उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2024 | लाभ, पात्रता, उद्देश्य व अप्लाई प्रक्रिया | Uttar Pradesh Ekmust samadhan Yojana

कई बार आपने कुछ उपभोक्ताओं को देखा होगा जो कुछ आर्थिक समस्याओं के कारण बिजली का बिल या फिर किसी भी प्रकार का जमीन पर लिया हुआ ऋण जमा नहीं कर पाते हैं। तो ऐसे में धीरे-धीरे जो भी ऋण होता है उस पर लगातार ब्याज दर लगती रहती है और यह एक समय बाद मूल राशि से भी ऊपर हो जाता है। ऐसी समस्याओं के समाधान के लिए सरकार समय-समय पर विभिन्न प्रकार की छोटी-छोटी स्कीम्स लाती रहती है। जो कि कई बार आपको इस प्रकार के ऋण को चुकाने में छूट प्रदान करती हैं। जिससे उपभोक्ताओं को ऋण जमा करने में काफी सहायता प्रदान हो जाती है।

अभी के समय में उत्तर प्रदेश सरकार भी एक ऐसी ही योजना लेकर आई है जिसका नाम एकमुश्त समाधान योजना है जिसकी मदद से आप आपके ऊपर पुराना ऋण को आप छूठ के साथ जमा कर सकते हैं। इसके लिए सरकार ने इस योजना के अंतर्गत कई नियम बनाया जिनको ध्यान में रखकर आप बकाया धनराशि को जमा कर सकते हैं। इस योजना के तहत उन लोगों को भी सहायता प्रदान होगी जो किसी भी प्रकार बिजली चोरी से संबंधित मामले में है। तो उनको भी धनराशि जमा करने में छूट प्रदान की जा रही है। 

तो चलिए एएकमुश्त समाधान योजना के बारे में विस्तार से जानते हैं। कि एकमुश्त समाधान योजना 2024 क्या है? Ekmust samadhan yojana का क्या उद्देश्य है? इस योजना की विशेषताएं क्या है? एकमुश्त समाधान योजना का लाभ लेने के लिए किस प्रकार आवेदन कर सकते हैं? इन सभी तथ्यो के बारे में विस्तार से जानते हैं। 

Contents show

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2024 क्या है? | Uttar Pradesh Ekmust samadhan Yojana 2024 kya hai? 

कई बार प्राकृतिक आपदाओं की वजह से या फिर अन्य किसी कारण से  किसान ऋण का भुगतान नहीं कर पाते हैं। ऐसे में उनके जीवन में काफी समस्याएं शुरू हो जाती हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा उत्तर प्रदेश में एकमुश्त समाधान योजना शुरू की है। इस योजना को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 8 नवंबर 2023 को लागू किया गया। इस योजना के माध्यम से यदि कोई किसान एक मस्त भुगतान करते हैं तो उन्हें 35% से लेकर 100% तक की ब्याज दर में छूट प्रदान कराई जाएगी। इस योजना के माध्यम से लगभग 2.63 लाख किसानों को लाभ पहुंचेगा। इस योजना को शुरू करने में सरकार ने कई नियम बनाए हैं। 

Uttar Pradesh Ekmust samadhan Yojana

इस योजना के तहत उपभोक्ताओं में किसानों को विशेष ध्यान रखा गया है। अध्यक्ष द्वारा बताया गया है कि उपभोक्ता इस योजना की अवधि में छूठ के बाद दय धनराशि का भुगतान यूपीआई, विद्युत सखियां, जन सेवा केंद्र, राशन की दुकान, मीटर रीडर या किसी भी विभाग के कैश काउंटर तथा विभागीय वेबसाइट पर ऑनलाइन कर सकते हैं। 

बिजली बिल के बकायदारों को एकमुश्त समाधान योजना से समाधान

उत्तर प्रदेश सरकार में बिजली बिल के बकायदारों और बिजली उपभोक्ताओं को सुविधा देने के लिए एक ओटीएस स्कीम लागू की है। यह योजना 8 नवंबर से 31 दिसंबर 2023 तक लागू रहेगी। जिसके तहत यदि कोई भी व्यक्ति बिजली बिल का भुगतान करता है तो उसको 50 से 100% तक की छूट मिलेगी।

एक मस्त समाधान योजना के अंतर्गत यदि कोई व्यक्ति 1 किलोवाट वाले कनेक्शन का लिया हुआ है तो उसको छूट मिलने की काफी ज्यादा चांसेस हैं। योजना के माध्यम से उन लोगों को भी लाभ दिया जाएगा जो किसी भी स्थिति में बिजली चोरी के प्रकरणों में सम्मिलित थे। जिनको जुर्मने के तौर पर किसी भी प्रकार की राशि को चुकाना है ऐसी स्थिति में भी इस सेवा की माध्यम से उन लोगों को लाभ मिल सकेगा। 

उत्तर प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने बताया। इस योजना के माध्यम से निजी नलकूप उपभोक्ताओं का बचा हुआ बिल जमा करने के लिए 31 मार्च तक मौका प्रदान किया जा रहा है। यदि निजी नलकूप के बिल को आप ऑनलाइन भी यूपीआई या फिर किसी और ऑनलाइन पेमेंट प्रक्रिया के माध्यम से पैसे जमा करते हैं, तो भी इसमें आपको छूट मिल जाएगी। इसके लिए आप ऑफलाइन किसी केस काउंटर पर भी जाकर घर जमा कर सकते हैं। 

उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक की सहायता से संचालन

इस योजना का संचालन उत्तर प्रदेश की ग्राम विकास बैंक के माध्यम से किया जाता है। यदि आप इस योजना से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी चाहते हैं तो इसके लिए आप उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक से संपर्क कर सकते हैं। इसके लिए निर्धारित समय 10:00 बजे से लेकर शाम 6:00 बजे तक का है। इस बैंक के माध्यम से किसानों को कम ब्याज दरों पर उपलब्ध कराया जाता है।

उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक की प्रदेश में 223 शाखाएं हैं। जिसे किसानों के लिए आर्थिक मदद मुहैया की जाती है। यह बैंक के माध्यम से ट्रैक्टर खरीदने के लिए किसानों को ऋण उपलब्ध कराया जाता है। अब वर्तमान की स्थिति में विभिन्न प्रकार की आर्थिक सुविधा प्रदेश की सहकारी ग्राम विकास बैंक द्वारा कृषकों को प्रदान किया जा रहे हैं। 

एकमुश्त समाधान योजना को कितनी श्रेणियां में बांटा गया है? 

एक वह समाधान योजना को तीन श्रेणियां में बांटा गया है जो कि कुछ इस प्रकार हैं –

 पहली श्रेणी :– इस योजना में पहली श्रेणी के अंतर्गत उन किसानों को रखा गया है। जिनका बकाया ऋण 31 मार्च 1997 से पहले का है और वह इस ऋण को चुका नहीं पा रहे हैं। उसे पर पूरा ब्याज इस योजना में माफ कर दिया जाएगा। इसमें बचे हुए मूलधन को ही चुकाना होता है। 

दूसरी श्रेणी :- इस श्रेणी के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य के उन किसानों को रखा गया है। जिन्होंने 1 अप्रैल 1997 को या उसके बाद 31 मार्च 2007 तक कर्ज लिया है। और उन्होंने अभी तक इसको नहीं चुकाया है। उन्हें इस तरह के ब्याज पर छूट दी जाएगी। जिन मामलों में वितरित ऋण राशि के बराबर या अधिक ब्याज की वसूली की गई है उसमें शेष मूलधन लिया जाएगा। 

तीसरी श्रेणी :– इस श्रेणी के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य के उन किसानों को सम्मिलित किया गया है जिन्होंने 1 अप्रैल 2007 से 31 मार्च 2012 तक कर्ज लिया है उन्हें 3 तरीके से छूट दी गई है –

  1. कर्ज किसानों पर दे समस्त मूलधन किस तत्व वसूली की जाएगी।
  2. योजना शुरू की तिथि से 31 अप्रैल 2018 तक के बीच समझौता कर खाता बंद कर ने पर ब्याज में 50% की छूट दी जाएगी।
  3. यह 1 अगस्त 2018 से 31 अक्टूबर 2018 के बीच समझौता कर खाता करने पर ब्याज में 40% की छूट दी जाएगी। 

