पटवारी कैसे बने? योग्यता, पात्रता और तैयारी कैसें करें?

आज के युवाओं में सरकारी नौकरी का क्रेज़ बहुत बढ़ गया है और वे इसे प्राप्त करने के लिए बहुत सी मेहनत कर रहे है। लेकिन सफल केवल वही युवा होते है, जो कि सटीक लक्ष्य के साथ अपनी तैयारी को करते है औऱ बिना रुके इसे धीरे – धीरे लंबे समय तक प्रारम्भ रखते है। ऐसे ही कुछ पाठक है जिनका लक्ष्य पटवारी बनाना है या पटवारी को बहुत से क्षेत्रों में इसे लेखपाल, पटेल, कारनाम आदि के नाम से भी जानते है।

जो कि राजस्व विभाग के अंतर्गत आने वाली एक सम्मानित पोस्ट होती है। इसलिए अगर आप भी एक सरकारी नौकरी को प्राप्त करने का उद्देश्य रखते रहे है तो पटवारी आपके लिए अच्छा ऑप्शन हो सकता है। लेकिन बहुत से रीडर्स को अभी पटवारी के बारे में उचित जानकारी नहीं है, जिस कारण उनके दिमाग में इसको लेकर बहुत से संकोच चल रहे है।

इसी प्रकार के संकोचों को दूर करने के लिए हमने इस लेख को तैयार किया है, जिसमें हम आपको बताएंगे कि पटवारी कैसे बनें? और इससे संबंधित सभी महत्वपूर्ण बिंन्दुओं जैसे – योग्यता, वेतन, न्यूनतम आयु आदि के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे। इसलिए आर्टिकल में अंत तक हमारे साथ बने रहें। तो चलिए शुरू करते है –

पटवारी क्या होता है? | What is a Patwari?

पटवारी जिसे आमतौर पर लेखपाल, कारनामा अधिकारी, शाननबोहरु आदि के नाम से भी जाना है। जोकि राजस्व विभाग द्वारा जारी किया जाने वाला एक ग्राम लेवल का अधिकारी होता है, जिसकी मुख्य भूमिका भूमि सम्बंधित विवादों को निपटाने एवं भूमि संबंधित लेखा जोखे को रखने की होती हैं।

इसके अलावा तहसील स्तर पर जारी किये जाने वाले महत्वपूर्ण दस्तावेजों जैसे- आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, मूल निवास प्रमाण पत्र, जन्म प्रमाण आदि को निरीक्षित करके पटवारी द्वारा ही जारी किए जाते है। तो आइये पटवारी से संबंधित अन्य महत्वपूर्ण बातों के बारे में जानते है –

पटवारी कैसे बनें? | How to become a Patwari?

जब भी विभाग में पटवारी हेतु रिक्त पद होते है, तो राज्य सरकार द्वारा चयन होने हेतु अधिसूचना जारी की जाती है, जिसके बाद योग्य नागरिक आवेदन कर सकते है, जिसके बाद विभाग द्वारा सभी आवेदिका की परीक्षा संम्पन करायी जाती है और पद हेतु योग्य उम्मीदवार का पता लगाने के लिए मेरिट जारी की जाती है, इस पश्चात अगर आपका नाम उस लिस्ट में आता है, तो आप डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए बुलाया जायेगा और अगर सब कुछ ठीक साबित होता है तापश्चात नियुक्ति पत्र जारी कर दिया जायेगा।

पटवारी हेतु योग्यताएं | Qualifications for Patwari

यदि आप पटवारी कैसे बनें? के बारे में पढ़ रहे है, तो आपको ये पता होना भी आवश्यक है कि पटवारी बनाने के लिए आवेदक के पास किन योग्यताओं का होना आवश्यक है, जो कि कुछ निम्न है –

पटवारी पद के लिए आयु सीमा | Age Limit for Patwari Post

किसी भी पद के लिए विभाग द्वारा एक विशेष आयु सीमा सुनिश्चित की जाती है, उसी प्रकार विभाग द्वारा पटवारी बनने के लिए न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष और अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष निर्धारित की गयी है। इसके अलावा आरक्षित वर्ग के विद्यार्थिओं को विभाग द्वारा नियमानुसार आयु सीमा में विशेष छूट भी प्रदान की जाती है।

पटवारी पद के लिए शैक्षिक योग्यता | Educational Qualification for Patwari Post

पटवारी पद पर कार्यरत होने के लिए अभ्यार्थी इंटरमीडिएट परीक्षा उत्तीर्ण कर चुका है और आवेदक के पास निएलिट द्वारा प्रमाण सीसीसी (कोर्स ऑफ कंप्यूटर कॉन्सेप्ट) का प्रमाण पत्र उपलब्ध होना चाहिए। हालांकि कुछ समय CCC सर्टिफिकेट विभाग पटवारी बनाने के लिए अवश्य नहीं था। लेकिन अब कम्प्यूटरलाइजेशन बड़ा है। तो इसका होना आवश्यक कर दिया गया है।

