उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | आवेदन फॉर्म

उत्तर प्रदेश भारत का सबसे बड़ा राज्य जहां पर लगभग 21 करोड़ की जनसँख्या निवास करती है। इस 21 करोड़ की जनसंख्या में लगभग 80% आबादी ग्रामीण पृष्ठभूमि पर निवास करती है। ग्रामीण क्षेत्र निवास करने के लिए वाले इन 80%आबादी के नागरिको को बेहतर सुविधाएं मिल सकें। इसके प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार विभिन्न योजनाओं का संचालन कर रही हैं।

उत्तर प्रदेश के गॉव के विकास के पथ आगे बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना की शुरुआत कर दी है। इस योजना के अंतर्गत गॉव में निवास करने वाले नागरिक हिस्सा लेकर अपने गॉव के विकास के पथ को आगे बढ़ाकर अपना सहयोग कर सकते हैं। उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना में आम नागरिक किस प्रकार हिस्सा ले सकता है? इसके लिए जरूरी दस्तावेज पात्रता और आवेदन करने की प्रक्रिया आदि के बारे में आज हम आपको इस आर्टिकल में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं।

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना क्या है? | | What is the Uttar Pradesh’s motherland plan?

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा द्वारा शुरू की जा रही एक हितकारी योजना है। जिसकी घोषणा प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा 15 सितम्बर 2022 को 5 कालीदास मार्ग (सरकारी आवास) पर आयोजित एक वर्चुअल के दौरान की गयी है।

इस योजना के माध्यम से गांवों में होने वाले अवस्थापना विकास के विभिन्न्न कार्यों में नागरिक सीधे हिस्सदारी प्राप्त कर सकेंगे औऱ अपने गांवों के विकास में सहायक हो सकेंगे औऱ अवस्थापना कार्यों में जो भी खर्च होगा उसका 50% व्यय सरकार द्वारा दिया जायेगा तथा 50% का भुगतान नागरिक को स्वयं करना होगा।

इसके अलावा आपको बता दें कि परियोजना का नाम सहयोगी व्यक्ति द्वारा निर्धारित किया जायेगा। जिससे नागरिक 50% राशि को खर्ज करके पूरी परियोजना का श्रय प्राप्त कर सकेगा। जिसके लिए ग्रामीण विकास और पंचायती राज्य विभाग द्वारा औपचारिक रूप से शुरू करने के दिशा – निर्देश जारी कर दिए गए है।

योजना का नाम उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना
कब शुरू हुई 15 सितम्बर 2022
किसने शुरू की योगी आदित्यनाथ
उद्देश्यग्रामीण क्षेत्रों का विकास करना
वेबसाइट अभी उपलब्ध नहीं

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत गांवों के विकास को मध्य नज़र रखते हुए की है। क्योंकि इस योजना के शुरू होने गांव में आर्थिक रूप से संम्पन्न नागरिक सरकार वित्तीय सहयोग प्राप्त करके तथा निजी राशि का उपयोग करके अपने गांव का विकास करने के लिए सामाजिक रूप से पुस्तकालय, स्टेडियम, ओपन जिम आदि को खोलने के प्रति प्रोहत्साहित होंगे और इसके अंतर्गत जो परियोजना तैयार की जाएगी। उसका नाम सहयोगी व्यक्ति के इच्छा अनुसार रखा जायेगा। इसलिए ये योजना भविष्य में गांवों के विकास में बहुत उपयोगी साबित हो सकती है।

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना अवस्थापना कार्य

यदि कोई नागरिक उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के माध्यम से सामाजिक रूप से किसी अवस्थापना कार्य को करवाना चाहता है। तो इस बात के बारे में भी पता होना आवश्यक है। कि नागरिक किन – किन अवस्थापना कार्यों को करवा सकता है। जो कि निम्न है –

  • पुस्तकालय निर्माण
  • स्टेडियम निर्माण
  • पशु नश्ल सुधार केंद्र
  • स्वास्थ्य केंद्र
  • फायर सर्विस स्टेशन
  • स्मार्ट विलेज हेतु CCTV लगवाना
  • सोलर लाइट
  • एसटीपी प्लांट आदि।

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना महत्वपूर्ण बिंदु

आइये उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण बिंन्दुओं के बारे में जान जानते है। जो कि इस योजना से सम्बंधित बेहतर जानकारी में सहायक होंगे। जो कि कुछ निम्न प्रकार है –

  • उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा ग्रामों के विकास हेतु शुरू की गयी एक अहम पहल है।
  • इस योजना से गांवों में होने वाले अवस्थापना कार्यों में नागरिकों को सीधे हिस्सेदारी मिल सकेगी।
  • उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के अवस्थापना कार्यों में हुए व्यय का 50% राज्य सरकार द्वारा दिया जायेगा औऱ शेष नागरिक को देना होगा।
  • इस योजना के माध्यम से परियोजना का हिस्सेदार नागरिक द्वारा निर्धारित किया जायेगा। जिससे 50% राशि का व्यय करके उसे परियोजना का पूरा श्रेय उस हिस्सेदार नागरिक को मिल सकेगा।
  • उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के सफलतापूर्वक संचालन की जिम्मेदारी राज्य सरकार द्वारा ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज्य विभाग को सौंपी गयी है।
  • इस योजना की घोषणा मुख्यमंत्री जी द्वारा सरकारी आवास पर आयोजित एक वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान की गयी।
  • स्मार्ट गांव बनाने के लिए इस योजना के माध्यम से गांव में सीसीटीवी कैमरा लगवाने, सीवर हेतु एसटीपी प्लान्ट आदि का काम करवाया जा सकता है। जिसके लिए भी सरकार द्वारा भाग्यदारी प्रदान की जायेगी।
  • इस योजना के माध्यम से नागरिक सामाजिक तौर पर सरकार द्वारा भाग्यदारी प्राप्त करके गांव में स्वथ्य केंद्र, आंगनवाड़ी केंद्र, स्टेडियम, जिम आदि की अवस्थापना करवा सकता है और अपनी इच्छा से उसे नाम प्रदान कर सकता है।

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना आवश्यक पात्रताएँ

यदि कोई नागरिक इस योजना के माध्यम से गांव में अवस्थापना करवाने के लिए आवेदन करना चाहता है। तो इसके लिए उसके पास कुछ पात्रताओं का होना आवश्यक है। जो कि निम्न है –

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी रूप से निवासी। होना चाहिए।
  • आवेदक नागरिक की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिये।
  • नागरिक परियोजना को पूर्ण करने के लिए आर्थिक रूपसे सम्पन्न होना चाहिए।

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना आवश्यक दस्तावेज | Uttar Pradesh homeland scheme required documents

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आपको प्रूफ के तौर पर कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होगी।जो कि निम्न प्रकार है –

  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फ़ोटो
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • ईमेल आईडी
  • आयु प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना आवेदन कैसे करें? | How to apply Uttar Pradesh homeland plan?

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना की घोषणा 15 सितम्बर को मुख्यमंत्री जी द्वारा की गयी है। जिस कारण अभी इस योजना की आवेदन प्राक्रिया को शुरू नहीं किया जा चुका है। लेकिन विभाग इसकी आवेदन प्रकिया को करने को लेकर बहुत साक्रिय है। इसलिए उम्मीद लगायी जा रही है जल्द ही इसकी आवेदन प्राक्रिया को शुरू कर दिया जायेगा। पर अभी के लिए आपको इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए कुछ समय इंतज़ार करना होगा।

लेकिन आपको इसकी आवेदन प्राक्रिया को लेकर बिल्कुल भी परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि जब भी विभाग द्वारा योजना से जुड़ा या आवेदन प्रकिया से जुड़ा कोई ऑफिसियल नोटिस जारी किया जायेगा। तो हम आपको आर्टिकल के माध्यम से अवगत करा देंगे। इसलिए समय – समय पर हमारी वेबसाइट पर विजिट करके चेक करते रहें।

Uttar Pradesh Matrabhumi Yojana Related FAQ

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना क्या है?

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना गांवों के विकास को लेकर राज्य सरकार द्वारा उठाया गया एक अहम कदम है।

इस योजना को कब और किसके द्वारा शुरू किया गया था?

इस योजना की घोषणा प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा 15 सितम्बर 2022 को की गई थी।

इस योजना के अंतर्गत केवल उत्तर प्रदेश के नागरिक ही भाग्यदारी प्राप्त करने कर सकेंगे?

जी हां! इस योजना के माध्यम से केवल उत्तर प्रदेश के नागरिक ही भाग्यदारी ले सकेंगे।

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

अगर आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते है। तो इसके लिए आपको अभी कुछ समय इंतज़ार करना होगा। क्योंकि विभाग द्वारा इसकी आवेदन प्राक्रिया को अभी शुरू नहीं किया गया है।

इस योजना के तहत व्यय का कितना प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा दिया जायेगा?

इस योजना के अंतर्गत परियोजना के व्यय का 50% राज्य सरकार द्वारा दिया जायेगा।

निष्कर्ष –

आज हमारी टीम द्वारा इस लेख में उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के बारे में विस्तार से जानकारी उपलब्ध करायी गयी। उम्मीद करते है कि इसके बारे में पढ़कर आपको काफी अच्छा लगा होगा। इसके अलावा अगर आप योजना से जुड़ी कोई विशेष जानकारी प्राप्त करना चाहते है। तो कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते है। हमारी टीम द्वारा आपकी कमेंट का जल्द से जल्द उत्तर दिया जायेगा।

Main Points

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।