एकमुश्त समाधान योजना का उद्देश्य | Objective of Lump Sum Settlement Scheme

एकमुश्त योजना का उद्देश्य उत्तर प्रदेश राज्य में उपभोक्ताओं द्वारा लिए गए ऋण, जो कि अब तक नहीं चुकाया गया है। उसको चुकाने के लिए ऋण में कुछ छूट दी जा रही है। जिससे ऐसे उपभोक्ताओं को ऋण जमा करने के लिए प्रोत्साहन मिले और बह बकाया रह गए ऋण चुका सके। इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश के किसानों पर विशेष तौर से ध्यान दिया गया है।

इस योजना के तहत इन उपभोक्ताओं के ब्याज दर में 35% से लेकर 100% तक की छूट प्रदान की जा सकती है। अंततः इस योजना का मूल उद्देश्य यह है कि जो लोग आर्थिक रूप से कमजोर हैं। और उनके द्वारा लिया गया ऋण समय पर चुकाया ना गया है। ऐसे उपभोक्ताओं को इस योजना की द्वारा बनाई गई पॉलिसी के अंतर्गत जो भी उचित छूट है वह उन्हें उपलब्ध कराई जाए और उसके अनुसार ऋण जमा कराया जाए।

एकमुश्त समाधान योजना की लाभ एवं विशेषताएं | Benefits and Features of Lump Sum Settlement Scheme

  • इस योजना के माध्यम से किसानों के लिए एकमुश्त भुगतान करने के लिए 35% से 100% तक ब्याज दर में छूट प्रदान की जाएगी। 
  • योजना के माध्यम से लगभग 2.63 लाख उपभोक्ताओं को लाभ प्रदान किया जाएगा। 
  • इस योजना को सरकार ने तीन श्रेणियां में विभाजित किया है। जिसमें बनाए गए नियम के अनुसार ऋण के भुगतान में छूट दर तय की जाएगी। 
  • इस योजना के माध्यम से जो किसान ऋण जमा नहीं कर पा रहे हैं उनका ऋण जमा करने में मदद प्रदान की जाएगी। और उन्हें ऋण मुक्त बनाया जाएगा। 
  • इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश के किसानों तथा दूसरे उपभोक्ताओं को ऋण जमा करने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। 
  • इस योजना का संचालन उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंकों के द्वारा किया जा रहा है।
  • योजना का लाभ लेने के लिए कृषक को एकमात्र संपूर्ण धनराशि जमा करनी अनिवार्य है। 
  • इस योजना के माध्यम से कोई भी उपभोक्ता ऋण की राशि को ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों माध्यमों से जमा कर सकता है। 
  • इस योजना का लाभ पहुंचाने के लिए सरकार विभिन्न ग्राम पंचायत में कैंप के माध्यम से गांव के लोगों को सेवा उपलब्ध करा रही है। 
  • इस योजना के माध्यम से सरकार तथा जनता दोनों लोगों के लिए फायदा होगा। 

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important documents for Uttar Pradesh Lump Sum Solution Scheme

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • जमीन के कागजात
  • बैंक अकाउंट
  • पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

उत्तर प्रदेश एकमुश्तसमाधान योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया | Process to apply under Uttar Pradesh Lump Sum Solution Scheme

यदि आप उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं। तो इसके लिए आप ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों माध्यमों से आवेदन कर सकते हैं तो चलिए इसके बारे में जानते हैं –

ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आवेदक को योजना की आधिकारिक वेबसाइट उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास की वेबसाइट https://www.upsgvb.in/ पर जाना होगा। 
  • इसके पश्चात आपके सामने आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। 
  • पेज ओपन होने के पश्चात आपको उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना का ऑप्शन देखने को मिलेगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा। 
उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2024 | लाभ, पात्रता, उद्देश्य व अप्लाई प्रक्रिया | Uttar Pradesh Ekmust samadhan Yojana
  • इस पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा जिसके आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म देखने को मिलेगा। इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म पूछी गई सभी जानकारी को आपको सही-सही भरना होगा। 
ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया
  • सभी जानकारी भरने के पश्चात आपको इस फॉर्म में पूछे गए जरूरी दस्तावेज को अटैच करना होगा। 
  • सभी दस्तावेजों को अटैच करने के पश्चात आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा। 
  • सबमिट बटन पर क्लिक करने के पश्चात आपका फॉर्म इसके लिए आवेदन हो जाएगा इस प्रकार आप उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे। 

