उत्तर प्रदेश गोपालक योजना 2021| पात्रता, शर्तें और आवेदन आवेदन प्रक्रिया

Uttar Pradesh Gopalak yojana 2021 :- इस समय हमारे देश में बेरोजगारी बहुत फैली हुई जिससे हर व्यक्ति परेशान है हमारे देश की बहुत अधिक आबादी बेरोजगारी की मार को झेल रही है। जहां भी जाओ बेरोजगारी अधिक से अधिक देखने को मिल रही है जिसे दूर करने के लिए हर व्यक्ति प्रयास करता है कोई जॉब करता तो कोई मजदूरी करता, कोई कोई तो अपना खुद का बिजनेस करना चाहता जिससे बह अपने क्षेत्र मोहल्ले व घर में रहकर ही व्यवसाय करे और उसे कहीं दूर जाना न पड़े पर संसाधनों के अभाव के कारण बह लोग बिजनेस नहीं कर पाते है। प्रत्येक व्यक्ति के पास इतना पैसा नहीं होता है कि वह अकेले ही अपना बिजनेस कर सके।

आप ये भी जानते होंगे बहुत से युवा उच्च शिक्षा प्राप्त करके भी बेरोजगार वह नहीं जानते कि केवल नौकरी करके ही रोजगार प्राप्त नहीं किया जा सकता है, और नौकरी के लिए इधर उधर भटकते रहते है, बल्कि कुछ व्यवसाय करके भी पैसे कमाकर आजीविका चला सकते है। इसी तरह के लोगों की समस्याओं को देखते हुए सरकार बहुत सारी योजनाएं शुरू करती है जिससे लोगों की हेल्प हो सके।

इसी तरह की उत्तर प्रदेश सरकार की गोपालक योजना है जिसका लाभ लेकर बहुत से लोग अपने गाँव या क्षेत्र में धीरे धीरे अपना खुद का बिजनेस शुरू कर सकते है। आज हम अपने इस आर्टिकल में Uttar Pradesh Gopalak Scheme के बारे में विस्तार से सब कुछ बताएंगे की गोपालक योजना क्या है ? इसके लिए आवेदन करने के लिए क्या करे ? इसके लिए क्या पात्रता व शर्तें है ? यह सब कुछ जानने के लिए आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पड़े जिससे आपको इस योजना के बारे में संपूर्ण व सटीक जानकारी मिल सके।

गोपालक योजना क्या हैं? | What is Uttar Pradesh Gopalak Scheme

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना 2021 पात्रता, शर्तें और आवेदन आवेदन प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश सरकार अपने राज्य के लोगों के विकास व उत्थान के लिए भिन्न भिन्न तरह की महत्वाकांक्षी योजनाएं शुरू करती जिससे उनका विकास हो सके अगर उनका विकास होगा तो राज्य उन्नति करेगा जब राज्य उन्नति करेगा तो देश विकास व उन्नति के शिखर को छुएगा इस तरह की योजनाओं का राज्य के विकास में महत्वपूर्ण योगदान होता है। इन योजनाओं में से एक योजना गोपालक योजना है। इस योजना की शुरुआत उन लोगो के लिए की गई जो बेरोजगार है अपने दम पर कुछ करना चाहते है।

इस योजना के द्वारा राज्य सरकार बैंक से राज्य के बेरोजगार लोगो के लिए 9 लाख तक का लोन मुहैया कराती है जिससे वह डेयरी खोल सके। यह लोन 10-20 पशु रखने वाले लोगो के लिए मिलता है। इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको 10 पशुओं के हिसाब 1.5 लाख की पशुशाला खुद बनानी पड़ेगी फिर उसके बाद ही आपको लोन मिलेगा।

इस लोन के लिए गारंटी के ले कोई जमीन या जायदाद की आवश्यकता नहीं होती बल्कि आपके पशु व पशुशाला को ही मार्जिन (गारंटी) मान लिया जाता है। इस लोन कि एक खास बात और है इस लोन को चुकाने की अवधि 1 बर्ष नहीं होगी बल्कि आपको 5 बर्षो तक छोटी छोटी किस्तों में अनुदान दिया जाता है जिससे डेयरी में होने वाले उतार चड़ाव से बच सके।

Uttar Pradesh Gopalak Schemeउद्देश्य

ये तो आपको पता ही होगा कि बेरोजगारी का हमारे देश में प्रेजेंट में कितना बोलबाला है। इसी तरह उत्तर प्रदेश में अत्याधिक मात्रा में बेरोजगारी है। बेरोज़गारी की इन समस्याओं को निपटाने के लिए यूपी सरकार के प्रयासों में से एक गोपालक योजना है। इस योजना का उद्देश्य राज्य के बेरोजगार लोगो को रोजगार देकर उनकी बेरोजगारी को दूर करना है उन्हें बैंक के माध्यम के से लोन देकर व्यवसाय करने का अवसर देना है.

योजना के अंतर्गत बैंक से मिले लोन से डेयरी फार्म खोलकर खुद का बिजनेस शुरू कर सके और अपने आपको सशक्त व आत्मनिर्भर बना सके और अपना, अपने क्षेत्र व राज्य का विकास कर सके जिससे राज्य उन्नति कर सके जब राज्य उन्नति करेगा तब देश अपने आप ही उन्नति करने लगेगा । ये तो आपको पता ही होगा कि राज्य व देश के विकास में वहा रहने वाले लोगों का कितना योगदान होता जब तक बहा के लोग उन्नति नहीं करेंगे तब तक राज्य व देश उन्नति कैसे करेगा।

गोपालक योजना के आवेदन के लिए महत्पूर्ण तथ्य

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको सबसे पहले 10 पशुओं के लिए 1.5 लाख की लागत से डेयरी खुद बनानी पड़ेगी और उसमे कम से कम पशु रखने होंगे।
  • अगर आप 5 पशु पलोगे तो आपको 1 लाख रुपए का अनुदान दिया जाएगा और अगर आप 10 पशु पालते हो तो आपको 2 लाख का अनुदान मिलेगा
  • यह अनुदान 5 बर्ष तक 20 या 40 हजार की किस्तों मै प्राप्त होगा।
  • यूपी गोपालक योजना के लिए लाभार्थी को 9 लाख रुपए प्रदान किए जायेंगे।

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना के लाभ | Benefits of Uttar Pradesh Gopalak Scheme

उत्तर प्रदेश सरकार की गोपालक योजना से बहुत से लाभ है। जैसे

  • इस योजना के माध्यम से राज्य के सभी बेरोजगार लोगो को रोजगार प्राप्त करने का अवसर प्राप्त होगा।
  • इस योजना के माध्यम से लोग अपने आपको आत्मनिर्भर बना सकेंगे।
  • यूपी गोपालक योंजना के द्वारा बेरोजगार लोग खुद का अपना डेयरी फार्म खोल सकेंगे।
  • इस योजना का ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुंचने पर बेरोजगारी मै कमी आएगी जिससे राज्य उन्नति करेगा।
  • इस योजना के रोजगार द्वारा लोग रोजगार प्राप्त करके अपना व अपने परिवार का भरण पोषण बड़े आसानी से कर सकेंगे
  • इस योजना के माध्यम से पशुपालकों को बैंक से बड़े आसानी से लोन मिल सकेगा
  • ज्यादा से लोगो को रोजगार मिलेगा जिससे उनकी गरीबी मिटेगी।

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना के लिए पात्रता /शर्तें/ योग्यता

  • गोपालक योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहले प्रार्थी उत्तर प्रदेश का मूल निवासी हो क्योंकि यह योजना उत्तर प्रदेश सरकार की योजना है।
  • प्रार्थी के पास उत्तर प्रदेश का मूल निवास प्रमाण का सर्टिफिकेट होना चाहिए।
  • लाभार्थी बेरोजगार होना चाहिए।
  • योजना का लाभ उन गरीब परिवार को मिलेगा जिनकी बार्षिक 1 लाख रूपए से कम होनी चाहिए।
  • प्रार्थी के पास डेयरी फार्म खोलने के लिए पर्याप्त जगह उपलब्ध होनी चाहिए।
  • इस योजना के लिए आवेदन करने वाला किसी भी बैंक का डिफाल्टर नहीं होना चाहिए साथ ही साथ किसी भी बैंक से उसने ऋण नहीं लिया हो।
  • जो लोग पहले से ही गाय भैंस के पालन में लगे हुए है। उन्हें इस योजना में पहले वरीयता दी जाएगी।

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना 2021 के आवेदन के लिए जरूरी दस्तावेज | Uttar Pradesh Gopalak scheme 2021 required document

  • सबसे पहले उसके पास उत्तर प्रदेश का मूल निवास प्रमाण पत्र हो।
  • लाभार्थी के पास भारत सरकार द्वारा प्रदत्त आधार कार्ड होना चाहिए।
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र हो।
  • बैंक पासबुक की छायाप्रति होनी चाहिए।
  • पासपोर्ट साइज फोटो होने चाहिए ।
  • मोबाइल नंबर

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना 2021 के लिए आवेदन कैसे करें? | How to apply for Uttar Pradesh Gopalak  Scheme 2021

इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक को नीचे दिए गए बिंदुओं का अनुपालन करना होगा ।

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर्ता को अपने नजदीकी चिकित्सा अधिकारी के पास जाकर आवेदन फॉर्म लेकर उसमे दी गई सभी प्रविष्ट जानकारियों को भरना होगा।
  • सभी प्रविष्टियों को भरकर उसके साथ सभी आवश्यक दस्तावेजो को उसके साथ लगाकर चिकित्सा अधिकारी के ही पास जमा करना होगा।
  • फिर चिकित्सा अधिकारी उसे पशु चिकित्सा अधिकारी के पास भेजेगा।
  • पशु चिकित्सा अधिकारी पशु मेडिकल अधिकारी को रिपोर्ट करेगा और बों फिर उसे निदेशालय भेजेगा
  • फिर निदेशालय उसके चयन के लिए एक चयन समिति गठित करेगा ।
  • चयन समिति मै सीडीओ अध्यक्ष होगा सीवीओ सचिव एक नोडल अधिकारी शामिल होगा। इसके अतरिक्त तहसील स्तर पर एसडीएम आदि भी शामिल होते है।
  • यह चयन समिति ही आवेदक का सत्यापन करके उसके चयन का विचार करती है। चयन हो जाने के बाद ही लोन दिया जाता है।
  • इस योजना के लिए लोन लेने वाले के लिए सरकार 6 महीने तक कोई भी किसी जमा करने की छूट देती है ।

गोपालक योजना के लिए पशुओं का चयन

  • गोपालक योजना के लिए पशु पशुपालकों द्वारा पशु मेले से खरीदे जाने चाहिए।
  • इस योजना के लिए खरीदे जाने वाले पशु बिलकुल स्वस्थ बा हस्टपुस्ट होने चाहिए।
  • उत्तर प्रदेश गोपालक योजना के तहत खरीदे जाने वाले पशु दूध देने वाले होने चाहिए।
  • इस योजना का बे ही पशुपालक लाभ ले सकते है जिनकी पशुपालन में रुचि हो।
  • इस योजना के अन्तर्गत खरीदे जाने वाले पशु दो महीने से अधिक व्यात के नहीं होने चाहिए।
  • इस योजना के अन्तर्गत खरीदे जाने वालो पशुओं का बीमा कराया जाएगा।
  • इस योजना के लिए गाय या भैंस किसी को भी खरीद सकते है।

निष्कर्ष

आज के आर्टिकल में माध्यम से हमने आपको उत्तर प्रदेश गोपालक योजना 2021| पात्रता, शर्तें और आवेदन आवेदन प्रक्रिया के बारे में विस्तार से बताया है। अगर आपको इस लेख इस योजना के बारे में समझने में दिक्कत आ रही हैं। तो आप कमेंट बॉक्स में जरूर पूँछे।

यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।