मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना 2024 | लाभ, पात्रता, उद्देश्य व अप्लाई प्रक्रिया

वृक्षारोपण को बढ़ावा देने तथा राज्य में हरित क्रांति को लाने के लिए कई राज्यों में भिन्न प्रकार की योजनाओं के तहत कार्य शुरू किया जा रहे हैं। जो की राज्यों के पर्यावरण को बेहतर बनाने के लिए काफी जरूरी है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज को हरित राज्य बनाने के लिए भी प्रयास किया जा रहे हैं। बीते कुछ समय पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश में हरित क्रांति को बढ़ावा देने के लिए एक योजना शुरू की है, जिसका नाम मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना है। इस योजना के तहत योगी आदित्यनाथ जी ने प्रदेश में वृक्ष लगाने की मोहीम को बढ़ावा दिया है। 

तो चलिए जानते हैं- Mukhyamantri Krishak braksha dhan yojana 2024 kya hai? मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना 2024 को शुरू करने का क्या उद्देश्य है? इस योजना के लिए आवेदन कैसे करें? और यह योजना उत्तर प्रदेश के लोगों को किस प्रकार लाभ पहुंचाएगी? इस योजना से संबंधित कई तथ्यों के बारे में इस आर्टिकल के माध्यम से बताया गया है तो चलिए शुरू करते हैं। 

Contents show

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना 2024 क्या है? |  Mukhyamantri Krishak braksha dhan yojana 2024 kya hai? 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना उत्तर प्रदेश में वृक्षारोपण को बढ़ावा देगी। इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश सरकार ने तय किया है कि वह इस योजना के अंतर्गत यदि कोई भी मनरेगा योजना का लाभार्थी अपनी निजी जमीन पर वृक्षारोपण करता है तो सरकार उसे आर्थिक मदद देगी। जो कि वह वृक्षारोपण की देखरेख तथा उससे संबंधित किसी भी प्रकार से उस आर्थिक मदद का उपयोग कर सकता है। इस योजना के तहत वातावरण को शुद्ध रखने के लिए छायादार तथा फलदार वृक्षों को लगाया जाएगा। 

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना 2024 लाभ, पात्रता, उद्देश्य व अप्लाई प्रक्रिया

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना 2024 के तहत यदि कोई भी लाभार्थी अपनी निजी जमीन पर 200 वृक्षों का वृक्षारोपण करता है। तो उसे सरकार 3 वर्ष में ₹50000 की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। इस प्रकार की आर्थिक मदद में जो भी राशि आपको उपलब्ध कराई जाएगी वह सीधे आपके बैंक खाता में डाली जाएगी।

जिसका उपयोग लाभार्थी अपने तरह से कर सकता है। इस योजना की मदद से उत्तर प्रदेश राज्य में हरियाली तथा हरित क्रांति को बढ़ावा मिलेगा। और इस योजना की वजह से उत्तर प्रदेश के वातावरण में भी काफी बदलाव देखने को मिलेंगे। यह सारे प्रभाव यहां के वातावरण को बेहतर बनाने का संकेत देंगे। 

मुख्यमंत्री कृषक धन वृक्ष योजना के तहत नींबू, चीकू, आम, कटहल, अमरुद, नीम, बबूल, कम, शीशम, यूकेलिप्टस तथा सागौन जैसे वृक्षों का वृक्षारोपण कर सकते हैं। आपके द्वारा जो भी वृक्ष आपकी भूमि पर लगाए जाएंगे।

उन वृक्षों को आपको पूरी देखरेख करनी होगी। यह योजना उत्तर प्रदेश में हरित क्रांति की ओर काफी फायदा पहुंचाएगी। जैसा कि आज के समय पॉल्यूशन बढ़ता जा रहा है तो यह वृक्षारोपण इस प्रदूषण को काम करने में भी सहायता करेंगे।

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना का क्या उद्देश्य है? 

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना का उद्देश्य उत्तर प्रदेश में वृक्षारोपण कर यहां के वातावरण को और अधिक शुद्ध बनाना तथा प्रदेश में हरित क्रांति को बढ़ावा देना है। इस योजना के माध्यम से पौधे लगाने वाले व्यक्ति को पौधों को संरक्षण के लिए आर्थिक मदद दी जाएगी। जिसकी सहायता से पौधे लगाने वाले लाभार्थी की आर्थिक मदद में मिलेगी। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के पर्यावरण में काफी सुधार देखने को मिलेगा। तथा यहां पर हो रहे जलवायु परिवर्तन में भी बैलेंस देखने को मिलेगा। 

इस योजना का उद्देश्य किसानों को वृक्षारोपण की सहायता से आर्थिक मदद प्रदान कराने के साथ- साथ उसकी सहायता से वह वृक्षारोपण की देखरेख कर सकेंगे। जिसमें इस योजना के तहत लाभार्थी को लगभग ₹50000 की धनराशि प्रदान कराई जाएगी।

इस योजना के माध्यम से प्रदेश में वृक्षारोपण को बढ़ावा मिलेगा। तथा इस योजना के माध्यम से प्रदेश में हरित क्रांति देखने को मिलेगी। इस योजना को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के पर्यावरण को सुरक्षा बनाए रखने के लिए यह मोहिम शुरू की गई है। जिसमें प्रदेश सरकार भी मदद कर रही है। 

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना से संबंधित जरूरी तथ्य

  • इस योजना में जो भी वृक्षारोपण किया जाएगा उसके देखरेख का कार्य स्वयं जमीन के मलिक का होगा। 
  • इस योजना में लगाए जाने वाले पौधों की लागत वन विभाग के द्वारा तय की जाएगी।
  • योजना के तहत लगने वाले पौधों के बीच लगभग 2 से 3 मीटर का अंतर होना चाहिए। 
  • मुख्यमंत्री कृषक धन योजना की अंतर्गत जो भी पौधे लाभार्थी अपनी जमीन पर लगाएगा। उन पौधों को वन विभाग उद्यान विभाग की पौध शाला से लिया जाए। 
  • इस योजना से संबंधित जो भी कार्यभार होगा वह वन विभाग के द्वारा मैनेज किया जाएगा। 
  • मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के तहत लाभार्थी को 3 वर्ष में लगभग 200 पौधे लगाना अनिवार्य है। जिसमें उनका आर्थिक मदद के रूप में ₹50000 की धनराशि प्रदान की जाएगी। 
  • इस योजना का लाभ प्रदेश में रहने वाले लोगों को ही दिया जाएगा।किसी दूसरे राज्य के लिए यह योजना लाभदायक नहीं होगी। 

योजना को प्रोत्साहन देने के लिए 15 अगस्त को पौधे लगाने का कार्य

इस योजना में लोगों को प्रोत्साहन करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा निर्देश दिए गए हैं, कि 22 जुलाई को आयोजित होने वाले वृक्ष महोत्सव को सफल बनाने के लिए प्रदेश के गांव में कम से कम 1000 पौधे लगाने का प्रयास किया जाए। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश में 15 अगस्त के दिन लगभग 50 लाख पौधे लगाए जाने का लक्ष्य रखा है। इससे संबंधित निर्देश मुख्यमंत्री योगी जी ने वन विभाग के अधिकारियों को दिए हैं। 

इन सभी कृतयो से इस योजना को आगे बढ़ाने तथा लोगों को इस योजना के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए किया जा रहा है। जिससे ज्यादा से ज्यादा किसानों को इस योजना का लाभ प्रदान कराया जा सके। इस योजना को आगे बढ़ाने तथा ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसके बारे में जानकारी पहुंचाने के लिए सरकार के द्वारा इसके प्रचार प्रसार का कार्य शुरू कर दिया गया है। तथा सरकार ने इन इवेंट्स के माध्यम से लोगों को इस योजना के साथ जोड़ना के लिए इस प्रकार की कृतयों को शुरू किया है। जिससे प्रदेश में हरित क्रांति को लाभ मिल सके। 

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना 2024 के लिए पात्रता क्या है? | What is the eligibility for Chief Minister Krishak Vriksha Dhan Yojana 2024?

  • मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी का उत्तर प्रदेश का निवासी होना अनिवार्य है। 
  • आवेदक के पास मनरेगा का मनरेगा कार्ड होना चाहिए। 
  • इस योजना के तहत लाभार्थी के द्वारा कम से कम 200 पौधे लगाना अनिवार्य है। 
  • इस योजना के तहत लगाए जाने वाले पौधे लाभार्थी की स्वयं की जमीन पर लगे होनी चाहिए। जिसके लिए लाभार्थी को जमीन का प्रमाण देना होगा। 
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को उसके बैंक पासबुक भी होनी चाहिए। क्योंकि इस योजना के तहत जो भी धनराशि प्रदान कराई जाएगी। वह लाभार्थी के बैंक अकाउंट में भेज दी जाएगी। 

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना 2024 के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या है? | What are the documents required for Chief Minister Krishak Vriksha Dhan Yojana 2024?

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के लिए जरूरी आवश्यक दस्तावेज कुछ इस प्रकार हैं-

  • • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण
  • पत्र मनरेगा
  • नरेगा कार्ड
  • जमीनी दस्तावेज
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण।
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना 2024 की विशेषताएं क्या है? | What are the features of Chief Minister Krishak Vriksha Dhan Yojana 2024?

  • मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना 2024 के तहत लाभार्थी को जमीन पर छायादार तथा फलदार वृक्षों को लगाने की अनुमति दी गई है। और इसमें लगाए जाने वाले वृक्ष वन विभाग द्वारा प्रदान की सूची मैं से ही होने चाहिए। 
  • इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश के मूल निवासी, जो कि स्वयं की जमीन पर वृक्षारोपण कर रहा हो। उन्हें लाभार्थी को लाभ प्रदान किया जाएगा। 
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के वातावरण को शुद्ध बनाए रखने के लिए तथा हरित क्रांति को बढ़ावा देने के लिए, यह योजना शुरू की जा रही है। 
  • इस योजना के तहत जो भी लाभार्थी को वृक्षारोपण तथा उनका संरक्षण करता है उसे ₹50000 आर्थिक मदद के रूप में मिलेंगे। 
  • इस योजना का जो भी कार्य होगा। वह वन विभाग के ऑफिशल्स के माध्यम से होगा। 
  • इस योजना के तहत लाभार्थी को जो भी लाभ मिलेगा। बह बैंक खाते के माध्यम से सीधे उनके अकाउंट में ट्रांसफर कर दिया जाएगा। 
  • किसान इन पेड़ों की कटाई कर उनके द्वारा आर्थिक मदद भी ले सकता है। 
  • इस योजना के तहत चुने जाने वाले लाभार्थियों को इस योजना का लाभ वन विभाग के माध्यम से प्रदान कराया जाएगा। 
  • ज्यादा जल संचय करने वाले पौधों को ऐसे स्थान पर लगाया जाएगा। जहां पर पानी का स्तर कम है। 
  • कृषक वृक्ष धन योजना के पात्र लाभार्थी आत्मनिर्भर और सशक्त बनेंगे। 
  • मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के माध्यम से राज्य में पौधे लगाना और उनके संरक्षण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू की गई योजना है। 

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है? 

