राजस्थान किसान पोंड योजना | ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें? | Rajsthan Farm Pond Yojana

Rajsthan Farm Pond Yojana 2021 :- राजस्थान 3,42,239.75 वर्ग किलोमीटर में फैला राज्य है, जो कि क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य है। लेकिन ये यहां की भूमि रेतीली है औऱ यहां हमें दूर – दूर तक रेगिस्तान दिखायी देते है। जिस कारण यहां किसानों को कृषि सिंचाई करने के लिए बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसलिए राज्य सरकार द्वारा सिंचाई की बेहतर सुविधा और किसानों को कृषि सिंचाई की समस्या को दूर करने के लिए बहुत सी योजनाओं को शुरू किया जाता है और इसी क्रम को अग्रसित करते हुए। अब Rajsthan Farm Pond Yojana 2021 को शुरू किया गया है। 

जिसके अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा वर्ष जल एकत्रित करने के किसान अगर तालाब का निर्माण करवाता है तो उसे 63,000 रुपये तक की अनुदान राशि प्रदान की जाएगी। इसलिए अगर आप भी राजस्थान प्रदेश के किसान है, तो राजस्थान किसान पोंड योजना आपके लिए भी बहुत उपयोगी साबित हो सकती है। क्योंकि राजस्थान के अधिकतर किसानों को कृषि सिंचाई के लिए वर्ष जल को एकत्रित करने के लिए तालाब निर्माण की आवश्यकता है। लेकिन हर किसान आर्थिक रूप से इतना मजबूत नहीं होता है कि वह इतनी राशि को खर्च करके तालाब निर्माण करवा सके। लेकिन इस योजना से अनुदान राशि को प्राप्त करके वह किसान भी तालाब निर्माण करवाने में सक्षम होंगें। जो कि आर्थिक रूप से मजबूत नहीं है।

राजस्थान किसान फार्म पोंड सब्सिडी योजना क्या है? | What is Rajsthan Farm Pond Yojana

राजस्थान किसान पोंड योजना

हम सभी जानते है कि राजस्थान भारत का शुष्क राज्य है और यहां बारिश भी अन्य राज्यों की अपेक्षा बहुत कम होती है। जिस कारण यहां का जल स्तर बहुत नीचा रहता है, जिसके चलते यहां पानी की काफी किल्लत रहती है और किसानों को कृषि सिंचाई करने के लिए बहुत सी समस्यों का सामना करना पड़ता है और जिस कारण बहुत से किसान कृषि करने के प्रति हतोसाहित हो रहे है और कृषि करना छोड़ रहे है। इसलिए राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के के किसानों को कृषि करने के प्रति प्रोहत्साहित करने और किसानों की सुविधा के लिए राजस्थान किसान फार्म पोंड योजना की शुरुआत करायी है।

जिसके तहत किसानों को वर्ष जल संरक्षण के लिए तालाब निर्माण हेतु किसानों को राज्य सरकार द्वारा 63,000 हज़ार रुपये तक अनुदान राशि प्रदान की जायेगी। इसलिए अगर आप भी एक किसान है तो इस योजना के बारे में। जानकार न आपको काफी अच्छा लगेगा। जिससे संबंधित सभी जानकारीयों को हमारे द्वारा नीचे साझा किया गया है। तो चलिए शुरू करते है –

राजस्थान किसान फार्म पोंड योजना से लाभ Benefits from Rajasthan Kisan Farm Pond Plan

यदि कोई किसान राजस्थान किसान पोंड योजना के माध्यम से वर्ष जल संरक्षण के लिए तालाब का निर्माण करवाना चाहता है, तो उसे इस योजना के लाभों के बारे में भी जानकारी का होना आवश्यक है। जो कि निम्न है –

  • राजस्थान किसान पोंड योजना राजस्थान के किसानों को वर्षा जल संरक्षण के लिए कच्चा तालाब निर्माण के लिए अनुदान राशि। प्रदान करने के लिए चलायी जा रही महत्वकांक्षी योजना है।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों को तालाब निर्माण के लिए 63,000 रुपये तक की वित्तीय सहायता प्रदान की जायेगी।
  • राजस्थान किसान पोंड योजना के शुरू होने से किसानों को कृषि सिंचाई करने में कुछ हद तक राहत मिलेगी और वह समय पर अपने अपनी खेतों को पानी देकर उत्पादन क्षमता में वृद्धि कर सकते है।
  • इस योजना के शुरू होने से किसान आत्मनिर्भर होंगे और उसकी आर्थिक स्थिती में भी सुधार आयेगा।

