देश के किसानों की उत्पादन में वृद्धि लाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा बहुत से कदम उठाये जा रहे है और ये बहुत जरूरी भी है। 

क्योंकि देश की जनंसख्या इतनी बढ़ चुकी है कि अगर कृषि उत्पादन में वृद्धि नहीं कि गयी। तो भविष्य में देश के लोगों को खाद्यान पदार्थों की तंगी का सामना करना पड़ सकता है।

इसी बिंदु पर ध्यान केंद्रित करते हुए भारत सरकार द्वारा Soil Health Card Yojana 2022 को शुरू किया है।

जिसके अंतर्गत किसानों के खेतों की मिट्टी की जांच कर उन्हें बेहतर फसल का उत्पाद करने के लिये सुझाव प्रदान किये जाते है।

इस योजना के अंतर्गत सबसे पहले अधिकारी आपके खेत की मिट्टी का सैंपल इकट्ठा करते है।

इसके अंतर्गत किसानों को खेतों के अनुसार सही फसल उगाने का सुझाव प्रदान किया जाएगा।

सॉइल कार्ड के माध्यम से किसान अपने खेतों की मिट्टी का पूर्ण विवरण प्राप्त करने में समर्थ होंगे।

इस योजना के तहत किसानों को खेत की मिट्टी की जांच करके मृदा कार्ड प्रदान किया जाएंगे।

सॉइल हेल्थ कार्ड योजना क्या हैं? इससे जुडी ज्यादा जानकारी के लिए नीचे क्लिक करे।