हर व्यक्ति का सपना होता है कि वह अपनी life में Success बने। कोई भी व्यक्ति अपने जीवन मे तभी सफल बन सकता है। जब वह व्यक्ति अपनी Study करके एक Job प्राप्त कर ले। एक अच्छी salary वाली नौकरी प्राप्त करने के लिए हमें शुरुआत से ही अच्छे कदम उठाने पड़ते हैं।

जिन institute के द्वारा पीजीडीएम कोर्स कराया जाता है उन संस्थानों को AICTI के द्वारा मान्यता प्राप्त होती है। इसको आप तभी कर सकते हैं जब आपने 10वीं और 12वीं के साथ-साथ कोई भी बैचलर डिग्री की होगी जिसमें 50% से अधिक नंबर होंगे। डिप्लोमा में छात्रों को Marketing से जुड़े सभी विषयों के बारे में पढ़ाया जाता है।

अगर आपको PGDM full form नहीं पता है तो हम आपके लिए नीचे पीजीडीएम का पूरा नाम हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में उपलब्ध करा रहे हैं तो इसके बाद आप भी पीजीडीएम का पूरा नाम जान पाएंगे।

यदि आप पीजीडीएम कोर्स में एडमिशन लेना चाहते हैं तो आपको पीजीएडीएम में एडमिशन लेने के लिए CAT, XAT, GMAT, MAT, जैसे Entrance Exam भी देना होगा। क्योंकि Entrance Exam के आधार पर ही उम्मीदवार का एडमिशन PGDM में लेती है।

पीजीडीएम एक मार्केटिंग मैनेजमेंट कोर्स है जो भारत में कई संस्था द्वारा कराया जाता है यह कोर्स 4 से 6 सेमेस्टर में विभाजित होता है।

पीजीडीएम बिल्कुल एमबीए की तरह एक मैनेजमेंट कोर्स है जिसमें आपको Marketing से संबंधित सभी विषयों का अध्ययन कराया जाता है।

जी हां अगर आप पीजीडीएम डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं तो आपके पास कम से कम 3 साल की बैचलर डिग्री होना अनिवार्य है। जिसने अपने कम से कम 50% से अधिक अंक प्राप्त किए हो।

पीजीडीएम का पूरा नाम पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट होता है। जिसे करने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम निकालना पड़ेगा।

पीजीडीएम क्या है? अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें?