पॉलिटेक्निक कोर्स क्या है? | पॉलिटेक्निक कोर्स कैसे करें?

स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के पश्चात प्रत्येक छात्र किसी ऐसे कोर्स का चुनाव करता है, जिससे पढ़ाई करके में भविष्य में एक अच्छी नौकरी प्राप्त करके एक बेहतर जीवन यापन कर सके। पॉलिटेक्निक एक ऐसा कोर्स है जो बहुत अधिक प्रज्ज्वलित है और अधिकतर स्टूडेंट्स 12th के बाद Polytechnic Course को ही Choose करते है।

लेकिन उनके मन मे पॉलिटेक्निक कोर्स से जुड़े आते हैं, जैसे- पॉलिटेक्निक कोर्स क्या है? पॉलिटेक्निक करने के बाद नौकरी कैसे प्राप्त कर सकते हैं? पॉलिटेक्निक कोर्स में क्या-क्या पढ़ाया जाता है? आदि। जिनका जवाब ना मिलने के कारण अधिकतर छात्र पॉलिटेक्निक कोर्स में Admission तो ले लेते हैं। लेकिन बीच में ही छोड़ देते हैं।

इसलिए हमने सोचा क्यों ना आज हम अपने blog post के माध्यम से पॉलिटेक्निक क्या है? से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएं। ताकि छात्रों को पॉलिटेक्निक कोर्स करने में कोई भी समस्या का सामना ना करना पड़े। तो आपका ज्यादा समय बर्बाद ना करते हुए चलिए शुरू करते हैं- 

पॉलिटेक्निक क्या है? | What is Polytechnic Course

पॉलिटेक्निक कोर्स क्या है

पॉलिटेक्निक एक बहुत ही पॉपुलर टेक्निकल डिप्लोमा कोर्स है जो 3 वर्ष का होता है। इस कोर्स में कई ब्रांच के होते हैं जिन्हें आप अपने हिसाब से चुनकर पढ़ाई कर सकते हैं। इसे आप अपनी 10वीं या 12वीं की पढ़ाई पूरा करने के बाद कर सकते हैं। पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करने के पश्चात आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग सिविल इंजीनियरिंग या फिर अन्य इंजीनियरिंग फील्ड में आसानी से जॉब प्राप्त कर सकते हैं। यह कोर्स 3 वर्ष का होता है।

इतना ही नहीं अगर आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग से पॉलिटेक्निक का डिप्लोमा करते हैं और आप आगे बीटेक करना चाहते हैं। तो पॉलिटेक्निक करने के पश्चात आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग बीटेक के सेकंड ईयर में डायरेक्ट एडमिशन ले सकेंगे। बहुत से ऐसे गवर्नमेंट और प्राइवेट कॉलेज हैं जो छात्रों को पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए आमंत्रित करते हैं।

पीसीएस ऑफिसर कैसे बने? | योग्यता, सैलरी | तैयारी कैसे करें?

यदि आप गवर्नमेंट कॉलेज में पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए एडमिशन लेना चाहते हैं तो आपको CET एंट्रेंस एग्जाम देना होगा। एंट्रेंस एग्जाम में अगर आप हाई रैंक प्राप्त करते हैं तो आपको गवर्नमेंट कॉलेज में पॉलिटेक्निक कोर्स करने के लिए अनुमति प्रदान की जाएगी अन्यथा आपको किसी भी प्राइवेट कॉलेज से ही पॉलिटेक्निक करनी होगी।

पॉलिटेक्निक कोर्स करने के लिए योग्यताएं

पॉलिटेक्निक एक बहुत ही पॉपुलर कोर्स है। जिसमें एडमिशन लेने के लिए छात्र के पास कुछ योग्यताएं होनी बेहद आवश्यक हैं। पॉलिटेक्निक के लिए निर्धारित की गई योग्यताएं निम्नलिखित प्रकार से नीचे दी गई हैं-

  • पॉलिटेक्निक कोर्स में एडमिशन लेने वाले छात्र का 10वीं या 12वीं कक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।
  • इस कोर्स में एडमिशन लेकर अपना करियर बनाने के लिए आपको अपने दसवीं कक्षा 12वीं कक्षा को आप को न्यूनतम 40% अंकों के साथ उत्तीर्ण करना होगा।
  • आप पॉलिटेक्निक कोर्स में एडमिशन तभी ले सकते हैं जब आपने मैथ इंग्लिश साइंस के साथ 10वीं या 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की होगी।

12वीं के बाद पॉलिटेक्निक कोर्स कैसे करे?

वैसे तो कोई भी छात्र जिसने मैथ साइंस और इंग्लिश के 12th किया है वह पॉलिटेक्निक में एडमिशन ले सकता है लेकिन सही मायने में पॉलिटेक्निक कोर्स करने का लाभ तभी है जब इसे दसवीं के बाद किया जाए क्योंकि दसवीं के बाद पॉलिटेक्निक की प्रवेश परीक्षा को क्लियर करना आसान होता है। क्योंकि इसमें दूसरे स्तर के प्रश्न पूछे जाते हैं। प्रत्येक वर्ष अलग-अलग राज्यों में पॉलिटेक्निक के लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित यह जाते हैं। जिन्हें क्वालीफाई करके कोई भी छात्र सरकारी स्कूल में एडमिशन प्राप्त कर सकता है।

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करने के फायदे

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करने के पश्चात स्टूडेंट्स आगे चलकर एक अच्छी नौकरी तो प्राप्त कर ही सकते हैं। इसके अतिरिक्त भी उन्हें कई लाभ प्राप्त होते हैं जो इस प्रकार से नीचे बताए गए हैं-

  • पॉलिटेक्निक करने के बाद आपको टेक्निकल सर्टिफिकेट प्राप्त होगा इस सर्टिफिकेट के आधार पर आप तुरंत जॉब प्राप्त कर सकते हैं।
  • पॉलिटेक्निक कोर्स करने के पश्चात आप जूनियर इंजीनियर, लोको पायलट, टेक्निकल असिस्टेंट आदि कई सरकारी करें के लिए अप्लाई कर सकते हैं।
  • यदि आप इस कोर्स को दसवीं के बाद करते हैं तो यह कोर्स इंटरमीडिएट के बराबर माना जाता है।
  • इस तरह इंटरमीडिएट के छात्र सरकारी जॉब प्राप्त करने के लिए अप्लाई कर सकते हैं उसी प्रकार आप भी इस डिप्लोमा कोर्स को करने के उपरांत सरकारी नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते है।
  • पॉलिटेक्निक कोर्स करने के पश्चात आपको 12th करने की आवश्यकता नहीं होगी। 
  • अगर आपने पॉलिटेक्निक कोर्स कर लिया है और आप भी टाइप करना चाहते हैं तो आप सीधा बीटेक सेकंड ईयर में एडमिशन ले सकते हैं।

पॉलिटेक्निक कोर्स के अंतर्गत आने वाली ब्रांच

इस डिप्लोमा कोर्स के अंतर्गत कई ब्रांच सम्मिलित की गई हैं ताकि छात्र अपने इंटरेस्ट की ब्रांच को चुनकर बेहतर तरीके से शिक्षा प्राप्त कर सके और अपना कैरियर बना सके। यह ब्रांच निम्नलिखित प्रकार से हैं-

  • केमिकल इंजीनियरिंग
  • सिविल इंजीनियरिंग
  • पब्लिक हेल्थ एंड एनवायरमेंट इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • कंप्यूटर इंजीनियरिंग
  • फैशन डिजाइनिंग
  • गारमेंट फेब्रिकेशन टेक्नोलॉजी
  • इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी इनेबल सर्विस एंड मैनेजमेंट
  • मेडिकल लैबोरेट्री टेक्नोलॉजी
  • ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग आदि।

पॉलिटेक्निक कोर्स अवधि 

पॉलिटेक्निक कोर्स 3 वर्ष का कोर्स होता है जिसमें इंजीनियरिंग से जुड़े सभी विषयों के बारे में गहन अध्ययन कराया जाता है। इसके अतिरिक्त कई सारे प्रैक्टिकल भी कराए जाते हैं ताकि छात्रों को बेहतर तरीके से टेक्निकल नॉलेज मिल सके। इस कोर्स को करने के पश्चात आप टेक्निकल क्षेत्र में बिना किसी समस्या के जॉब प्राप्त कर सकते हैं।

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स की फीस

अलग-अलग राज्यों में कई गवर्नमेंट और प्राइवेट पॉलिटेक्निक कॉलेज हैं अगर आप एक गवर्नमेंट कॉलेज में एडमिशन लेते हैं तो आपको पॉलिटेक्निक डिप्लोमा प्राप्त करने के लिए ₹10000 से लेकर ₹15000 तक खर्च करने पड़ सकते हैं। वहीं अगर आप किसी प्राइवेट पॉलिटेक्निक कॉलेज से पॉलिटेक्निक कोर्स करते हैं तो इसकी फीस लगभग ₹35000 से ₹50000 के बीच होती है। इसीलिए आप पॉलिटेक्निक में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम देकर गवर्नमेंट कॉलेज प्राप्त करने का प्रयास करें।

भारत के सबसे बेस्ट पॉलिटेक्निक यूनिवर्सिटी 

भारत एक विशाल देश है जहां कई सारे  कॉलेज और इंस्टीट्यूट है जो छात्र को पॉलिटेक्निक से डिप्लोमा करवाते हैं नीचे हमने भारत के सबसे बेस्ट कॉलेज के नाम दिए हैं जिनसे पॉलिटेक्निक करके आप अपना कैरियर बना सकते हैं जो कुछ इस प्रकार हैं- 

  • गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक, मुंबई
  • एस एच जोंधले पॉलिटेक्निक, थाणे
  • वी. पी. एम. पॉलिटेक्निक, ठाणे
  • विवेकानंद एजुकेशन सोसायटी पॉलिटेक्निक, मुंबई
  • आदेश पॉलिटेक्निक कॉलेज, मुक्तसर
  • अंजुमन पॉलिटेक्निक, नागपुर
  • छोटू राम पॉलिटेक्निक, रोहतक
  • अभिपरसक्ति पॉलिटेक्निक कॉलेज,कांचीपुरम
  • मेई पॉलिटेक्निक, बेंगलुरु

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन कैसे लें?

अगर अभी आप स्कूल की पढ़ाई कर रहे हैं और आप आगे चलकर पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करके इंजीनियरिंग फील्ड में जॉब करना चाहते हैं तो आप नीचे बताए गए तरीकों को अपनाकर पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं-

दसवीं कक्षा पास करें।

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करने के लिए सबसे पहले आपको मैथ इंग्लिश और साइंस 3 सब्जेक्ट पर अधिक ध्यान देते हुए दसवीं की कक्षा पास करनी है। कोशिश करें कि आप मैथ इंग्लिश और साइंस में अधिक नंबर लाए क्योंकि पॉलिटेक्निक एंट्रेंस एग्जाम में इन तीनों विषयों के आधार पर ही ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे जाते हैं। अगर आप पहले से ही इन विषयों पर ध्यान देंगे तो आप बिना किसी समस्या के पॉलिटेक्निक एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करके गवर्नमेंट कॉलेज प्राप्त कर सकेंगे।

पॉलिटेक्निक एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करें।

जो छात्र बेस्ट पॉलिटेक्निक कॉलेज से पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं वह अपनी दसवीं की कक्षा अप्रैल करने के पश्चात सीईटी एग्जाम के लिए आवेदन करें इस परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करके आप सबसे बेस्ट कॉलेज में एडमिशन ले सकेंगे। इसीलिए आपको एंट्रेंस एग्जाम में अच्छी रैंक प्राप्त करनी है जिसके लिए आपको थोड़ी मेहनत करनी होगी।

काउंसलिंग के लिए अप्लाई करके बेस्ट कॉलेज का चुनाव करें।

पॉलिटेक्निक एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के पश्चात आपको काउंसलिंग के लिए अप्लाई करना होगा यह एक ऐसी ऑनलाइन प्रक्रिया है जिसमें आपको कॉलेज चुनने की आजादी की जाती है आप अपने हिसाब से किसी भी क्षेत्र के बेस्ट पॉलिटेक्निक कॉलेज का चुनाव करके उस में एडमिशन ले सकते हैं। लेकिन अगर आपने पॉलिटेक्निक एंट्रेंस एग्जाम में अच्छे अंक हासिल किए हैं तो आप केवल गवर्नमेंट कॉलेज का ही चुनाव करें।

पॉलिटेक्निक कोर्स की पढ़ाई

कॉलेज का चुनाव करने के पश्चात आप उस कॉलेज में जाकर पॉलिटेक्निक की पढ़ाई करके डिप्लोमा हासिल कर लें और इंटर्नशिप के लिए अप्लाई करें इंटर्नशिप कंप्लीट होने के पश्चात आप आसानी से जॉब प्राप्त करने के योग्य होंगे।

पॉलिटेक्निक करने के पश्चात सैलरी

यदि आप पॉलिटेक्निक कोर्स करने के दौरान बेहतरीन परफॉर्मेंस दिखाते हैं तो आप कॉलेज कैंपस में होने वाले इंटरव्यू से ही बेहतरीन नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करने के पश्चात आप इंडिया में जॉब प्राप्त करके शुरुआती समय में ₹10000 से लेकर ₹20000 तक प्रतिमाह कमा सकते हैं। जो आपके एक्सपीरियंस के साथ-साथ बढ़ती जाएगी।

FAQ

पॉलिटेक्निक कोर्स क्या है?

यह एक 3 वर्षीय टेक्निकल डिप्लोमा कोर्स है जिसे आप आसानी से 10वीं या 12वीं की कक्षा उत्तीर्ण करने के पश्चात कर सकते हैं।

दसवीं कक्षा के बाद पॉलिटेक्निक करने के उपरांत इंटरमीडिएट करने की आवश्यकता है?

जी नहीं, अगर आप पॉलिटेक्निक का डिप्लोमा हासिल कर लेते हैं तो आपको इंटरमीडिएट करने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि पॉलिटेक्निक इंटरमीडिएट के ही बराबर मानी जाती है।

पॉलिटेक्निक कोर्स की फीस कितनी है?

 यदि बात करें पॉलिटेक्निक कोर्स की फीस की तो गवर्नमेंट कॉलेज में आप इसे 15000 से लेकर 20000 तक में कर सकते हैं लेकिन अगर आप प्राइवेट कॉलेज से पॉलिटेक्निक कोर्स करते हैं तो आपको 35000 से लेकर 50000 तक खर्च करने होंगे।

पॉलिटेक्निक करने के बाद कौन कौन से फील्ड में जा सकते हैं?

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा प्राप्त करने के पश्चात आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग, केमिकल इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग, फैशन डिजाइनिंग आदि किसी भी इंजीनियरिंग फील्ड में जा सकते हैं।

निष्कर्ष

आज की अपने ब्लॉग पोस्ट के माध्यम से हमने पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स क्या है? इसकी फीस क्या है? आदि कई महत्वपूर्ण जानकारी साझा की है अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो हम आपसे अनुरोध करते हैं कि आप हमारे इस ब्लॉग पोस्ट को अधिक से अधिक छात्रों के साथ शेयर करें ताकि वह भी पॉलिटेक्निक से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकें।

Spread the love

Main Points

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।