राजस्थान किसान फार्म पोंड योजना जरूरी नियम और शर्तें

कोई भी किसान अगर इस योजना से लाभान्वित होना चाहता है। तो उसे इस योजना से संबंधित कुछ जरूरी नियम और शर्तों के बारे में भी जानकारी का होना आवश्यक है जो कि निम्न है –

  • वे संस्थान और लाभार्थी इस योजना के लिए पात्र होंगे। जो कि पिछले 7 वर्षों से कम से कम लीज एग्रीमेंट के तहत भूमि पर खेती कर रहे है।
  • हर वर्ग के किसान इस योजना का लाभ ले सकेंगे। जिनके पास स्वयं की भूमि सहित जल स्त्रोत उपलब्ध है।
  • इस योजना के तहत ड्रिप या टपकन सिंचाई, स्प्रंगकलर और माइक्रो स्प्रिंकलर मशीनों के लिए भी सरकार द्वारा अनुदान प्रदान किया जायेगा।
  • इसके लिए विभाग द्वारा कुछ मापदंडों को भी निश्चित किया गया है। अगर किसान उन्हें रखता है तभी वह इस योजना के लिए पात्र माना जायेगा। जिनके बारे में हम आपको नीचे बताएंगे।

राजस्थान किसान फार्म पोंड योजना जरूरी पात्रताएँ | Rajasthan Farmer Farm Pond eligibility 

इस योजना के लिए विभाग द्वारा कुछ पात्रताओं को निश्चित किया गया है। अगर किसान उन्हें रखता है तभी वह इसके लिए पात्र माना जायेगा। जो कि निम्न है –

  • इस योजना के तहत न्यूनतम 400 घन मीटर और ज्यादा से ज्यादा 12,000 घन मीटर के फार्म पोंड के लिए विभाग द्वारा अनुदान राशि प्रदान की जाएगी।
  • राजस्थान फार्म पोंड के तहत लागत की 60 प्रतिशत राशि अनुदान के रूप में प्रदान की जायेगी और शेष 40 प्रतिशत का भुगतान किसान को स्वयं करना होगा।
  • इस योजना के माध्यम से विभाग द्वारा अधिकतम 63,000 रुपये की अनुदान राशि प्रदान की जायेगी।
  • आवेदक के पास कम से कम 0.5 हैक्टेयर की कृषि योग्य भूमि का होना आवश्यक है।
  • आवेदक का किसी बैंक में खाता होना भी आवश्यक है। क्योंकि विभाग द्वारा दी जाने वाली अनुदान राशि सीधे लाभार्थी किसान के बैंक खाते में स्थानांतरित की जाती है।

राजस्थान किसान फार्म पोंड योजना आवश्यक दस्तावेज | Rajasthan Farmer Farm Pond scheme required document

  • किसान का आधार कार्ड
  • खेती की जमाबंदी
  • बैंक खाते की पासबुक
  • जनाधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • खेत का नक्शा
  • भामाशाह कार्ड

राजस्थान किसान फार्म पोंड योजना आवेदन कैसे करें? | How to apply Rajasthan farmer form Pond plan

Rajsthan Kisan Farm Pond Yojana से अनुदान राशि को प्राप्त करके तालाब निर्माण करवाने के लिए आपको क्षेत्रीय सहायक कृषि अधिकारी या कृषि पर्यवेक्षक से संपर्क करना होगा और फिर जिस स्थान पर टेकिंग लगवाकर ईमित्र पर जाकर आवेदन करना होगा।

Rajsthan Kisan Farm Pond Yojana Related FAQ

राजस्थान किसान फार्म पोंड योजना क्या है?

किसान फार्म पोंड योजना राजस्थान के किसानों को वर्षा जल संरक्षण हेतु तालाब निर्माण के लिए अनुदान राशि प्रदान करने के लिए चलायी जा रही महत्वकांक्षी योजना है।

इस योजना के तहत अधिकतम कितने रुपये की अनुदान राशि प्रदान की जायेगी?

किसान के लिए विभाग द्वारा इस योजना के माध्यम आए अधिकतम 63,000 रुपये की अनुदान राशि प्रदान की जायेगी।

इस योजना के अंतर्गत आवेदन कैसे करें?

अगर आप इस योजना के माध्यम से आवेदन करना चाहते है। तो हमने ऊपर आवेदन प्रक्रिया के तरीके को विस्तार से साझा किया है। इसलिए लेख को पूरा पढे।

निष्कर्ष –

आज हमारे द्वारा इस आर्टिकल के माध्यम से Rajsthan Kisan Farm Pond Yojana In Hindi के बारे में विस्तार से जानकारी साझा की। उम्मीद करते है कि इसके बारे में पढ़कर आपको काफी अच्छा लगा लगा होगा। इसके अलावा इससे जुड़ी अन्य किसी विशेष जानकारी को प्राप्त करने के लिए कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते है।

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।