सरकार द्वारा संत रविदास शिक्षा सहायता योजना का शुभारम्भ कराया है जिसके अंतर्गत विद्यार्थियों को प्रतिमाह छात्रवृति प्रदान की जाएगी।

संत रविदास शिक्षा सहायता योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के श्रमिक परिवारों से सम्बंध रखने वाले बच्चों की सहायता के लिए शुरू की गई कल्याणकारी योजना है जिसके अंतर्गत विद्यार्थियों को हर महीने छात्रवृत्ति उपलब्ध करायी जायेगी।

Sant Ravidas Shiksha Sahayta Yojana 2022 के अंतर्गत पहली कक्षा से लेकर बारवीं कक्षा और यहां तक कि आईटीआई, पॉलिटेक्निक जैसे डिप्लोमा को करने वाले नागरिक इस योजना के तहत आवेदन कर सकते है।

योजना को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के श्रमिक परिवारों से संबंध रखने वाले बच्चों की शिक्षा के स्तर को ऊंचा करने के लिए शुरू किया गया है।

– इस योजना के तहत वही विद्यार्थी लाभान्वित हो सकेंगे। जिनकी वार्षिक न्यूनतम उपस्थिति 60% है। – उत्तर प्रदेश रविदास शिक्षा सहायता योजना के तहत केवल एक परिवार के दो बच्चे ही लाभान्वित हो सकते हैं।

– यदि विद्यार्थी परीक्षा में फेल हो जाता है तो उसे इस योजना के अंतर्गत लाभान्वित मान्य जाएगा। – इस योजना के तहत लाभान्वित होने वाले विद्यार्थी किसी राज्य सरकार या केंद्र सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त विद्यालय या संस्थान में शिक्षित हो रहे हो।

– मेडिकल और इंजीनियरिंग के लिये स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त करने के लिए ₹8000 व किसी अन्य विषय पर खोज करने के लिए ₹12,000 रुपये प्रतिमाह की राशि प्रदान की जाएगी। जिसके लिए अधिकतम आयु 35 वर्ष रखी गयी है।

संत रविदास शिक्षा सहायता योजना उत्तर प्रदेश में निवास करने वाले श्रमिक परिवारों के बच्चों शिक्षा ग्रहण करने में आने वाली आर्थिक बाधाओं को दूर करने के लिए शुरू की गई योजना है।

संत रविदास शिक्षा सहायता योजना से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें-