इंडस्ट्रियल इंजीनियर क्या होता है? इंडस्ट्रियल इंजीनियर कैसे बनें?

हमारे देश में हर प्रकार के युवा है। कुछ युवा किसी क्षेत्र में जॉब करने के इच्छुक होते हैं, तो कुछ युवा किसी और छेत्र में जॉब करने के इच्छुक होते हैं। इन्हीं में से कुछ युवा होते हैं। जो इंडस्ट्री में कार्य करना पसंद करते हैं। यह तो आप सब जानते हैं कि एक इंजीनियर बनना बहुत लोगों का सपना होता है। पर जो व्यक्ति इंडस्ट्री में कार्य करना चाहता है। वह इंजीनियर कैसे बन सकता है? तो आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग का कार्य कर सकते हैं। परंतु किसी भी कोर्स को करने से पहले आपको उसकी संपूर्ण जानकारी अवश्य रखनी चाहिए। इसलिए हमारे द्वारा इस लेख के अंतर्गत आपको What is an industrial engineer? के बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया है।

इंडस्ट्री के अंदर बहुत सारे ऐसे कार्य होते हैं। जिन्हें इंजीनियर के द्वारा ही किया जा सकता है। इंडस्ट्री एक बहुत बड़ा प्लेटफार्म होता है। जिसमें एक इंजीनियर का होना बेहद आवश्यक होता है। यदि आप किसी भी इंडस्ट्री में कार्य करने के इच्छुक हैं। तो आपको इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग करनी चाहिए। यह आपको एक अच्छा कैरियर देने में मददगार है। इंडस्ट्रियल इंजीनियर की मांग हर रोज बढ़ती जा रही है इसीलिए हम आपको इस कोर्स की जानकारी अपने लेख के माध्यम से दे रहे हैं। इसलिए लेख में आपको Industrial engineer kya hota hai? Industrial engineer kaise bane? के बारे में बताया जा रहा है। अधिक जानकारी के लिए इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

Contents show

इंडस्ट्रियल इंजीनियर क्या होता है? (What is an industrial engineer?)

वैसे तो आपको विभिन्न प्रकार के इंजीनियरिंग कोर्स आज के समय में देखने को मिल जाते हैं। परंतु यदि आप इंडस्ट्री के कार्य में दिलचस्पी रखते हैं। तो आपको इंडस्ट्रियल इंजीनियर का कोर्स करना चाहिए। यही कारण है कि इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की संपूर्ण जानकारी प्रदान करने से पहले हमारे द्वारा आपको What is an industrial engineer? के बारे में जानकारी दी जा रही है। किसी भी इंडस्ट्री का कार्य होता है कि वह किसी प्रोडक्ट को बेहतर तरीके से बनाएं तथा मार्केट में लॉन्च करें। इंडस्ट्री में किसी भी प्रोडक्ट को मैन्युफैक्चर करने का कार्य इंजीनियर का होता है। तथा यह कार्य जो इंजीनियर करता है, उसे इंडस्ट्रियल इंजीनियर कहते हैं।

इंडस्ट्रियल इंजीनियर क्या होता है? इंडस्ट्रियल इंजीनियर कैसे बनें?

यदि आप इंडस्ट्रियल इंजीनियर बनते हैं। तो आपको किसी भी इंडस्ट्री में बन रहे प्रोडक्ट को देखना होता है कि वह अच्छे से बन रहा है या नहीं। साथ ही साथ इस बात का भी पता रखना होता है कि प्रोडक्ट इस प्रकार का ना बने जिससे लोगों को किसी भी तरह की समस्या का सामना करना पड़े। एक इंडस्ट्रियल इंजीनियर को इंडस्ट्री को अच्छे से मेंटेन करना होता है। साथ ही साथ प्रोडक्ट बनते समय जो नुकसानदायक चीजें निकलती है। उन्हें किसी खुली जगह पहुंचाना भी होता है। इसीलिए इंडस्ट्रियल इंजीनियर का कार्य बहुत ही इंटरेस्टिंग होता है। इसमें आपको बहुत से कैरियर स्कोप देखने को मिल जाते हैं।

इंडस्ट्रियल इंजीनियर की योग्यताएं? (Eligibility for becoming an Industrial engineer?)

आप किसी भी प्रकार का कोर्स करें। कोर्स को करने के लिए आपको कोई ना कोई योग्यता अवश्य ही पूरी करनी होंगी। इसीलिए यदि आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग का कोर्स करना चाहते हैं। तो इसके लिए आपको कुछ पात्रता/ मापदंड पर खरा उतरना होगा। यदि आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की योग्यता की जानकारी नहीं रखते हैं। तो हमारे द्वारा नीचे आपको Eligibility for becoming an industrial engineer? के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई है। ताकि आप संपूर्ण योग्यता को पूरा करने के बाद इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की पढ़ाई बिना किसी रूकावट के कर सकें। यह जानकारी निम्न प्रकार है-

  • यदि आप 10th पास करने के तत्पश्चात इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग कोर्स करना चाहते हैं। तो आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कर सकते हैं। साथ ही साथ आपको 10th क्लास 60% अंक के साथ पास कररनी होगी।
  • इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के लिए सर्वप्रथम आपको 12th क्लास अच्छे नंबरों से पास करनी होगी। 12th कक्षा में आपके कम से कम 60% अंक होने अनिवार्य हैं।
  • यदि आप एक अच्छे कॉलेज में एडमिशन प्राप्त करना चाहते हैं। तो आपको अनिवार्य रूप से एंट्रेंस एग्जाम से होकर गुजरना पड़ेगा।
  • यदि आप ऊपर दी गई संपूर्ण योग्यता को पूरा करते हैं। तो आप आगे इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने में सक्षम हो सकते हैं।

इंडस्ट्रियल इंजीनियर कैसे बने? (How to become an industrial engineer?)

इंडस्ट्रियल इंजीनियर बनने के लिए आप इसकी जानकारी होना आवश्यक है। इंडस्ट्रियल इंजीनियर एक बेहतरीन कोर्स है। जिसके अंदर आपको कैरियर की बहुत सारी अपॉर्चुनिटी देखने को मिलती है। परंतु बहुत से लोगों के अंदर यह सवाल होगा कि How to become an industrial engineer? तो हम आपको बता दें, कि नीचे हमारे द्वारा इसकी संपूर्ण प्रक्रिया की जानकारी दी गई है। यदि आप भी इंडस्ट्रियल इंजीनियर बनने के इच्छुक हैं। तो आप हमारी संपूर्ण प्रक्रिया की जानकारी प्राप्त करके अपने सफ़ल भविष्य की ओर कदम बढ़ा सकते हैं। यह संपूर्ण जानकारी निम्न प्रकार है-

#1. दसवीं कक्षा को अच्छे नंबरों के साथ पास करें (Passed 10th class with the good numbers)

सर्वप्रथम आपको 10th क्लास अच्छे नंबरों के साथ पास करनी होगी। यदि आप 10th क्लास पास करने के बाद इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना चाहते हैं। तो आपको 10th क्लास के बाद इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा करना चाहिए। यह कोर्स आपको 3 साल का करना होगा। तब आपको इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के डिप्लोमा प्राप्त होगा। 10th में आपके कम से कम 60% मार्क्स होने अनिवार्य है। ताकि आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में एडमिशन ले सके। इसीलिए आपको 10th में ही बहुत दिल लगाकर पढ़ाई करनी होती है। साथ ही साथ 10th क्लास में आपको मैथ लेना अनिवार्य है। तभी आप आगे चलकर इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की ओर कदम बढ़ा सकेंगे।

#2. कक्षा बारहवीं को 12th साइंस विषय से पास करें (Pass 12th class with Science subject)

जैसे ही आप 10th क्लास पास करते हैं। आपका ऐडमिशन 11th क्लास में होता है। यहां आपको अपने विषय का चुनाव करना होता है। यदि आप चाहते हैं कि आप 12th क्लास के बाद इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की फील्ड में जाएं। तो आपको 10th क्लास में पीसीएम सब्जेक्ट का चुनाव करना होगा। यानी आपको 12th में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ सब्जेक्ट के साथ पढ़ाई करनी होगी। साथ ही साथ 12th में आपके 60% अंक होने चाहिए। तभी आगे चलकर आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के कोर्स में एडमिशन ले पाएंगे। 12th के बाद आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में B.Ed या BE का कोर्स कर सकते हैं। जो कि 4 साल का होता है। इसे 8 सेमेस्टर के अंतर्गत बांटा जाता है। ताकि आप बहुत बड़े सिलेबस को धीरे-धीरे आसानी से पढ़ सके।

#3. एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करें (Preparation for entrance exam)

यदि आप 12th क्लास को 60% अंक के साथ पास कर लेते हैं। तथा चाहते हैं कि आप एक अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेज से इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करें। तो आपको इसके लिए एक एंट्रेंस एग्जाम से होकर गुजरना पड़ेगा। जिसकी तैयारी आपको 10th क्लास से शुरू करनी होगी। इस एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करने में आपको बहुत मेहनत करनी होगी। इसके लिए आप इंटरनेट, यूट्यूब आदि का सहारा ले सकते हैं। साथ ही साथ पहले आयोजित हुए एंट्रेंस एग्जाम की परीक्षाओं के प्रीवियस ईयर क्वेश्चन पेपर से भी मदद ले सकते हैं। यदि आप चाहे तो इसके लिए कोचिंग भी लगा सकते हैं। परंतु इन सबके बाद भी आपको अपनी सेल्फ स्टडी करनी होगी। तब जाकर आप इस एंट्रेंस एग्जाम को दे सकेंगे।

#4. एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करें (Clear entrance exam)

यदि आप एक अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं। तो आप कुछ एंट्रेंस एग्जाम जैसे:- JEE Mains, JEE Advanced, BITSAT, NATA, MHT CET OJEE मैं बैठ सकते हैं। साथ ही साथ एक अच्छे कॉलेज में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप किसी अन्य कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं। तो उस कॉलेज के द्वारा यदि कोई एंट्रेंस एग्जाम आयोजित कराया जाता है। तो आपको वह एंट्रेंस एग्जाम देना होता है। अन्यथा आपका डायरेक्ट एडमिशन भी हो सकता है। इस प्रकार आपको एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होगा। तभी आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने में सक्षम हो सकेंगे। साथ ही साथ आपको एक अच्छा कॉलेज भी प्रदान किया जाएगा।

#5. इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के लिए कॉलेज चुने (Select the college for industrial engineering)

जब आप एंट्रेंस एग्जाम देते हैं। तो आपको नंबर प्राप्त होते हैं। उन नंबरों के आधार पर आपकी रैंक बनाई जाती है। इसी बैंक के आधार पर आपको सरकारी कॉलेज में एडमिशन मिलता है। यदि आपकी रैंक अच्छी होती है। तो आपको एक बेहतरीन कॉलेज प्रदान किया जाता है। यदि आपकी रैंक अच्छी नहीं होती है। तो आपको कोई नार्मल गवर्नमेंट कॉलेज दिया जाता है। इसीलिए आपको एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी में बहुत मेहनत करनी होगी। ताकि आप नंबर लाकर अच्छी रैंक प्राप्त कर सके और आपको एक अच्छा कॉलेज मिले। इसके तत्पश्चात आपको अपनी एडमिशन प्रक्रिया पूरी करनी होगी। बाद में आपको अपनी इंग्लिश में इंजीनियरिंग की पढ़ाई अच्छे से पूरी करनी होगी।

इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के कोर्स? (Courses for industrial engineering?)

इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग कोर्स एक बहुत ज्यादा पॉपुलर कोर्स है। आजकल मार्केट में इसकी बहुत ज्यादा डिमांड है क्योंकि इस फील्ड के अंदर बहुत ज्यादा जॉब के अवसर प्रदान किए जाते हैं। इसीलिए यदि कोई व्यक्ति इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग का कोर्स करना चाहता है। तो वह बिना किसी परेशानी के कर सकता है। परंतु इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के अंदर भी आप बहुत सारे कोर्स कर सकते हैं। इसीलिए यदि आप अपने कोर्स को पहले से ही डिसाइड करके रखेंगे। तो आपके लिए अधिक फायदेमंद रहेगा। यदि आपको इसकी जानकारी नहीं है, तो आज हम आपको इस लेख में Course for industrial engineering? के बारे में बता रहे हैं। यह जानकारी निम्न प्रकार है-

  • Diploma in industrial Engineering
  • Post graduate diploma in industrial safety
  • M.Tech in production Technology
  • B. Tech in industrial and production engineering
  • M.Tech in industrial and production engineering
  • BE in industrial engineering
  • M.Tech in industrial engineering
  • B.Tech in industrial engineering

ऊपर दिए गए संपूर्ण कोर्स को करने के बाद आप इंडस्ट्रियल एरिया में इंजीनियरिंग की पोस्ट पर कार्यरत हो सकते हैं। इन सभी पोस्टों को करने के बाद आपको एक अच्छी जॉब प्राप्त होती है। साथ ही साथ इसमें एक अच्छी सैलरी भी प्रदान की जाती है। यह सभी कोर्स अलग-अलग तरह के होते है। परंतु इन सभी में एक इंडस्ट्रियल इंजीनियर की आवश्यकता होती है। इसलिए यदि आप 10th क्लास के बाद इंजीनियरिंग करना चाहते हैं। तो इसमें आपको डिप्लोमा करना होगा। यदि 12th के बाद आप इंजीनियरिंग करना चाहते हैं। तो इसमें आप B. tech या BE का कोर्स कर सकते हैं।

इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग का सिलेबस? Syllabus for industrial engineering?)

किसी कोर्स करने से पहले आपको उसके सिलेबस की जानकारी रखनी चाहिए। ताकि आप इस बात का अंदाजा लगा पाए, कि यह सिलेबस पढ़ने में आप सक्षम हो सकेंगे या नहीं। इसीलिए यदि आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग करना चाहते हैं, तो सर्वप्रथम आपको इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के सिलेबस की जानकारी पता करनी होगी। यदि आपके पास इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के सिलेबस की कोई जानकारी नहीं है। तो हमने नीचे आपको Syllabus for industrial engineering? के बारे में बताया है। यह संपूर्ण जानकारी निम्न प्रकार है-

इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में शुरुआत में मैथ, केमिस्ट्री और फिजिक्स सब्जेक्ट में आपकी पकड़ बनवाई जाती है। इसीलिए आपको 12th पीसीएम यानी फिजिक्स, केमिस्ट्री मैथ सब्जेक्ट से करनी होती है। ताकि आगे चलकर आपकी पढ़ाई आपकी बेहद सहायता करें। इसके बाद आपको Production planning, inventory control, Development, Work System, logistics इन सभी चीजों की जानकारी प्रदान की जाती है। तथा इसके बारे में हर चीज डिटेल में पढ़ाई जाती है। ताकि धीरे-धीरे आपको संपूर्ण सिलेबस का ज्ञान दिया जा सके।

इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के लिए बेस्ट कॉलेज? (Best college for industrial engineering?)

इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के कोर्स को यदि आप बेहतरीन कॉलेज से करना चाहते हैं। तो इसके लिए आपको एक एंट्रेंस एग्जाम से होकर गुजरना पड़ता है। परंतु सर्वप्रथम आपको यह देखना चाहिए कि आप कौन से कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं। इसके लिए आपको इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग के बेज़त कॉलेज की जानकारी होना आवश्यक है। भारत में विभिन्न प्रकार के बेहतरीन इंजीनियरिंग कॉलेज उपस्थित है। जिनमे आप एडमिशन लेके इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर सकते हैं। यदि आपको उसकी जानकारी नहीं है, तो हमारे द्वारा नीचे आपको Best college for industrial engineer? के बारे में जानकारी दी गई है। यह संपूर्ण जानकारी निम्न प्रकार है-

