आजकल के दौर में प्रत्येक विद्यार्थी अपने भविष्य में सफल होने की भाग दौड़ में लगा हुआ है। सब अपनी इच्छा के बहुत सारे कोर्स इसको करते हैं और अपने जीवन में सफल भी होते हैं।

हर व्यक्ति कोई भी कोर्स अपने अच्छे भविष्य के लिए करता है। ताकि वह उससे अच्छी कमाई कर सके और अपने जीवन को बहुत ही सुगम तरीके से व्यतीत कर सकें। एएनएम कोर्स की संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के बाद आपके मन में यह सवाल अवश्य आया होगा कि

एएनएम एक चिकित्सा से संबंधित कोर्स है। इस कोर्स को करने के पश्चात कोई भी महिला एक नर्स के रूप में किसी भी अस्पताल और विभाग में कार्यरत होती है। एएनएम कोर्स एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स होता है।

अनेक प्रकार की शॉर्ट फॉर्म होती है। एएनएम की फुल फॉर्म “Auxiliary Nurse Midwifery” होती है। जिसे हिंदी में सहायक नर्स प्रस्तुति विद्या कोर्स के नाम से जाना जाता है।

एएनएम कोर्स केवल महिलाओं के द्वारा ही किया जाता है। यदि कोई पुरुष चिकित्सा के क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहता है। तो वह जीएनएम कोर्स कर सकता है। जिसके साथ वह एक नर्स की भांति ही अस्पताल में नौकरी कर पाता है।

एएनएम कोर्स 2 वर्ष का होता है। जिसमें से 18 महीने थ्योरी और प्रैक्टिकल के माध्यम से विद्यार्थियों को पढ़ाई कराई जाती है। इसके 6 महीने पश्चात इंटर्नशिप प्रदान की जाती है।

एएनएम कोर्स डिप्लोमा प्राप्त व्यक्ति की सैलरी शुरुआत में ₹10000 से लेकर ₹20000 तक होती है। जो आगे चलकर अनुभव के आधार पर बढ़ा दी जाती है और 30000 से ऊपर तक पहुंचाती है। विदेशों में भारत की तुलना में अधिक सैलरी प्रदान की जाती है।

एएनएम कोर्स में प्रवेश लेने से पहले विद्यार्थी को एक एंट्रेंस एग्जाम से होकर गुजरना पड़ता है। प्रवेश परीक्षा केवल सरकारी संस्थानों में मिल जाती है।

एएनएम कोर्स क्या होता है? अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें?