आज भारत के हर प्रदेश में बेरोजगारी एक अहम समस्या बनी हुई है। जिसमें मध्य प्रदेश का भी नाम शामिल है। 

इसलिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा केंद्र सरकार द्वारा मिलकर बहुत से ऐसे प्रयासों को किया जाता है।

जिससे प्रदेश की बेरोजगारी दर में कमी लायी जा सकें। जिसके लिए उनके द्वारा समय – समय पर बहुत से प्रयास किये जाते है और जिसके अंतर्गत मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना का शुभारंभ किया है।

जिससे प्रदेश में बेरोजगारी दर में कमी लाने में काफी सहायता मिलेगी।

इसलिए अगर आप भी मध्य प्रदेश के नागरिक हो तथा आपके पास रोजगार उपलब्ध नहीं है तो ये योजना आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण साबित हो सकती है।

इस योजना के अंतर्गत हर साल लगभग 2.5 लाख युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान करने का लक्ष्य मध्य प्रदेश सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है।

इस योजना के प्रदेश में सफलतापूर्वक संचालन के लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा कौशल विकास विभाग का गठन किया जाएगा।

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना के प्रदेश में शुरू होने से प्रदेश के युवाओं के जीवन स्तर में सुधार आएगा तथा बेरोजगारी दर कम होगी।

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना से जुडी ज्यादा जानकरी के लिए नीचे क्लिक करे।