  • कॉर्नेल यूनिवर्सिटी (Cornell university)
  • लेहीह यूनिवर्सिटी (Lehigh university)
  • कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, गुइंडी (College of engineering, Guindy
  • आईआईटी, दिल्ली (IIT, Delhi)
  • इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट (industrial training institute)
  • मोतीलाल नेहरू नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, इलाहाबाद (Motilal nehru national institute of technology, Allahabad
  • जॉर्जिया इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी (Georgia institute of technology)
  • उत्तराखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी, देहरादून (Uttarakhand technical university, Dehradun)
  • मौलाना आजाद कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (maulana azad college of engineering and technology)
  • कलिंगा इंस्टिट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी, पटना (Kalinga institute of industrial technology, Patna)
  • लोवा स्टेट यूनिवर्सिटी (Iowa state university)
  • गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक कॉलेज (Government polytechnic college)
  • बेंगलुरु इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (Bangalore institute of technology)
  • आईआईटी, खड़कपुर (IIT, Kharagpur)

इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में करियर स्कोप? (Career scope in industrial engineering?)

इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग एक बहुत अच्छी फील्ड है। जिसके अंतर्गत आपको बहुत से करियर ऑप्शन देखने को मिलते हैं। आज के समय में हम जितनी भी इलेक्ट्रॉनिक चीजों का इस्तेमाल कर रहे हैं, उन सबकी मैन्युफैक्चरिंग फैक्ट्री में ही की जाती है। यह सब करने का श्रेय इंजीनियर को जाता है। इंजीनियर विभिन्न प्रकार के होते हैं। परंतु यह मैन्युफैक्चरिंग का कार्य इंडस्ट्रियल इंजीनियर के द्वारा ही किया जाता है। साथ ही साथ इंडस्ट्रियल इंजीनियर के द्वारा ऐसे उत्पादों की मैन्युफैक्चरिंग की जाती है। जो मानव जीवन के लिए फायदेमंद होते हैं। जिस प्रोडक्ट से किसी प्रकार का नुकसान मनुष्य के जीवन को होता है। उस प्रोडक्ट को बनाने की अनुमति इन्हें नहीं होती है।

मैन्युफैक्चरिंग करने के लिए इंडस्ट्रियल इंजीनियर के अंदर विभिन्न प्रकार की स्किल्स का होना आवश्यक है क्योंकि अपनी स्किल्स की सहायता से ही एक इंडस्ट्रियल इंजीनियर विभिन्न प्रकार के क्षेत्र जैसे:- प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरर की फील्ड, व्यवसाय की फील्ड, एनालिटिक एंड कंसलटेंट में कई पदों पर भी कार्यरत हो सकते हैं। इस क्षेत्र में आपको बहुत अच्छे कैरियर स्कोप देखने को मिलते है। इन क्षेत्रों के अलावा भी बहुत से क्षेत्रों में इंडस्ट्रियल इंजीनियर की मांग रहती है। हमारे देश में विभिन्न प्रकार की इंडस्ट्री उपस्थित है। जिसके अंतर्गत इंडस्ट्रियल इंजीनियर की आवश्यकता होती है। हमारे द्वारा नीचे कुछ क्षेत्र दिए गए हैं। जहां पर इंडस्ट्रियल इंजीनियर की आवश्यकता होती है।

  • प्लांट इंजीनियर
  • इंडस्ट्रियल मैनेजर
  • मैनेजमेंट इंजीनियरिंग
  • एग्रोनॉमिस्ट
  • ऑपरेशंस एनालिटिक्स
  • क्वालिटी इंजीनियर
  • क्वालिटी कंट्रोल टेक्निशियन
  • मैन्युफैक्चरिंग इंजीनियर
  • प्रोसेस इंजीनियर

इंडस्ट्रियल इंजीनियर के कार्य? (Work as an industrial engineer?)