यदि कोई भी व्यक्ति मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के तहत आवेदन करना चाहता है। तो उसको ऊपर दी गई पात्रता को पूरा करना आवश्यक है। और यदि वह इस योजना के लिए पत्र है तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर इस योजना का लाभ ले सकता है। 

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको सबसे पहले आपके क्षेत्र के ब्लॉक पर जाना होगा। 
  • बाहर जाने के पश्चात आपको मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के फॉर्म को वहां के कर्मचारियों से लेना होगा। 
  • इसके पश्चात फार्म में दिए गए निर्देश को ध्यानपूर्वक पढ़ना होगा ताकि फॉर्म को भरते वक्त किसी भी तरह की गलती ना हो जाए। 
  • इसके पश्चात आपको फॉर्म में पूछी गई जो भी आवश्यक जानकारी है, उसे सही-सही भर लें। और एक बार जानकारी भर जाने के पश्चात उसे दोबारा चेक कर लें। ताकि फॉर्म भरते वक्त आपसे कोई भी गलती ना हो जाए। 
  • फॉर्म भरने के पश्चात किस योजना में जो भी दस्तावेज मांगे गए हैं। उन दस्तावेजों की प्रतिलिपि को इस फार्म के साथ अटैच कर दें। 
  • जब आपका फॉर्म पूरी तरह से भर जाए तब इस फॉर्म को ब्लॉक के कर्मचारियों के माध्यम से जमा कर देना होगा। 
  • एक बार जब आप इस फोन को जमा कर देंगे, तो उसके पश्चात इस फॉर्म की प्रक्रिया शुरू होगी। और आपके दस्तावेजों की जांच की जाएगी और यदि आपके द्वारा प्रदान की गई सारी सभी जानकारी सही होगी। तो ऐसी स्थिति में आप इस योजना के लाभार्थी बन जाएंगे। 
  • इस प्रकार आप मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना का लाभ ले सकते हैं। 

Mukhyamantri Krishak braksha dhan yojana Related FAQ

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना क्या है?

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के तहत उत्तर प्रदेश राज्य में वृक्षारोपण कर को बढ़ावा देना तथा प्रदेश में हरित क्रांति की ओर अग्रसर करना है। जिसमें नरेगा लाभार्थी को इस योजना का लाभ दिलाना सुनिश्चित किया गया है।

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के माध्यम से कितने वृक्ष लगाने है? 

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के माध्यम से लाभार्थी को कम से कम 200 वृक्ष लगाने अनिवार्य है।

मुख्यमंत्री कृषक विकास धन योजना के तहत आर्थिक रूप से कितनी मदद मिलेगी?

इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश सरकार ने सुनिश्चित किया है कि इस योजना का लाभ लाने वाली लाभार्थी को ₹50000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के तहत कौन से पौधे लगाए जाएंगे? 

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के तहत नींबू , चीकू, आम, अमरूद कटहल, नीम, शीशम, बाबुल, यूकेलिप्टस जैसे वृक्षों को लगाया जाएगा।

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना को किसने तथा कौन से राज्य में शुरू किया गया?

मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना को योगी आदित्यनाथ द्वारा उत्तर प्रदेश में शुरू किया गया।

निष्कर्ष :-

दोस्तों आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धन योजना के बारे में बताया। कि इस योजना में आवेदन कर आप क्या-क्या लाभ ले सकते हैं? तथा इस योजना को शुरू करने की सरकार की क्या मनसा है? तथा इसका आर्टिकल के माध्यम से हमने मुख्यमंत्री कृषक वृक्ष धनरक्षा योजना से संबंधित कई और महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में भी बताया। जैसे इस योजना के तहत किन लाभार्थियों को लाभ दिया जाएगा? तथा इसकी पात्रता क्या होगी? ऐसे कई महत्वपूर्ण तथ्यों पर इस आर्टिकल के माध्यम से हमने चर्चा की है। आशा करते हैं इस आर्टिकल में बताई गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और यदि पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें।

Mukesh Chandra

मुकेश चंद्रा ने बीटेक आईटी से 2020 में इंजीनियरिंग की है। वह पिछले 5 साल से सामाजिक.इन पर मुख्य एडिटर के रूप में कार्यरत हैं, उन्हें लेखन के क्षेत्र में 5 वर्षों का अनुभव है। अपने अनुभव के अनुसार वह सामाजिक.इन पर प्रकाशित किये जानें वाले सभी लेखों का निरिक्षण और विषयों का विश्लेषण करने का कार्य करते है।

Leave a Comment