जैसा की आप सभी को पता है कि आज के इस डिजिटल दौर में अधिकतर कार्य कंप्यूटर के माध्यम से ही किए जा रहे हैं।

जिसकी वजह से आज Computer operator या कहे डीआईओ की डिमांड बहुत अधिक बढ़ गयी हैं।

आज पब्लिक सेक्टर में ही नही बल्कि आज कंप्यूटर ऑपरेटर की demand प्राइवेट सेक्टर तथा गवर्नमेंट सेक्टर में भी बहुत अधिक है।

अगर आप कंप्यूटर ऑपरेटर के तौर पर कमाई करना चाहते हैं तो पहले तो आपको कंप्यूटर से संबंधित सभी बेसिक नॉलेज होनी जरूरी है।

कंप्यूटर ऑपरेटर के तौर पर कैरियर बनाने के लिए आप को कम से कम 10वीं या 12वीं कक्षा पास करनी होगी कई क्षेत्रों में ग्रेजुएशन की भी डिमांड की जाती है।

कंप्यूटर ऑपरेटर ऐसी जॉब है जिसमें आपको इंग्लिश टाइपिंग के साथ साथ कभी कभी हिंदी में Type करना पड़ सकता है। इसलिए आपको हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में टाइपिंग आनी चाहिए।

यदि आप कंप्यूटर ऑपरेटर की जॉब प्राप्त करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि कंप्यूटर ऑपरेटर का मुख्य कार्य डाटा एंट्री करना होता है जिसके लिए आपकी टाइपिंग स्पीड बहुत ही फास्ट होनी चाहिए।

कंप्यूटर से डाक्यूमेंट्स फाइल तैयार करने के लिए आपको कंप्यूटर में इस्तेमाल किए जाने वाले एप्लीकेशन जैसे एमएस ऑफिस एम एस एक्सेल तथा एमएस पावरप्वाइंट प्रोजेक्शन के बारे में अच्छा ज्ञान होना चाहिए।

कंप्यूटर ऑपरेटर कैसे बने? इससे जुडी ज्यादा जानकरी के लिए नीचे क्लिक करे।