एक इंडस्ट्रियल इंजीनियर के द्वारा किसी भी उत्पाद के विनिर्माण तथा उत्पादन प्रक्रियाओं के अंदर अक्षमताओं को पूर्ण रूप से खत्म करने की खोज जाती है। इंडस्ट्रियल इंजीनियर का कार्य बेहतरीन उत्पाद का मैन्युफैक्चरर करना होता है। यदि आप इंडस्ट्रियल इंजीनियर बन जाते हैं। तो आपको बहुत सारे कार्य करने पड़ते हैं। इसकी जानकारी भी आपको होनी आवश्यक है। तभी आप यह फैसला ले सकते हैं कि आपको इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग करनी चाहिए या नहीं। इसीलिए हमारे द्वारा आप सभी को नीचे Work as an industrial engineer के बारे में पॉइंट के माध्यम से जानकारी दी गई है।  यह संपूर्ण जानकारी निम्न प्रकार है-

  • इंडस्ट्रियल इंजीनियर के द्वारा उत्पादन योजनाओं की समीक्षा करनी होती है। साथ ही साथ संपूर्ण विवरण को भी डिजाइन करना होगा। उत्पाद बनने की संपूर्ण प्रक्रिया पर निगरानी रखने का कार्य भी इंडस्ट्रियल इंजीनियर के द्वारा ही किया जाता है।
  • नए ढांचे और रचनाओं का परीक्षण का निरीक्षण करने का कार्य भी एक इंडस्ट्रियल इंजीनियर करता है।
  • इंडस्ट्रियल इंजीनियर के द्वारा उत्पादों की विशिष्टताओं के बारे में ग्राहकों को समझाने का कार्य करता है।
  • इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग इंडस्ट्रीज में मशीन के स्थान को डिज़ाइन करने का कार्य भी करता है।
  • इंडस्ट्रियल इंजीनियर के द्वारा उत्पादों को किसी प्रकार का दोष नहीं देने हेतु विश्वनीय और गुणवत्ता प्रबंधन प्रणाली विकसित करने का कार्य किया जाता है।
  • ऊपर दिए गए संपूर्ण कार्य एक इंडस्ट्रियल इंजीनियर के द्वारा किए जाते हैं। इसके अलावा भी इंडस्ट्रियल इंजीनियर कई क्षेत्र में कार्य करने हेतु सक्षम होता है।

इंडस्ट्रियल इंजीनियर की सैलरी? (Salary of industrial engineer?)

जब हम कोई कोर्स करते हैं। तो हमारा मुख्य उद्देश्य यही  होता है कि हम एक अच्छी जॉब प्राप्त करके एक अच्छी कमाई कर सके। अर्थात आपको एक अच्छी सैलरी प्राप्त हो। यदि आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग का कोर्स इसीलिए कर रहे हैं कि आपको एक अच्छी जॉब मिलेगी। हम आपको बता दें कि इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में आपको बहुत अच्छे नौकरी के अवसर देखने को मिलते हैं। साथ ही साथ उसमें आपकी सैलरी भी काफी अच्छी होती है। शुरुआत में आपकी सैलरी थोड़ी कम हो सकती है। परंतु जैसे ही आप इस क्षेत्र में अनुभवी होते हैं। आपको अच्छी सैलरी मिलना शुरू हो जाती है।

यदि आप अपनी इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करके फ्रेशर के तौर पर जॉब करते हैं।  तो आपको ₹20 हज़ार रुपए प्रति माह से लेकर ₹30 हज़ार रुपए प्रति माह तक सैलरी प्राप्त हो जाती है। परंतु यदि आप इस क्षेत्र में कार्यरत रहते हैं। तथा बहुत अच्छा अनुभव प्राप्त कर लेते हैं। तो आपको यह सैलरी ₹40 हज़ार रुपए प्रति माह से लेकर ₹50 हज़ार रुपए प्रति माह तक मिल सकती है। साथ ही साथ यदि आपका अपनी पोस्ट पर रहते हुए प्रमोशन हो जाता है। तो यह सैलरी लाखो तक पहुंच जाती है। इसीलिए इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग का क्षेत्र बहुत अच्छा है। उसके अंदर आपको बहुत ही अच्छे मौके मिलते हैं। जिनमें आप बहुत अच्छी कमाई करने में सक्षम हो सकते हैं।

इंडस्ट्रियल इंजीनियर क्या होता है? इससे संबंधित प्रश्न व उत्तर (FAQs)

Q:-1. इंडस्ट्रियल इंजीनियर क्या होता है?

Ans:-1. इंडस्ट्रियल इंजीनियर वह व्यक्ति होता है। जो इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करता है। साथ ही साथ इसके द्वारा किसी इंडस्ट्री कार्य किया जाता है। यह किसी भी उत्पाद की मैन्युफैक्चरिंग का कार्य करता है।

Q:-2. 10th के बाद इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में कौन सा कोर्स कर सकते हैं?

Ans:-2. यदि आपने केवल 10th पास किया है और उसके बाद ही आप इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में कोई कोर्स करना चाहते हैं। तो हम आपको बता दें, इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में केवल आप डिप्लोमा प्राप्त कर सकते हैं। यह डिप्लोमा कोर्स केवल 3 साल का होता है।

Q:-3. 12th करने के बाद इंडस्ट्रियल इंजीनियर कैसे बने?

Ans:-3. यदि आप 12th करने के बाद इंडस्ट्रियल इंजीनियर बनना चाहते हैं। तो इसके लिए आपको कोई कोर्स करना होता है। इसके लिए आप बीटेक या बीई इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में कर सकते हैं। यह कोर्स 4 साल का होता है, जिसे 8 सेमेस्टर के अंदर बांट दिया जाता है।

Q:-4. इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग कोर्स की फीस कितनी होती है?

Ans:-4. इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा और बहुत सारे डिग्री कोर्सेज होते हैं। इन सब कोर्सेज की फीस कॉलेज पर निर्भर करती है। परंतु प्राइवेट कॉलेज में इन कोर्स की फीस ज्यादा होती है और गवर्नमेंट कॉलेज में इन कोर्स की फीस कम होती है।

Q:-5. इंडस्ट्रियल इंजीनियर कैसे बने?

Ans:-5. इंडस्ट्रियल इंजीनियर बनने हेतु आपको अपनी 10th और 12th की पढ़ाई साइंस से करनी होगी। साथ ही साथ एक अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी भी करनी है। पर आपको अपने लिए एक अच्छा कॉलेज चुनना होगा। उसके तत्पश्चात आप एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करें।

Q:-6. इंडस्ट्रियल इंजीनियर की सैलेरी कितनी होती है?

Ans:-6. एक इंडस्ट्रियल इंजीनियर की सैलरी कंपनी और उसके अनुभव पर निर्भर करती है। परंतु शुरुआती दौर में उसे ₹20 हज़ार रुपए प्रति माह से लेकर ₹30 हज़ार रुपए प्रति माह सैलरी प्रदान की जाती है। इसके पश्चात अनुभव के आधार पर यह सैलरी लाखों में पहुंच जाती है।

Q:-7. इंडस्ट्रियल इंजीनियर के द्वारा क्या कार्य किया जाता है?

Ans:-7. यदि आप यह जानना चाहते हैं कि इंडस्ट्रियल इंजीनियर के द्वारा क्या कार्य किया जाता है? तो हमारे द्वारा ऊपर इस लेख में Work as industrial engineer? की जानकारी दी गई है। जिससे आप इंडस्ट्रियल इंजीनियर के कार्यों की जानकारी हासिल कर सकते हैं।

निष्कर्ष (Conclusion):- आज हमारे द्वारा आप सभी को इस आर्टिकल के अंतर्गत What is an industrial Engineer? How to become an industrial engineer? What is the salary of an industrial engineer? के बारे में संपूर्ण जानकारी विस्तार पूर्वक दी है। यदि आप भी इंडस्ट्रियल इंजीनियर बनना चाहते हैं। तो हमारा यह आर्टिकल आपके अवश्य काम आएगा। हमें उम्मीद है कि आप हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी बेहद पसंद आई होगी। यदि आपको हमारे द्वारा दिया गया यह आर्टिकल पसंद आया हो तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताइए। साथ ही साथ हमारे इस लेख को अपने जरूरतमंद दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ शेयर करना ना भूले।

रिया आर्या

मैं शाहजहाँपुर उत्तर प्रदेश की रहने वाली हूँ। शुरू से ही मुझे डायरी लिखने में रुचि रही है। इसी रुचि को अपना प्रोफेशन बनाते हुए मैं पिछले 3 साल से ब्लॉग के ज़रिए लोगों को करियर संबधी जानकारी प्रदान कर रही हूँ।

Leave a Comment