंकि यदि आप मे चीज़ों को समझने की क्षमता नही होंगी। तो आप कंपनी secretary की जॉब कैसे कर पाओगे। mind of presence होने के बाद ही आप कंपनी और उससे जुड़े फैसले को सही ढंग से कर पाते हैं।

कंपनी सेक्रेटरी का मतलब अगर हम सरल भाषा में आपको बताए तो कह सकते हैं। कि कंपनी सेक्रेटरी वह व्यक्ति होता है। जो कंपनी के हर बड़े फैसले में अपनी राय देता है। तथा अपने सुझाव के जरिए कंपनी सेक्रेटरी कंपनी के भविष्य को बदलने में सक्षम होता है। यदि आपको बिजनेस के दांव पर समझना आता है। और आप एक कंपनी को बहुत अच्छे से डील कर सकते हैं। तो आपको कंपनी सेक्रेटरी की जॉब अवश्य करनी चाहिए। कंपनी सेक्रेटरी होना आपकी प्रेजेंस आफ माइंड को दर्शाता है। यदि आप कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए तैयारी शुरू करना चाहते हैं। और आपको इसकी पूरी जानकारी नहीं है। तो इस लेख में आपको कंपनी सेक्रेटरी से जुड़ी सारी जानकारी मिलेगी।

कंपनी सेक्रेटरी का कार्य क्या होता है? (What is the job of a company secretary?)

जैसा कि हमने ऊपर आपको जानकारी दी है। कि कंपनी सेक्रेटरी अपने आप में अहम भूमिका निभाती है। तथा हम कह सकते है कि एक प्रबंधक की तरह कार्य करने वाले व्यक्ति को कंपनी सेक्रेटरी कहते हैं। कंपनी सेक्रेटरी को कंपनी की बहुत से जिम्मेदारियां निभानी पड़ती है। यदि आप कंपनी सेक्रेटरी का कार्य जाना चाहते हैं। तो हमने नीचे विस्तार पूर्वक कंपनी सेक्रेट्री का कार्य बताया है।

  • कंपनी सेक्रेटरी का मुख्य कार्य कंपनी के बोर्ड ऑफ मेंबर, शेयर होल्डर और कंपनी के मालिक को एक साथ जुड़े रहने का कार्य करता है।
  • कंपनी सेक्रेटरी इस बात का ध्यान रखता है। कि कंपनी में हो रहे सारे फैसले कानूनी तौर पर सही है या नहीं और साथ ही कंपनी के सही गलत decision का निरीक्षण करने का कार्य भी कंपनी सेक्रेटरी के द्वारा किया जाता है।
  • सरकार के बनाए गए नियम को ध्यान में रखते हुए कंपनी सेक्रेटरी कंपनी के बोर्ड ऑफ मेंबर और CEO को सुझाव देता है। जिससे कंपनी का विस्तार सफलतापूर्वक हो सके।
  • कंपनी के अंदर मौजूद सभी प्रकार के रिकॉर्ड का रखरखाव कंपनी सेक्रेटरी के द्वारा किया जाता है।

कंपनी सेक्रेटरी कैसे बनें? (How to become a Company Secretary?)

कंपनी सेक्रेटरी के पद की तुलना हम प्रबंधक के पद से क्यों करते हैं। और कंपनी सेक्रेटरी किन विशेष विशेष कार्य को करने में सक्षम होता है। company secretary कंपनी को सफलता की ओर के जाता है। यह सब बात अब आप जान चुके होंगे। आज हम आपको बताएंगे कि Company Secretary kaise bane यदि आप कंपनी सेक्रेटरी बनने की सोच रहे हैं। तो आपके दिल में यह सवाल अवश्य आया होगा। कि आखिर कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए हमें क्या करना चाहिए। तो आइए जानते हैं। कि company सेक्रेटरी बनने के लिए आपको क्या करना होगा।

कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए आपको कंपनी सेक्रेटरी का कोर्स करना होता है। यह कोर्स हर यूनिवर्सिटी और कॉलेज में Available नहीं होता है। कुछ विशेष प्रकार के कॉलेज ही इस course को कराते हैं। जो व्यक्ति कंपनी सेक्रेट्री कोर्स करने के योग्य होता है। वही व्यक्ति 3 साल का कंपनी सेक्रेटरी कोर्स करता है। इसके पश्चात या तो कंपनी कैंपस से आपको सेलेक्ट करके ले जाती है। या फिर आप कंपनी में company secretary की जॉब के लिए डायरेक्ट apply करते हो।

जैसे ही आप सीएस कोर्स में एडमिशन लेते हैं उसके तत्पश्चात आपको परीक्षा के 3 चरणों से होकर गुजरना पड़ेगा

  • Foundation program
  • Executive program
  • Proffessional program

 यदि आप ने स्नातक की डिग्री प्राप्त कर ली है। और उसके पश्चात आप कंपनी सेक्रेटरी का कोई कोर्स करना चाहते हैं। तो आप फाउंडेशन प्रोग्राम वाले चरण को छोड़ सकते हैं। तथा एग्जीक्यूटिव प्रोग्राम और प्रोफेशनल प्रोग्राम का कोर्स कर सकते हैं। परंतु यदि आप 12th के बाद कंपनी सेक्रेटरी का कोर्स करेंगे। तो आपको इन तीन चरणों से होकर गुजरना अनिवार्य है। आपको कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए किन इस steps को फॉलो करना चाहिए। इसके बारे में हममें  नीचे विस्तार पूर्वक आपको जानकारी दी है।

प्रारंभिक शिक्षा पूरी करें।

आपको अपनी 10वीं और 12वीं की कक्षा पास करनी होगी आप अपने 12वीं कक्षा में अपनी इच्छा अनुसार विषय लेकर पढ़ाई कर सकते हैं यह जरूरी नहीं है कि आपको कंपनी सिक्योरिटी बनने के लिए 12th में कोई स्पेशल सब्जेक्ट लेना होगा ट्वेल्थ क्लास को पास करने के बाद आपको क्या करना होगा आइए जानते हैं

कंपनी सेक्रेटरी के कोर्स को करें।

कंपनी प्रकृति के कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको 12th में  50% मार्क्स प्राप्त करने होंगे। जैसे ही आप 12th पास कर लेते हैं। आप को institude of company secretary of india (ICSI) में कंपनी सेक्रेटरी कोर्स के लिए आवेदन करना होगा। इंस्टिट्यूट में हर साल दिसंबर और जून में नए सेशन की शुरुआत होती है फाउंडेशन कोर्स में 4 exam एग्जीक्यूटिव में 7 एग्जाम और प्रोफेशनल प्रोग्राम में आपको 9 एग्जाम देकर यह कोर्स कंप्लीट करना होता है।

यदि बात की जाए कि इन कोर्स की परीक्षा कब आयोजित कराई जाती है। तो हर दिसंबर और सितंबर मैं फाउंडेशन कोर्स की और दिसम्बर और जून में एग्जीक्यूटिव की परीक्षाएं आयोजित होती है। जिन्हें पास करने के बाद आप आगे की पढ़ाई कर सकते हैं। फाउंडेशन एग्जीक्यूटिव और प्रोफेशनल प्रोग्राम यह तीनों 1-1 साल के होते हैं। सरल भाषा में कहें तो यह कह सकते हैं। कि कंपनी सेक्रेटरी का यह कोर्स 3 साल में कंप्लीट होता है।

यदि आपने 12th के बाद ग्रेजुएशन की डिग्री ले ली है। और उसके बाद आप कंपनी सेक्रेटरी की जॉब करना चाहते हैं। तो आपको फाउंडेशन कोर्स की पढ़ाई करने की आवश्यकता नहीं होगी। अन्यथा हम यह कह सकते हैं। कि स्नातक की डिग्री प्राप्त करने के बाद यह कोर्स 2 साल का हो जाता है। course के खत्म होते ही कंपनी आपकी यूनिवर्सिटी में आकर इंटरव्यू लेगी। और उसके बाद आपको सीधा जॉब ऑफर करेगी। इसके अलावा आप directly किसी कंपनी में कंपनी सेक्रेटरी के लिए आवेदन कर सकते हैं। और कंपनी सिक्योरिटी के पद पर रहकर अपने जीवन को सफलतापूर्वक जी सकते है।

कंपनी सेक्रेटरी के लिए योग्यता (Qualification for Company Secretary)

यह बात तो हम सब जानते हैं। कि कोई भी नौकरी करने के लिए हमें सर्वप्रथम उसकी योग्यता के बारे में जानना चाहिए। क्योंकि बिना किसी योग्यता के हमें कोई भी नौकरी नहीं मिल सकती है। तो आइए जानते हैं कि कंपनी सेक्रेटरी बनने के क्या योग्यताएं रखी गई है।

  • कंपनी सेक्रेटरी के लिए सर्वप्रथम योग्यता 12th पास मांगी गई है। यानी आपको अपनी प्रारंभिक शिक्षा 10th और 12th करना होगा। आप 12th किसी भी stream से और किसी भी कॉलेज से कर सकते हैं।
  • 12th करने के बाद आपको कंपनी सेक्रेटरी का कोर्स करना होगा। और उसकी परीक्षाओं को अच्छे नंबरों से पास करना होगा।
  • यदि आपने 12th  करने के बाद ग्रेजुएशन कर लिया है। और कंपनी सेक्रेटरी का कोर्स नहीं किया है। तथा आप company secretary बनना चाहते है। तब भी आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। क्योंकि 12th के बाद यह company secretary कोर्स 2 साल का हो जाता है।
  • इसके अंतर्गत आने वाले तीन चरणों जैसे:- फाउंडेशन, executive और प्रोफेशनल प्रोग्राम में होने वाली परीक्षा में कम से कम 50% नंबर प्राप्त करने होंगे।
  • जब आप फाउंडेशन वाले चरण की परीक्षाओं को पास करेंगे। उसके तत्पश्चात ही आपको एग्जीक्यूटिव और प्रोफेशनल प्रोग्राम की परीक्षाओं के लिए योग्य माना जाएगा।

इस कोर्स को करने के बाद कोई भी व्यक्ति कंपनी में एसोसिएटेड कंपनी सेक्रेटरी बनने के योग्य हो जाता है। और इस पद पर ही वह कंपनी सेक्रेटरी का अनुभव प्राप्त करता है। और कुछ समय बाद कंपनी में secretary के पद पर कार्यरत हो जाता है।

कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए एग्जाम (exam to become company secretary)

यह तो आप जानते हैं।  कि कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए आपको CS की पढ़ाई करनी पड़ती है। जो कि विशेष विशेष कॉलेजों और यूनिवर्सिटी में कराई जाती है। यह पढ़ाई आपको तीन चरण में कंप्लीट करवाई जाती है। आप यह कह सकते हैं। कि यह कोर्स 3 बार परीक्षा देने पर समाप्त होता है। या फिर आपको तीन बार परीक्षा देने के बाद जॉब मिलती है। आपको यह परीक्षा कैसी देनी है। साथ ही इन परीक्षाओं में किस विषय से सवाल पूछे जाते हैं। इनकी संपूर्ण जानकारी हमें नीचे दी है। तीनो चरण की परीक्षा निम्न प्रकार है।

Foundation program (4 papers)

यह चरण छात्रों के लिए रखा गया है जो छात्र 12th करने के डायरेक्ट बाद कंपनी सेक्रेटरी का कोर्स करते हैं। क्योंकि उन्हें इस फाउंडेशन प्रोग्राम में यह सिखाया जाता है कि आखिर कंपनी सेक्रेटरी क्या होता है इसकी जरूरत कंपनी को क्यों पड़ती है और कंपनी सेक्रेटरी के कौन-कौन से कार्य होते हैं हम कह सकते हैं कि इस फाउंडेशन प्रोग्राम में कंपनी सेक्रेटरी बनने के पहले कदम का आगाज होता है।

  • Business management, Ethics, Laws and Communication
  • Fundamentals of Accounting and Auditing
  • Business Environment & Entrepreneurship
  • Business Economics

Executive Program (7 paper)

इस प्रोग्राम में आपको प्रैक्टिकल नॉलेज दी जाती है। और उसके बाद आपसे 7 परीक्षाएं ली जाती हैं। इसके बाद आपकी पढ़ाई का सबसे अहम phase शुरू होता है। इसके अंतर्गत आने वाली सभी विषयों को modules  के आधार पर विभाजित किया गया है। जिन्हें आप को ध्यान पूर्वक पढ़के अपनी इन 7 परीक्षाओं को पास करना होता है।

     Module – l

  • Tax Laws and Practice
  • Cost and management Accounting
  • Company laws
  • Economic and commercial laws

   Module – ll

  • Industrial, labour and general Laws
  • Capital markets and securities laws
  • Company Accounts and Auditing practises

Professional program (9 paper)

इसमें आपको 9 पेपर के बारे में पढ़ाया जाता है। इसके पश्चात आप 9 पेपर देते हैं। यह आपके course का अंतिम चरण है। इस चरण में आपको practical पढ़ाई कराई जाती है। जिससे आप प्रोफेशनल तौर पर कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए तैयार होते हैं। और जैसे ही आपके प्रोफेशनल प्रोग्राम के एग्जाम खत्म होते हैं। तथा आप इन्हें अच्छे नंबरों से पास कर लेते हैं। आपको किसी भी कंपनी में Associated Company Secretary की जॉब मिल जाती है।

     Module – l

  • Secretarial Audit, Due Diligence and Compliance Management
  • Advanced company law and practice
  • Corporate Restructuring, Valuation and insolvency

     Module – ll

  • Ethics, governance and Sustainability
  •  Information technology and Systems Audit
  • Financial, Treasury and forex management

     Module – lll

  • Banking law and practice
  • Insurance law and practice
  • Capital, commodity and money market
  • Intellectual Business – Laws and practises
  • Intellectual property Rights – laws and practice
  • Advanced tax laws and practice
  • Drafting, Appearances and pleadings
  •  Electives

ऊपर हमने इन सभी सब्जेक्ट की जानकारी आपको इसलिए दी है। क्योंकि आपके 3 साल के कंपनी सेक्रेटरी कोर्स में इन सारे सब्जेक्ट की पढ़ाई आपको कराई जाती है। और साथ ही आपको कंपनी के सेक्रेटरी के लिए परफेक्ट बनाया जाता है। इन सभी सब्जेक्ट को पढ़कर आपके अंदर कंपनी के सही और गलत डिसीजन को समझने की सूझ- बुझ आती है। सबसे पहले आपको फाउंडेशन कोर्स की परीक्षा पास करनी होती है। उसके ही बात आप इस executive प्रोग्राम की परीक्षा में बैठ पाएंगे। और जैसे ही आप executive प्रोग्राम की परीक्षाओं को पास करेंगे। आप प्रोफेशनल प्रोग्राम में अपनी पढ़ाई पूरी कर पाएंगे।

जैसे ही आप प्रोफेशनल प्रोग्राम में उपस्थित सारे सब्जेक्ट को अच्छे से पढ़ लेते है। और उसकी परीक्षाओं में अच्छे नंबरों से उत्तरीण हो जाते है। उसके बाद आपके कॉलेज में प्लेसमेंट के तौर पर कंपनियां आकर आपका इंटरव्यू लेना शुरू करती है। और सेलेक्ट करके आपको कंपनी में एसोसिएटेड कंपनी सेक्रेटरी के पद पर नौकरी करने का अवसर देती है। जैसे-जैसे आप Associated Company secretary के पद पर अनुभव प्राप्त करेंगे। वैसे ही आपको कंपनी का सेक्रेटरी भी नियुक्त कर दिया जाएगा। अनुभव के ऊपर आपकी सैलरी और पद दोनों को ही प्रमोट कर दिया जाता है। यदि आपके कॉलेज में प्लेसमेंट की व्यवस्था नहीं होती है। तो आप डायरेक्ट जाकर भी अपनी नौकरी के लिए किसी कंपनी में आवेदन कर सकते हैं।

कंपनी सेक्रेटरीके एग्जाम में कैसे आवेदन कैसे करें? | How to apply for company secretary exam

जैसा कि हमने आपको बताया है। कि कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए आपको सीएस का कोर्स करना होता है। इसके अलावा आपको इसके लिए कुछ नहीं करना होता है। परंतु कंपनी आपसे इंटरव्यू लेती है। आपके presence of mind  और आपके व्यक्तित्व का निरीक्षण करने के लिए कंपनी के सीईओ के द्वारा आपका इंटरव्यू लिया जाता है।

इसकेससS लिए आपको अलग से कोई भी परीक्षा पास नहीं करनी होती है। केवल आपके CS कोर्स की जितनी परीक्षाएं होती हैं। आपको उन्हीं को अच्छे नंबरों से पास करना होता है। साथ ही अपने व्यक्तित्व को ऐसा बनाना होता है। कि इंटरव्यू लेने वाला व्यक्ति आप से प्रभावित होकर आपको नौकरी देने पर विवश हो जाए। कंपनी डायरेक्ट इंटरव्यू लेकर आपको Associated company secretary के पद पर नियुक्त करते हैं।

अगर हम बात करे foundation और executive program की परीक्षाओ की तो इन्हें आमतौर पर CS की परीक्षा के नाम से जाना जाता है। इन परीक्षाओं के लिए या इस course को करने के लिए आपको क्या करना चाहिए।  इसके लिए हमने नीचे कुछ विशेष निर्देश दिए हैं। जिन्हें अपनाकर आप इस course को आसानी से कर सकते है।

  • सबसे पहले आपको Institute of Company secretary of India (ICSI) की अधिकारी वेबसाइट पर जाकर कंपनी सेक्रेटरी (CS) कोर्स के लिए आवेदन करना होगा।
  • यदि आपने 12th करने के बाद सीधे कंपनी सेक्रेटरी के कोर्स के लिए आवेदन किया है। तो आपको 3 साल के कोर्स को करना होगा। जिसके अंतर्गत फाउंडेशन प्रोग्राम, एग्जीक्यूटिव प्रोग्राम और साथ ही साथ प्रोफेशनल प्रोग्राम की परीक्षाएं देना आपके लिए अनिवार्य होगा।
  • परंतु यदि आप ने स्नातक डिग्री प्राप्त करने के बाद कंपनी सेक्रेटरी के कोर्स के लिए अप्लाई किया है। तो आप का यह कोर्स 2 साल का होगा। और आप एक साल के भीतर एग्जीक्यूटिव प्रोग्राम की परीक्षाएं देंगे। जिसमे आपको 7 पेपर पास करने होंगे। और उसके बाद आप प्रोफेशनल प्रोग्राम की पढ़ाई को करेंगे।
  • प्रोफेशनल प्रोग्राम में आपकी ट्रेनिंग होती है। जिसके द्वारा आपको कंपनी सेक्रेटरी के कार्य को समझाया जाता है। और प्रैक्टिकल तौर पर आपको बताया जाता है। कि कंपनी सेक्रेटरी किस तरह काम करता है। जैसे ही आप प्रोफेशनल कोर्स की परीक्षाओं को पास कर लेते हैं। आप किसी भी कंपनी में एसोसिएट कंपनी सेक्रेटरी के पद पर कार्यरत हो सकते हैं।

कंपनी सेक्रेटरी के कोर्स के लिए आवेदन कैसे करें? | How to apply for Company Secretary course?

हमने ऊपर आपको बताया है। कि आपको company secretary (CS) कोर्स करने के लिए क्या-क्या करना चाहिए। परंतु आपके मन में इस बात से एक सवाल अवश्य उठा होगा। कि CS के कोर्स के लिए हम आवेदन कैसे करें? तो आइए हम आपको इस बात की जानकारी देते हैं। कि आप (CS) के कोर्स के लिए आवेदन कैसे कर सकते हैं। यह जानकारी हमने नीचे step by step दे रखी है। आप इन स्टेप्स को फॉलो करके कंपनी सेक्रेटरी के कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं।

Step -1.  सबसे पहले आपको की Institute of Company Secretary (ICSI) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर कंपनी सेक्रेटरी के फॉर्म को फिल करना होगा।

Step -2.  इस फोन में आप को सबसे ज्यादा ध्यान पूर्वक अपने फोटो और सिग्नेचर को अपलोड करना होगा। इसमें किसी प्रकार की कोई भी गड़बड़ नहीं होनी चाहिए।

Step -3. इसके पश्चात आपको 12th का रोल नंबर, मार्कशीट और बोर्ड फॉर्म में ध्यानपूर्वक भरना होगा। यदि आप यही form स्नातक डिग्री प्राप्त करने के बाद भर रहे हैं। तो आपको 12th की मार्कशीट के स्थान पर स्नातक डिग्री का रोल नंबर और मार्कशीट अपलोड करनी होगी।

Step -4. इन सब Documents के अपलोड करने के बाद आपको अपना बर्थ सर्टिफिकेट, मेडिकल सर्टिफिकेट और कास्ट सर्टिफिकेट अपलोड करना होगा।

Step -5.  इन सब डॉक्यूमेंट के अपलोड करने के तत्पश्चात आपको कुछ जनरल इनफार्मेशन फॉर्म में फिल करनी होगी। और अपने फॉर्म को CS कोर्स के लिए अप्लाई कर देना होगा। इस तरह से आप अपने company secretary कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं।

ऊपर दिए गए इन सभी steps को फॉलो करके आप कंपनी सेक्रेटरी के कोर्स के साथ जुड़ सकते हैं। और अपनी पढ़ाई को continue कर सकते हैं। साथ ही साथ आप तीनों चरणों की परीक्षा देने के लिए Able हो जाएंगे। इस course को करने के पश्चात आप किसी भी कंपनी में secretary की जॉब कर सकते हैं। कंपनी सेक्रेटरी की जॉब कंपनी के लिए एक बहुत अहम जॉब होती है। क्योंकि कंपनी को secretary सही दिशा दिखाता है।

कंपनी सेक्रेटरी एग्जाम फीस (company secretary exam fee)

अगर कंपनी सेक्रेटरी के कोर्स  की फीस की बात करें। तो यह बहुत ज्यादा महंगी नहीं होती है। यह कोर्स एक साधारण आम आदमी आसानी से कर सकता है। परंतु  यह कोर्स 3 साल का होता है। इसलिए हर साल इस कोर्स की फीस भरी जाती है। लेकिन यह fees जमा करना अधिक कठिन नहीं है। यदि आप इसकी इस मामूली fees के बारे में जानना चाहते हैं। तो नीचे दी गई जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

  • Foundation program की पढ़ाई के लिए ₹1200/-
  • Executive program की पढ़ाई के लिए ₹1200/-
  • Foundation program की पढ़ाई के लिए ₹1200/-

आपको परीक्षा होने से पहले अपना रजिस्ट्रेशन और एग्जाम की fees जमा करनी होती है। फाउंडेशन प्रोग्राम की परीक्षा हर वर्ष सितंबर और दिसंबर में आयोजित की जाती है। और executive प्रोग्राम की परीक्षाएं का आयोजन जून और अगस्त में होता है। इससे 15 दिन पहले आपके रजिस्ट्रेशन फॉर्म ICSI की आधिकारिक वेबसाइट पर Available हो जाते हैं। जहां आपको अपने रजिस्ट्रेशन करना होता है। और आप जिस चरण के भी एग्जाम देते हैं। उस चरण की पूरी fees का भी भुगतान भी आपको रजिस्ट्रेशन के समय करना होता है।

Company secretary कोर्स को हम company के सेक्रेटरी बनने के लिए करते हैं। यह 3 साल का कोर्स होता है।  जिसमें आप को न्यूनतम 40% अंक लाने होते हैं। और हर प्रोग्राम में आपको कम से कम 50% अंक लाना अनिवार्य है। क्योंकि 50% अंक लाने पर ही आपको उस प्रोग्राम में पास घोषित किया जाएगा। इसके पश्चात ही आप दूसरे प्रोग्राम की पढ़ाई शुरू कर पाएंगे। इसी तरह 3 वर्ष तक आपको यह सारी प्रक्रिया अपनानी है। इसके पश्चात आप किसी भी कंपनी में कंपनी सेक्रेटरी की जॉब कर सकते हैं।

कंपनी सेक्रेटरी की सैलरी कितनी होती है? (What is the salary of company secretary)

कंपनी सेक्रेटरी की सैलरी इस बात पर आधारित होती है। कि वह किस कंपनी के साथ कार्य कर रहा है। यानी अगर सरल भाषा में बताएं। तो यदि आप किसी बड़ी कंपनी के साथ कार्य कर रहे है। तो आपकी सैलेरी अधिक होगी। वहीं दूसरी तरफ यदि आप छोटी कंपनी के साथ कार्य करेंगे। तो उसकी सैलरी कम होगी। यदि आप भारत के कुछ बड़ी कंपनियों के साथ कार्य करते हैं। तो आपकी सैलरी ₹30,000 प्रतिमहा से ₹40000 प्रतिमाह तक हो सकती है।

शुरुआत में जब आप कंपनी में एसोसिएट कंपनी सेक्रेटरी के पद पर काम करते हैं। तब आपकी सैलरी ₹30,000 प्रतिमाह से ₹40000 प्रतिमाह ही रहती है। परंतु जैसे-जैसे आप अपने काम मे अनुभव प्राप्त करते हैं। और कंपनी को सफलता के रास्ते पर ले जाते हैं। तो आपको कंपनी के द्वारा सेक्रेटरी के पद पर नियुक्त कर दिया जाता है। साथ आपकी सैलरी बढ़कर एक लाख तक भी हो सकती है।

कंपनी सेक्रेटरी कैसे बने से संबंधित प्रश्न व उत्तर (FAQs)

 Q:- कंपनी सेक्रेटरी क्या होता है?

Ans:- कंपनी सेक्रेट्री कंपनी का एक अहम पद होता है। जो कंपनी कंपनी के मालिक, सीईओ और बोर्ड ऑफ मेंबर को एक साथ जोड़े रखने का कार्य करता है। और साथ ही साथ कंपनी में लिए जाने वाले सभी बड़े और छोटे decision पर अपना सुझाव देता है।

Q:- कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए क्या करना पड़ता है?

Ans:- कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए आपको 12th करने के पश्चात कंपनी सेक्रेटरी का कोर्स करना पड़ता है। जो कि 3 वर्ष का होता है।

Q:- कंपनी सेक्रेटरी की तनख्वाह कितनी होती है?

Ans:- कंपनी सेक्रेटरी की तनख्वाह ₹30,000 प्रतिमहा से ₹40000 प्रतिमाह तक हो सकती है। साथ ही साथ जैसे-जैसे आप का अनुभव बढ़ता जाएगा। वैसे वैसे ही आपकी सैलरी भी बढ़ती जाएगी।

Q:- कंपनी सेक्रेटरी के लिए कौन सी परीक्षा पास करनी होती है?

Ans:- कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए स्पेशल किसी भी परीक्षा को पास नहीं  करना पड़ता। केवल कंपनी सेक्रेट्री कोर्स की परीक्षाओं को ही पास करके आप secretary के पद पर कार्यरत हो सकते हैं। परंतु कंपनी के द्वारा आपके व्यक्तित्व को देखा जाता है। इसलिए कंपनी के CEO आपका इंटरव्यू लेते हैं।

Q:- कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए हम CS कोर्स का आवेदन कैसे करें?

Ans:- कंपनी सेक्रेटरी के कोर्स का आवेदन ICSI की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर कर सकते हैं।

निष्कर्ष:- आज हमने आपको अपने इस आर्टिकल में company secretary kaise bane?, कंपनी सेक्रेटरी की योग्यताएं क्या होती है,  कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए कोर्स और कंपनी सेक्रेटरी की सैलरी कितनी होती है। इससे संबंधित सारी जानकारी दे दी है। हमें उम्मीद है आपके अंदर जितने जो सवाल कंपनी सेक्रेटरी कैसे बने? इस topic से उठ रहे होंगे। वह सारे खत्म हो चुके होंगे।  यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई हो। तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताइए। और जिन दोस्तों को इस इंफॉर्मेशन की आवश्यकता है। उनके साथ इस आर्टिकल को जरूर शेयर करें।

Main Points

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।