[ऑनलाइन पंजीकरण] हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2022| Haryana Bhavantar Bharpai Yojana

Haryana Bhavantar Bharpai Yojana 2022:- हरियाणा सरकार हमेशा से ही अपने प्रदेश के किसानों के प्रति बहुत ही सक्रिय रहते है तथा उसके द्वारा हर उस संभव प्रयास को करने की कोशिश की जाती है। जिससे प्रदेश के किसानों की आर्थिक स्थिती में सुधार लाया जा सकें। जिसके लिए उनके द्वारा समय – समय पर बहुत सी योजनाओं का शुभारंभ किया जाता है और इसी क्रम को और भी मजबूती प्रदान करते हुए।

हाल ही हरियाणा प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा हरियाणा भावांतर भरपाई योजना की शुरुआत की है। जिसके तहत किसानों को मंडी में सही कीमत ना मिल पाने के कारण हुए घाटे की भरपाई प्रदेश सरकार द्वारा की जाएगी। जिससे किसानों को काफी हद तक राहत मिलेगी और प्रदेश के अन्य लोगों को भी कृषि करने के प्रति उत्सुकता बढ़ेगी।

इसलिये यदि आप भी एक किसान है तो ये योजना आपके लिए भी बहुत महत्वपूर्ण साबित हो सकते है। जिससे संबधित सभी विषयों पर हमारे द्वारा नीचे विस्तार से चर्चा की गयी है। इसलिए ऑर्टिकल को नीचे तक ध्यानपूर्वक पढ़े। हम उम्मीद करते है कि Haryana Bhavantar Bharpai Yojana 2022 से जुड़े सभी सवालों के जबाब देने में सक्षम होंगे। तो चलिये शुरू करते है –

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2022 | Haryana Bhavantar Bharpai Yojana

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना

हरियाणा प्रदेश भारत के फसल उत्पाद राज्य में से एक है, यहां कब अधिकतर लोग कृषि से संबंध रखते है और देश में खाद्य पदार्थों की पूर्ति करते है लेकिन पिछले कुछ समय से प्रदेश में कृषि छोड़ने वालों की संख्या में बहुत वृद्धि हुई है जिसका मुख्य कारण रहा है कि किसानों को अपनी फसल की उचित कीमत नहीं मिल पा रही है जिस कारण उनकी जमा राशि भी वापस नहीं मिल पा रही है।

और उन्हें भारी नुकसान सामना करना पड़ रहा है और ये क्रम आगे चलता रहा है तो खाद्य पदार्थों के लेकर भविष्य में स्थिती तंगी पूर्ण हो सकती है और इस समस्या का सामना विशेष रूप से फल, सब्जी का उत्पादन करने वाले किसानों को करना पड़ रहा है, क्योंकि इस प्रकार फसल कच्ची फसल मानी जाती है और बहुत जल्दी खराब हो जाती है।

जिस कारण किसानों को मजबूरी में बिना उचित दाम प्राप्त किये जल्दी बेचना पड़ता है। इसी विशेष पर गौर करते हुए Haryana Bhivantar Bharpai Yojana 2022 का प्रारम्भ किया गया है। जिससे तहत किसानों को पड़े नुकसान की भरपाई हरियाणा सरकार द्वारा की जायेगी। तो आइए इसके बारे में विस्तार से जानते है –

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना के तहत आने वाली फसल

कोई भी किसान यदि इस योजना के बारे में पढ़ रहा है तथा इसके अंतर्गत आवेदन करके लाभ को प्राप्त करना चाहता है तो उसकी उचित जानकारी के लिए बता दें कि विभाग द्वारा इस योजना के तहत 10 फसलों को शामिल किया गया है। तो यदि आप उन फसलों में से किसी का उत्पादन करते है तभी इस योजना के तहत लाभ प्राप्त कर सकते है जो कि निम्न है –

  • मटर की फसल
  • अमरूद की फसल
  • आलू की खेती
  • गाजर की खेती
  • प्याज की फसल
  • बैंगन की फसल
  • शिमला मिर्च की खेती
  • टमाटर की खेती
  • किन्नू की फसल
  • फूलगोभी की खेती

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना से लाभ | Benefit from Haryana Bhavantar Bharpai Yojana

आइए जानते हैं कि भावांतर भरपाई योजना हरियाणा से किसानों को क्या-क्या लाभ हो सकते हैं जो कि निम्न प्रकार है –

  • इस योजना के शुरू होने से हरियाणा प्रदेश के किसान आर्थिक रूप से मजबूत होंगे तथा प्रदेश के अन्य लोगों की भी कृषि करने के प्रति रुचि बढ़ेगी।
  • हरियाणा भगवान तक भरपाई योजना 2022 के अंतर्गत किसानों को सही दाम न मिलने पर हुए घाटे की भरपाई प्रदेश सरकार द्वारा मुआवजा राशि के रूप में की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत उत्पादक को उत्पादन राशि प्राप्त करने के लिए अपने उत्पादन को बेचने पर ‘जे’ फॉर्म लेना अनिवार्य होगा।
  • हरियाणा भावांतर भरपाई योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन एक सुनिश्चित अवधि के दौरान ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से करना होगा। तभी वह भविष्य में इस योजना के लिए पात्र माना जाएगा

भावांतर भरपाई योजना के लिए आवश्यक पात्रता

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना का लाभ केवल उन्हीं किसानों को दिया जाएगा। जो कुछ पात्रताओं को रखते होंगे। जो कि निम्न है –

  • आवेदक के पास कृषि योग्य भूमि उपलब्ध होनी चाहिए।
  • इस योजना की शुरुआत हरियाणा सरकार द्वारा केवल हरियाणा प्रदेश के किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए की गई है इसलिए आवेदक हरियाणा प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • भावांतर भरपाई योजना के अंतर्गत मिलने वाली मुआवजा राशि सीधे लाभार्थी के खाते में स्थानांतरित की जाती है इसलिए आवेदक का किसी भी बैंक में खाता होना भी आवश्यक है।

हरियाणा भावान्तर भरपाई योजना आवश्यक कागजात

यदि कोई भी किसान इस योजना के तहत आवेदन करना चाहता है तो उसे पास प्रूफ के तौर पर कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। जो कि निम्न है –

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • फसलों का विवरण
  • बैंक एकाउंट की पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फ़ोटो
  • मोबाइल नंबर
  • बीज वाली फसल का विवरण

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? | How to apply online For Haryana Bhavantar Bharpai Yojana

  • इसके लिए आपको सर्वप्रथम योजना से जुड़ी ऑफिशल वेबसाइट पर जाना है।
  • आप चाहे तो यहां क्लिक करके डायरेक्ट भी योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जा सकते हैं।
  • इसके बाद वेबसाइट के होम पेज पर आपको किसान पटल का सेक्शन दिखाई देगा जिसमें से आपको “किसान पंजीकरण करें” के ऑप्शन पर क्लिक करना है।

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना

  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने नेक्स्ट पेज ओपन हो जाएगा। जहां आपको एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म दिखाई देगा। जिसमें आपको पूछे गई सभी जानकारियों जैसे – भूमि का विवरण, किसान का विवरण आदि को ध्यान पूर्वक भरना है।

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना

  • सभीसभी विवरण को भरने के बाद एक बार उसकी जांच दोबारा से अवश्य कर लें जिससे आपको बाद में किसी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े।
  • जिसके बाद सेब के बटन पर क्लिक करना है तथा मांगे गए मूल दस्तावेजों को स्कैन करके अपलोड करना है।
  • और फिर आखिर में सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है। इस प्रकार हरियाणा भावांतर भरपाई योजना के लिए आप का पंजीकरण सफलतापूर्वक पूर्ण हो जाएगा।

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2022 पंजीकृत किसानों का विवरण ऑनलाइन कैसे देखें?

  • इसके लिए सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है।
  • जिसके बाद वेबसाइट के होम पेज पर पंजीकृत किसानों विवरण का ऑप्शन दिखाई देगा जिसके ऊपर आपको क्लिक कर देना है।

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना

  • क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा जहां आपको एक फॉर्म दिखाई देगा जिसमें आपको पूछे गए विवरण जैसे – फॉर्मर क्रमांक, आधार नंबर आदि को भरना है।
  • और फिर आखिर में Go के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नयी स्क्रीन ओपन हो जाएगी। जहां आपको विवरण देखने को मिल जाएगा।

निष्कर्ष –

अगर आप हरियाणा किसान है तो आज लेख में बतायी गयी हरियाणा भावान्तर भरपाई योजना से संबधित जानकारी आपको काफी पसन्द आयी होगी। अगर हां! तो इसे अन्य किसान भाइयों के साथ शेयर करें?

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।