इस योजना में ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपके नजदीकी उत्तर प्रदेश की सहकारी ग्राम विकास बैंक की शाखा में आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा।
  • इस आवेदन पत्र प्राप्त करने के लिए आपको ₹200 की शुल्क जमा करना होगा।
  • अब आपको आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी को सही-सही भरना होगा।
  • इसके पश्चात फार्म में जो भी दस्तावेज पूछे गए हैं उन सभी दस्तावेजों को इस फार्म के साथ अटैच करना होगा। अब आवेदन पत्र में कृषक के फोटो के साथ ग्राम प्रधान तथा पत्रावली तैयार करता के हस्ताक्षर करवाने होंगे। 
  • इस आवेदन पत्र के साथ जो भी आवश्यक फीस हो उसको जमा करना होगा । 
  • सभी शुल्क भरने के बाद आपको आवेदन पत्र उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास की शाखा में जमा करना होगा। 
  • इस प्रकार आप इस योजना में ऑफलाइन इस फॉर्म को जमा कर सकते हैं। 

Uttar Pradesh Ekmust samadhan Yojana Related FAQ

एकमुश्त समाधान योजना किस राज्य में शुरू की गई है?

एकमुश्त समाधान योजना उत्तर प्रदेश राज्य में योगी आदित्य नाथ जी के नेतृत्व में शुरू की गई है।

एकमुश्त समाधान योजना का शुरू करने का क्या उद्देश्य है?

एक मुस्त समाधान योजना को शुरू करने का उद्देश्य किसानों पर जो पुराने समय से ऋण बकाया है उसमें छूट प्रदान कर कर उनको ऋण जमा करने के लिए प्रोत्साहित करना तथा उन्हें ऋण मुक्त करना है।

एक मुस्त समाधान योजना के लिए किस प्रकार आवेदन कर सकते हैं?

 एक मस्त समाधान योजना के लिए आवेदन करने के लिए आप ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों प्रकार से आवेदन कर सकते हैं। आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया इस आर्टिकल में ऊपर बताई गई है।

एक मुस्त समाधान योजना को कितनी श्रेणियां में बांटा गया है?

एक मुस्त समाधान योजना को तीन श्रेणियां में बांटा गया है। 

एक मुस्त समाधान योजना में कितनी पर्सेंट तक छूट मिल सकती है?

एक  मुस्त समाधान योजना का लाभ लेने के लिए छुट की कई दरें हैं लेकिन सामान्यत 35% से 100% तक की छठ इस योजना के माध्यम से दी जा रही है। 

निष्कर्ष

 हेलो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आपको उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई गई एक मुक्त समाधान योजना के बारे में बताया। इस योजना के माध्यम से जो लोग आर्थिक रूप से कमजोर है तथा किसी भी कारण बस अपना पुराना ऋण जमा नहीं कर पा रहे हैं। तो इस योजना के माध्यम से सरकार ने उन लोगों के लिए ऋण जमा करने में सहायता प्रदान करने के लिए कुछ छूट प्रदान कर रही है। इसके बारे में इस आर्टिकल में विस्तार से बताया गया। तथा इस योजना संबंधित कई और महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में हमने आपको इस आर्टिकल में बताया। आशा करते हैं इस आर्टिकल में बताई गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और यदि पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें।

Mukesh Chandra

मुकेश चंद्रा ने बीटेक आईटी से 2020 में इंजीनियरिंग की है। वह पिछले 5 साल से सामाजिक.इन पर मुख्य एडिटर के रूप में कार्यरत हैं, उन्हें लेखन के क्षेत्र में 5 वर्षों का अनुभव है। अपने अनुभव के अनुसार वह सामाजिक.इन पर प्रकाशित किये जानें वाले सभी लेखों का निरिक्षण और विषयों का विश्लेषण करने का कार्य करते है।

Leave a Comment