FIR Full form In Hindi | FIR क्या है?

FIR Full Form In Hindi :- जब भी हम FIR का नाम सुनते हैं तो हमारे मन में पुलिस, कोर्ट, कचहरी आदि आते हैं। आमतौर पर आपसी झगड़ों या चोरी इत्यादि के मामलों में FIR से नाता पड़ ही जाता है Police Department से सबंधित FIR कोई आम शब्द नही है बल्कि आपकी ज़िंदगी के सबसे बड़े rights में से एक है। जब भी कोई व्यक्ति किसी भी तरह का अपराध करता है तो उसके खिलाफ police Department उस व्यक्ति के खिलाफ FIR दर्ज करता है।

लेकिन क्या आप लोग FIR की फुल फॉर्म जानते हैं, क्या आपको पता है कि FIR की फुल फॉर्म क्या होती है, यदि नहीं और आप FIR की फुल फॉर्म की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपके लिए आज इस आर्टिकल को पूरा पढ़ना होगा। आर्टिकल में हम आपके लिए बताएंगे कि FIR क्या है, FIR दर्ज कराने के नियम क्या है, FIR किसके खिलाफ दर्ज की जाती है आदि।

FIR क्या है? – What Is FIR

FIR Full form In Hindi  FIR क्या है

यह किसी भी अपराध की तत्कालीन Information का लिखित दस्तावेज होता है, जब कोई अप्रिय घटना होने के बाद हम पुलिस स्टेशन जाते हैं तथा हम अपनी Information के अनुसार घटना का जो ब्यौरा पुलिस को देते हैं पुलिस सर्वप्रथम उस जानकारी को लिखित रूप में दर्ज करती है, इस लिखित रूप में दर्ज जानकारी को FIR कहा जाता है। इस जानकारी के आधार पर ही पुलिस आगे की कार्यवाही करती है।

कोई भी व्यक्ति जो किसी घटना का शिकार हुआ है वह police के पास उस घटना की FIR दर्ज करवाकर criminals को सज़ा देने के लिए पुलिस से अपील कर सकता है यदि पुलिस की Investigation में उस व्यक्ति के अपराध की पुष्टि हो जाती है तो दोषी को दंडित करने हेतु उसे अरेस्ट कर लिया जाता है। इसके बाद उस व्यक्ति को Law process से गुजरने के बाद अपराधी को निश्चित दंड दिया जाता है।

Meaning Of FIR

F.i.r. अपराध की पहले जानकारी होती है जो पीड़ित या चश्मदीद गवाह के द्वारा पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई जाती है जिसकी मदद से अपराधी को सजा देने में मदद मिलती है क्योंकि इस FIR के ही दम पर पुलिस अपराध से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर दी है और अपराधी को सजा दिला देती है।

CCTV Full Form In Hindi | सीसीटीवी क्या है?

FIR क्या है? यह आप समझ चुके है, लेकिन FIR का पूरा नाम क्या है? इसके बारे में भी आपको पता होना जरूरी है। अगर वास्तव आप इसका पूरा नाम नही जानते है तो नीचे हमने हिंदी इंग्लिश दोनों में इसकी Full Form के बारे में बताया है। जो कि इस प्रकार है –

FIR Full Form In English 

FIR (First Information Report)

FIR Form In Hindi

FIR (प्रथम सुचना विवरण)

FIR कैसे दर्ज कराई जाती है ?

यदि आपके द्वारा किसी भी प्रकार का कोई भी अपराध होता है तो कोई दूसरा व्यक्ति आपके खिलाफ आपसे किसी भी प्रकार की Information प्राप्त किये बिना ही पुलिस में FIR दर्ज करा सकता है। तथा अगर आपको किसी व्यक्ति के खिलाफ FIR दर्ज करानी हो और आप खुद जाकर FIR दर्ज कराना नहीं चाहते हैं तो उस घटना का चश्मदीद या कोई रिश्तेदार भी उस व्यक्ति के खिलाफ FIR दर्ज करा सकता है।

क्योंकि Emergency की स्थिति में पुलिस फोन कॉल या ई-मेल के आधार पर भी FIR दर्ज कर सकती है। FIR दर्ज कराने के लिए आपको पुलिस को घटना की तारीख और समय एवं आरोपीकी पूरी जानकारी देनी पड़ेगी।

FIR दर्ज करने के नियम क्या है ?

एफ आई आर दर्ज कराने के नियम निम्न प्रकार हैं-

  • कोई भी व्यक्ति FIR दर्ज कर सकता है जो संज्ञेय अपराध के बारे में जानता हो।
  • पुलिस को FIR तब लिखना चाहिए जब संज्ञेय अपराध की जानकारी मौखिक रूप से दी गई हो.
  • FIR दर्ज कराने वाले पीड़ित व्यक्ति को यह मांग करने का अधिकार है कि पुलिस द्वारा दर्ज की गई जानकारी उसे पढ़ाई जाए।
  • जब आप किसी के खिलाफ FIR दर्ज कराते हैं तो उसके बाद, आपको FIR की कॉपी लेनी चाहिए. यदि पुलिस आपको यह प्रदान नहीं करती है, तो आपको FIR की प्रति मुफ्त में मांगना ही सही होगा।
  • जानकारी दर्ज होने के बाद, यह जानकारी देने वाले व्यक्ति द्वारा हस्ताक्षरित होनी चाहिए, यदि व्यक्ति लिख नहीं सकता है, तो वह दस्तावेज पर बाएं अंगूठे का निशान लगा सकता है। FIR क्या है?

 Frequently Asked Questions about FIR

FIR से जुड़े काफ़ी महत्वपूर्ण प्रश्न है जिनसे लोग अंजान है। इसलिय नीचे हमने FIR से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों के जवाब नीचे दिए हैं जिन्हें आप को एक बार जरुर पढ़ लेना चाहिए-

FIR क्या है?

पुलिस को अपराध से संबंधित दी जाने वाली पहली जानकारी FIR होती है।

FIR कहां दर्ज कराएं?

कोई भी व्यक्ति अपने निजी पुलिस स्टेशन में जाकर अपराधी के खिलाफ एफ आई आर दर्ज करा सकता है।

FIR कौन दर्ज करा सकता है?

एफ आई आर कोई भी व्यक्ति दर्ज करा सकता है जरूरी नहीं कि वह पीड़ित हो कोई चश्मदीद गवाह भी अपराधी के खिलाफ एफ आई आर दर्ज करा सकता है।

निष्कर्ष-

देश की कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए सरकार के द्वारा अनेक नियमों को बनाया गया है जिसमें से FIR मुख्य नियम है। कानून व्यवस्था से जुड़े नियमों के बारे मैं सभी को जानकारी होना बहुत जरूरी है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हमने आपको अपनी शादी के उसके जरिए FIR क्या है? FIR Full form In Hindi के बारे में बताया है।

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।