उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना | आवेदन कैसे करें? | UP Free Boring Yojana Apply Form

UP Free Boring Yojana 2021 :- कृषि में अच्छे उत्पादन के लिए फसलों को समय पर सिंचाई करना बहुत आवश्यक है। लेकिन समय पर अपनी कृषि की सिंचाई करना सामान्य बात नहीं है। क्योंकि बहुत से किसान ऐसे है। जिसके पास सिंचाई के बोरिंग की सुविधा उपलब्ध नहीं है और वे वर्ष या नहर के जल से कृषि उत्पादन करते है। जिससे समय पर अपने खेते में सिंचाई करना उनके लिए एक सबब का विषय बन चुका है और समय सिंचाई ना मिलने पर उनकी उत्पादन क्षमता में भी बहुत गिरावट आती है। लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार चाहती है कि हर किसान के पास सिंचाई के लिए बेहतर साधन उपलब्ध हो। 

जिससे वे अच्छी मात्रा में फसल उगा सकें औऱ आर्थिक रूप से संम्पन्न हो। जिसके लिए उनके द्वारा बहुत सी योजनाओं को चलाया जा रहा है। जिसमें उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना एक मुख्य है। जिसके तहत राज्य सरकार द्वारा लघु और सीमांत किसानों को निःशुल्क बोरिंग सुविधा प्रदान की जाती है। इसलिए अगर आप भी उत्तर प्रदेश सीमांत या लघु किसान है और आपके खेत बोरिंग सुविधा उपलब्ध नहीं है। 

तो आप भी इस योजना के माध्यम से अपने खेत में बोरिंग करवा सकते है और सुविधापूर्ण तरीके से अपने खेतों में सिंचाई कर सकते है। लेकिन बहुत से किसानों को इस योजना से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी नहीं है। जिस कारण वे इस योजना से लाभ प्राप्त करने में असमर्थ है। ऐसे किसानों की सुविधा के लिए हमारे द्वारा इस लेख को तैयार किया गया है। जिसमें हम आपको UP Free Boring Yojana के बारे विस्तार से चर्चा करेंगे। तो चलिए शुरू करते है –

उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना क्या है? | What is UP Free Boring Yojana

उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना

उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किसानों की सुविधा के लिए वर्ष 1985 में की गयी थी और तब से ही ये योजना पूरे उत्तर प्रदेश में सफलतापूर्वक चलायी जा रही है। इस योजना के तहत राज्य सरकार अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति और सामान्य जाति के किसानों को मुफ्त में बोरिंग सेट उपलब्ध कराती है। 

लेकिन अगर आवेदक किसान सामान्य जाति से संबंध रखता है, तो उसके पास न्यूनतम 0.2 हेक्टर कृषि योग्य भूमि होनी चाहिए। तभी वह इसके लिए मान्य हो सकता है। लेकिन अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के किसानों के लिए ऐसी कोई भी सीमा निर्धारित नहीं की गयी है। इसके अलावा अगर सामान्य वर्ग के किसान के पास 0.2 हेक्टर से कम जमींन है, तो वह सामूहिक तौर पर अपने खेत में बोरिंग सेट को लगवा सकते है।

उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना संबधित मुख्य तथ्य

आइये UP Nishulk Boring Yojana से जुड़े कुछ जरूरी तथ्यों के बारे में जानते है। जो कि आपकी बेहतर जानकारी में सहायक होंगे। ये कुछ निम्न प्रकार है –

  • इस योजना को 1985 में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किसानों को बेहतर सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने के लिए किया था।
  • उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना का लाभ सामान्य जाति/अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति सभी वर्ग के लघु और सीमांत किसान प्राप्त कर सकेंगे।
  • इस योजना के शुरू होने से किसान अपने खेतों में समय पर सिंचाई देने में सक्षम होंगे और इससे उनकी उत्पादन क्षमता में वृद्धि होगी।
  • सामान्य वर्ग के किसानों के लिए इस योजना का लाभ लेने के लिए 0.2 हेक्टर की न्यूनतम जोत सीमा निर्धारित की गयी है।
  • इस योजना के शुरू होने से किसानों की आर्थिक स्थिती में सुधार आयेगा।

उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना जरूरी पात्रताएँ | Uttar Pradesh Free Boring Plan Eligibility

कोई भी किसान अगर इस योजना के माध्यम से निःशुल्क पंप सेट को अपने खेत में लगवाने के लिए आवेदन करना चाहता हैं, तो इसके लिए उसके पास कुछ पात्रताओं का होना आवश्यक है। जो कि निम्न है –

  • आवेदक किसान उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • लाभार्थी अगर सामान्य जाति वर्ग से संबंध रखता है, तो उसके पास न्यूनतम .2 हेक्टयर कृषि योग्य भूमि उपलब्ध होनी चाहिए।
  • किसान अन्य किसी सिंचाई योजना का लाभ नहीं प्राप्त कर रहा हो।
  • आवेदक का किसी भी बैंक में खाता होना भी आवश्यक है।

उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना आवश्यक दस्तावेज | Uttar Pradesh Free Boring Plan Document

इस योजना के अंतर्गत यदि कोई किसान आवेदन करना चाहता है। तो उसे प्रूफ के तौर पर कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। जो कि निम्न है –

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • आयु प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फ़ोटो

उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना आवेदन कैसे करें? | How to apply Uttar Pradesh Free Boring Plan

यदि आप इस योजना के अंतर्गत मुफ्त बोरिंग सेट को लगवाने के लिए आवेदन करना चाहते है। तो बहुत आसानी से नीचे बताये गए तरीके को फॉलो कर सकते है। जो कि निम्न प्रकार है –

  • इसके लिए आपको सबसे पहले लघु सिंचाई विभाग उत्तर प्रदेश की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है।
  • जिसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जायेगा। जहां आपको योजनाएँ का विकल्प दिखायी देगा।
  • जिसके ऊपर आपको क्लिक कर देना है।
  • क्लिक करने के पश्चात आपको अगले पेज पर आवेदन पर का ऑप्शन दिखायी देगा। जिसके ऊपर क्लिक करके आपको आवेदन फॉर्म डाउनलोड कर लेना है। आप चाहे तो यहां क्लिक करके डायरेक्ट इस आवेदन फॉर्म को डाउनलोड कर सकते है.

उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना

  • और फिर पत्र का प्रिंट आउट निकलवा लेना है और उसमें पूछी गयी सभी जानकारीयों को एक – एक करके सही प्रकार भर लेना है।
  • इसके बाद फॉर्म के साथ आवश्यक दस्तावेजों की फ़ोटो कॉपी को अटैच कर देना है।
  • फिर इस फॉर्म को लेजकार नज़दीदी लघु सिंचाई विभाग के कार्यालय में जमा कर देना है।
  • इस प्रकार आप निःशुल्क बोरिंग योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

Uttar Pradesh Free Boring Scheme Related FAQ

उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के किसान ही प्राप्त कर सकेंगे?

जी हाँ! इस योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के लघु और सीमांत किसान ही प्राप्त कर सकेंगे।

इस योजना के अंतर्गत आवेदन कैसे करें?

अगर आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते है। तो बहुत आसानी से विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन पर को डाउनलोड करके आवेदन कर सकते है। जिसके बारे में ऊपर विस्तार से बताया है।

सामान्य जाति वर्ग के किसानों के लिए न्यूनतम जोत सीमा कितनी निर्धारित की गयी है?

सामान्य जाति वर्ग के किसानों के लिए 0.2 हेक्टयर न्यूनतम जोत सीमा निर्धारित की गयी है।

क्या इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए किसान को किसी शुल्क का भुगतान करना होगा?

जी नहीं! इसके लिए किसान को किसी भी शुल्क का भुगतान नहीं करना होगा।

इस योजना को किसी विभाग के द्वारा संचालित किया जा रहा है?

इस योजना को लघु सिंचाई विभाग उत्तर प्रदेश के द्वारा संचालित किया जा रहा है।

निष्कर्ष –

आज हमने आपको इस लेख में Uttar Pradesh Free Boring Scheme In Hindi के बारे में विस्तार से बताया। उम्मीद करते है कि इसके बारे में पढ़कर आपको काफी अच्छा लगा होगा। इसके अलावा अगर आप लेख में कोई सुधार या बदलाब चाहते हैं। तो कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते है।

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।