पटवारी पद के लिए पटवारी का वेतन

वैसे तो पटवारी के वेतन कितना होता है इसके बारे सुनिश्चित जानकारी देना संभव नहीं है। क्योंकि समय – समय पर पटवारियों के वेतन को बढ़ाया जाता रहता है, लेकिन आमतौर पर इनका वेतन 21,700 से 69,100 रुपये होता है और इसके अलावा इन्हें मंहगाई भत्ता, मोबाइल/टेलीफोन खर्च, इंटरनेट सुविधा, मकान किराया भत्ता, यात्रा भत्ता आदि प्रदान किये जाते है।

पटवारी के कार्य | work of patwari

पटवारी पद पर चयनित होने वाले व्यक्ति को क्या – क्या कार्य करने होते हैं। उसकी जानकारी नींचे दी गयी हैं –

  • जमीन से संबंधित कार्य पटवारी के द्वारा कराए जाते हैं।
  • सरकारी कागजात जैसे आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र आदि पटवारी की देख रेख में ही बनाएं जाते हैं।
  • सरकार के द्वारा चलाई जा रही वृद्धा विकलांग पेंशन योजनाओं का लाभ लाभार्थियों तक पहुंचाना।
  • जमीन का क्रय विक्रय भी लेखपाल पटवारी की देखरेख में होता है।

पटवारी परीक्षा भर्ती की तैयारी कैसे करें? | How to prepare for Patwari Exam Recruitment

पटवारी बनाने के लिए हर राज्य सरकार द्वारा विशेष पाठ्यक्रम जारी किया जाता है, जिसके बारे में आप पता लगाकर तैयारी कर सकते है। इसके पश्चात हम आपकी बेहतर जानकारी के लिए नीचे कुछ पॉइंट्स साझा कर रहे है। जो पटवारी परीक्षा भर्ती के सहायक होंगे। जो कि निम्न प्रकार है –

पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों हल करें?

अगर आप पटवारी भर्ती परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते है, तो पिछले कुछ वर्षों में करायी गयी पटवारी भर्ती परीक्षा प्रश्न पत्रों को हल करें। जिससे आपको काफी सहायता होगी।

इंटरनेट का प्रयोग करें?

बेहतर तैयारी के लिए आप इंटरनेट की सहायता भी लड़ सकते है। क्योंकि इंटरनेट पर बहुत सी वेबसाइट्स है जो मास्को टेस्ट करवाती है, जिन्हें रोजाना करें? इसके अलावा यूट्यूब पर बहुत टीचर्स है, जो फ्री या पेड भर्ती परीक्षा की तैयारी कराते है। उनसे जुड़े जो कि। आपके लिए काफी मददगार साबित होंगे।

समय सारणी बनाएं?

पटवारी भर्ती परीक्षा तैयारी के लिए एक समय सारणी तैयार करें? और उसके अनुसार परीक्षा की तैयारी करें? जो काफी महत्वपूर्ण साबित होगी।

How to Become a Patwari Related FAQ

पटवारी क्या होता है?

पटवारी एक ग्राम लेवल का अधिकारी होता है। जिसकी नियुक्ति राज्य सरकार द्वारा की जाती है और यह जमीन सम्बंधित विवादों को निपटाने के काम करता है।

पटवारी भर्ती परीक्षा का समय क्या होता है?

पटवारी भर्ती परीक्षा का समय 1 घंटा 30 मिनट होता है। जिसमें आपको 100 प्रश्नों को हल करना होता है।

पटवारी हेतु न्यूनतम शिक्षा क्या रखी गई है?

पटवारी हेतु आवेदक न्यूनतम 12वीं पास और CCC सर्टिफिकेट होना आवश्यक है।

पटवारी हेतु आवेदन के लिए आवेदन शुल्क क्या निर्धारित किया गया है?

इसके बारे में सटीक जानकारी देना संभव नहीं है। क्योंकि हर प्रदेश सरकार द्वारा अलग – अगल आवेदन2 शुल्क रखा जाता है।

पटवारी का वेतन कितना होता है?

पटवारी का वेतन 21,700 से 69,100 रुपये तक होता है।

निष्कर्ष –

आज हमने आपको इस लेख में पटवारी कैसे बनें? के बारे में सम्पूर्ण जानकारी साझा की। उम्मीद करते है कि इसके बारे में पढ़कर आपको काफी अच्छा लगा होगा। इसके अलावा अगर आप पटवारी से संबंधित कोई अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है। तो कमेंट कर सकते है। क्योंकि हमारी टीम आपकी सुविधा के लिए सदैव साक्रिय रहती है। इसलिए आपकी कमेंट का प्रतिउत्तर में जल्द से जल्द जबाब दिया जायेगा।

Main Points

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।