उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना | Uttar Pradesh Ekmusht Samadhan Yojna

UP Samadhan Yojna 2021 :- इस योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने की है, इस योजना के अंतर्गत राज्य के ऐसे गरीब किसानो को इसका लाभ दिया जायेगा जिन किसानो ने लोन लिया है और अपनी फसल के ख़राब हो जाने से या फिर किसी और समस्या के होने से अपना लिया हुआ ऋण वापस चुका नही पाए है। इस आर्टिकल में आपको इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना ( Uttar Pradesh Ekmusht Samadhan Yojna 2021 ) से जुडी हुई सभी जानकारी दी जाएगी।

अगर आपने भी पहले कभी सरकार से अपनी जमीन पर लोन लिया है और किसी कारण के चलते आप उस लोन को वापस चुका नही पाये है तब आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े, जिससे आप इस योजना के बारे में सभी जानकारी ले सके और इस योजना का लाभ उठा सके।

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2021 | Pradesh Ekmusht Samadhan Yojna 2021

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के अंतर्गत राज्य के ऐसे किसानो को लाभ दिया जायेगा जिन्होंने 2012 से पहले ऋण लिया था और किसी कारण की वजह से अभी तक इस ऋण को वापस चुका नही पाए है। अगर राज्य के किसान इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के तहत अपने लोन की बकाया राशि एकमुश्त चुकाते है तब उनको उस ऋण पर सरकार की तरफ से 35 फीसदी से लेकर 100 फीसदी तक की छूट प्रदान की जाएगी।

इस योजना के अंतर्गत मिल वाली मदद से किसान अपना बकाया ऋण चुका सकेगे। इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना से राज्य के बहुत से किसानो को इस योजना का लाभ मिलेगा। इस योजना में अपना आवेदन करने के लिए आपको इस योजना में आवेदन करना होगा। अगर आप इस योजना में आवेदन करना चाहते है तब आप इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2021 क्या है | UP Samadhan Yojna 2021

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत ऐसे किसानो के लिए की गयी है जो किसी कारण की वजह से अपना खेती पर लिया हुआ ऋण चुका नही पाए है। इस योजना के तहत ऐसे लोगो को अपना बकाया ऋण चुकाने के लिए कई तरह के लाभ दिये जायेगे। इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के तहत ऐसे किसानो का लोन पर लगाने वाला ब्याज माफ करने का प्रावधान रखा गया है जिन्होंने 31 मार्च 1997 से पहले अपनी जमीन पर लोन लिया था।

इसके अलावा अगर किसी किसान ने इस 31 मार्च 1997 के बाद और 31 मार्च 2007 से पहले लोन लिया है तब उनको अपने ऋण पर लिए गये ब्याज पर भी छुट प्रदान की जाएगी। इसके अलावा इस योजना के तहत ऐसे लोगो को भी इस योजना का लाभ दिया जायेगा जिन्होंने 2007 के बाद लोन लिया है। इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के तहत राज्य के किसानो को कई तरह के लाभ दिए जायेगे।

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना उद्देश्य

इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के तहत राज्य के लगभग दो लाख पचास हज़ार किसानो को इस योजना के तहत लाभान्वित किया जायेगा। अगर आप इस योजना के तहत अपना ऋण चुकाना चाहते है तो पाको बता दू कि इस योजना के अंतर्गत किसानो का ऋण माफ़ करने के लिए तीन श्रेणी बनाई गयी है जिसके तहत किसानो को इस योजना का लाभ दिया जायेगा।

इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना में अपना आवेदन करने और इस योजना का लाभ लेने के लिए सरकार द्वारा कुछ जरुरी कागजात और पात्रता तय की गयी है जिनके बाद ही किसानो का बकाया ऋण माफ़ किया जा सकेगा। इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना में किसानो के लिए बनाई गयी तीनो केटेगरी नीचे दी जा रही है।

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के तहत बनाई गयी तीन केटेगरी | Category for UP Samadhan Yojna

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के तहत तीन श्रेणियां बनाई गयी है जिसके अंतर्गत किसानो को इस योजना का लाभ लाभ प्रदान किया जायेगा। अब अगर आप इन श्रेणियों के बारे में जानकारी लेना चाहते है तब आप नीचे दिए गये स्टेप्स को पढ़े।

1. पहली श्रेणी में ऐसे किसान आते है जिन्होंने 31 मार्च 1997 से पहले ऋण लिया है और किसी कारण की वजह से अपना ऋण वापस बैंक को चुका नही पाए थे लेकिन अब इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के अंतर्गत ऐसे किसानो का ऋण पर लगने वाला ब्याज माफ़ कर दिया जायेगा और अब उन्हें सिर्फ अपना मूलधन ही वापस करना होगा। इससे ऐसे किसानो को काफी फायदा होगा जो अभी तक व्याज से परेशान थे।

2. दूसरी केटेगरी में ऐसे किसानो को रखा गया है जिन्होंने 31 मार्च 1997 के बाद और 31 मार्च 2007 से पहले लोन लिया था। अब इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के तहत ऐसे किसान नागरिको को उनके ऋण पर लगने वाले ब्याज पर छूट प्रदान की जाएगी और ऐसे किसानो को सिर्फ मूलधन के बराबर ही ब्याज लिया जायेगा। मतलब अगर आपने अपने लिए गये ऋण से ज्यादा पैसा जमा कर दिया है तो आपको बैंक के ब्याज में फायदा दिया जायेगा।

3. उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के अनुसार इस तीसरी केटेगरी में ऐसे किसान नागरिक आते है जिन्होंने एक अप्रैल 2007 के बाद और 31 मार्च 2012 से पहले किसी बैंक से ऋण लिया था। ऐसे किसानो को सबसे पहले अपना सारा मूलधन वापस बक को चुकाना होगा और ऐसे किसान जो इस योजना के शुरू होने से तारीख से 31 जुलाई 2021 के बीच बैंक से समझौता कर अपने बैंक खाते बंद करवा लेते हैं तो उन्हें ऋण के ब्याज पर 50 फीसदी की छूट प्रदान की जाएगी और ऐसे किसान जो एक अगस्त 2021 से 31 अक्टूबर 2021 के बीच समझौता कर खाता बंद करवाते हैं उन्हें ब्याज में 40 फीसदी की छूट दी जाएगी, इसी तरह ऐसे किसान जो 1 नवंबर 2021 से 31 जनवरी 2021 के बीच समझौता कर अपना ऋण चुका देते है उनको ब्याज में 35 फीसदी की छूट दी जाएगी।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना का लाभ लेने के लिए जरुरी पात्रता | Eligibility for Uttar Pradesh Ekmusht Samadhan Yojna

अगर कोई किसान नागरिक इस योजना का लाभ लेकर अपना ऋण और उसका व्याज पर फायदा लेना चाहता है तो उसको इस योजना का लाभ तभी मिल सकता है जब वह इस योजना के लिए पात्र होगा। इस उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के लिए सभी जरुरी पात्रता की सूची नीचे दी जा रही है।

  • इस उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के नागरिको को ही दिया जायेगा।
  • इस योजना का लाभ केवल राज्य के किसानो को ही प्रदान किया जायेगा।
  • अगर किसान ने अपनी जमीन पर ऋण लिया है और उसने यह ऋण इस योजना में दी गयी तारीख से पहले लिया ही तभी उसको इस योजना का लाभ मिल सकेगा।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना का लाभ लेने के लिए जरुरी कागजात

इस उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना में ऐसे किसानो को ही लाभ दिया जायेगा जिनके पास सरकार द्वारा तय किये गये जरुरी कागजात होगे। इस योजना के लिए सभी जरुरी तय किये गये कागजात की सूची नीचे दी जा रही है।

  • इस योजना में आवेदन करने के लिए किसान के पास उसका आधार कार्ड होना भी जरुरी है।
  • इस उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना में आवेदन करने वाले किसान के पास उसके जमीन के कागजात होने चाहिए।
  • इस उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक किसान के पास उसका बैंक अकाउंट की पासबुक होनी भी जरुरी है।
  • किसान के पास उसका निवास प्रमाण पत्र होना भी जरुरी है।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें? | Online Registration for Uttar Pradesh Ekmusht Samadhan Yojna

अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो आपको इस योजना के लिए अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा इसके बाद ही आप इस योजना का लाभ ले सकते है।

  • इस उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना में अपना रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको सबसे पहले उत्तर प्रदेश ग्राम विकास बैंक लिमिटेड की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। आप चाहे तो इस दिए हुए लिंकhttps://www.upsgvb.in/ पर क्लिक करके इस वेबसाइट पर विजिट कर सकते है।

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना

  • इस वेबसाइट पर विजिट करने के बाद आपको इस वेबसाइट के होमपेज पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना का लिंक दिखाई देगा आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा, इस पेज पर आपको उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना का आवेदन फॉर्म दिखाई देगा, आपको इस आवेदन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी को भरना होगा और इसके बाद आपको इस फॉर्म को सबमिट कर देना होगा।

निष्कर्ष

उत्तर प्रदेश किसानों के लिए शुरू की गई उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना सरकार की काफी महत्वपूर्ण योजना होने वाली है जिसके बारे में आज हमने आपको अपने इस आर्टिकल की मदद से बताया है।

हम आपको उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना क्या है? इसके लिए क्या दस्तावेज होने चाहिए, और इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? इसके बारे में सभी जानकारी को साझा किया है। आशा करते है की आपको इस आर्टिकल में इस योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी मिल गयी होगी।

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।