नर्सरी टीचर किसे कहते हैं? | नर्सरी टीचर कैसे बने?

आज के कुछ युवा ऐसे भी होते हैं, जो बच्चों के साथ रहना बेहद पसंद करते हैं। इसीलिए वह बच्चों के साथ ज्यादा से ज्यादा समय व्यतीत करते हैं। परंतु हर युवा को अपने भविष्य के बारे में भी सोचना पड़ता है। ताकि वह अपनी जिंदगी आसानी से जी सके। इसीलिए बहुत से लोग नर्सरी टीचर बनने का सपना सजाते हैं। ताकि वह अपने भविष्य को बनाने के साथ-साथ अपनी रुचि को भी बढ़ावा दे सकें। इसीलिए हमारे द्वारा यहां उन सभी लोगों के लिए Nursery teacher kon hota hai? Nursery teacher kaise bane? इसके बारे में जानकारी दी जा रही है। यह जानकारी आप सभी के लिए बेहद फायदेमंद साबित होगी।

नर्सरी टीचर बनने के लिए आप लोगों को मेहनत तो करनी पड़ेगी। परंतु नर्सरी टीचर बनने के लिए सही दिशा में मेहनत करना बेहद आवश्यक है। इसीलिए आप लोगों को नर्सरी टीचर से संबंधित संपूर्ण जानकारी के बारे में पता होना चाहिए। यदि आप इसकी सही जानकारी को हासिल नहीं करेंगे। तो इस क्षेत्र में सही दिशा में मेहनत नहीं कर सकेंगे। इसीलिए हमारे द्वारा आप सभी को What is the nursery teacher? How to become a nursery teacher? Salary of a nursery teacher? आदि के बारे में बताया गया है। यदि आप इससे संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको हमारा यह लेख अंत तक पढ़ना होगा।

नर्सरी टीचर किसे कहते हैं? (What is the nursery teacher?)

नर्सरी टीचर बनने के लिए आगे कदम बढ़ाने से पहले आपको यह जानना बेहद जरूरी है कि नर्सरी टीचर किसे कहते हैं? इसीलिए हमारे द्वारा यहां आप सभी को सबसे पहले What is the nursery teacher? इसके बारे में बताया गया है। नर्सरी क्लास के बच्चों को पढ़ाने वाले व्यक्ति को ही नर्सरी टीचर के नाम से जाना जाता है। यह टीचर विशेषकर नर्सरी/ एलकेजी/ यूकेजी के बच्चों को पढ़ाते हैं। पढ़ाने के साथ-साथ इनके द्वारा बच्चों की देखभाल भी की जाती है अर्थात हम कह सकते हैं कि नर्सरी टीचर के द्वारा बच्चों को शिक्षित करने के साथ-साथ उनके संपूर्ण व्यक्तित्व का विकास भी किया जाता है।

नर्सरी टीचर किसे कहते हैं नर्सरी टीचर कैसे बने

नर्सरी टीचर कैसे बने? (How to become a nursery teacher?)

दोस्तों, बहुत से ऐसे युवा होंगे, जो नर्सरी टीचर बनने के इच्छुक होंगे। परंतु उन्हें नहीं पता होगा कि नर्सरी टीचर कैसे बने? यदि आप सभी लोग नर्सरी टीचर बनना चाहते हैं, तो आपको इसकी जानकारी आवश्यक तौर पर पता होनी चाहिए। इसीलिए हमारे द्वारा आप सभी को नीचे How to become a nursery teacher? के बारे में बताया जा रहा है। यह संपूर्ण जानकारी विस्तार पूर्वक निम्न प्रकार दी गई है-

  • नर्सरी टीचर बनने के लिए उम्मीदवार को सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा अपनी इच्छानुसार स्ट्रीम के साथ अच्छे नंबरों से पास करनी होगी।
  • 12वीं कक्षा पास करने के बाद उम्मीदवार को मान्यता प्राप्त संस्थान से नर्सरी टीचर बनने हेतु एनटीटी का कोर्स करना होगा।
  • नर्सरी ट्रेनिंग टीचर कोर्स करने के बाद उम्मीदवार को नर्सरी टीचर के लिए किसी भी स्कूल में आवेदन करना होगा।
  • समय-समय पर सरकार द्वारा नर्सरी टीचर की भर्तियां निकाली जाती है। जैसे ही सरकार द्वारा भर्तियां निकाली जाएं, आप इसमें आवेदन कर सकते हैं।
  • नर्सरी टीचर के लिए हर राज्य के द्वारा समय-समय पर भर्तियां निकाली जाती हैं। आप योग्यताओं के अनुसार किसी भी राज्य में नर्सरी टीचर बनने हेतु सक्षम हो सकते हैं।
  • आवेदन करने के तत्पश्चात आपको निर्धारित तिथि पर एक परीक्षा देनी होती है। यह परीक्षा लिखित परीक्षा होती है।
  • जब आप लिखित परीक्षा को पास कर लेते हैं, तो आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।
  • साक्षात्कार को पास करने के बाद ही आप एक नर्सरी टीचर के रूप में कार्यरत हो सकते हैं।
  • हमारे द्वारा ऊपर आपको संपूर्ण जानकारी बता दी गई है, कि आप किस प्रकार एक नर्सरी टीचर बन सकते हैं।

नर्सरी टीचर बनने की योग्यताएं? (Qualification for becoming a nursery teacher?)

नर्सरी टीचर बनने के लिए उम्मीदवार के अंदर योग्यताओं का होना आवश्यक है। तभी वह किसी पद पर कार्यरत हो सकता है। यदि आप भी नर्सरी टीचर बनना चाहते हैं, तो आपके अंदर नर्सरी टीचर बनने की योग्यताएं होना आवश्यक है। हमारे द्वारा आप सभी को Qualification for becoming a nursery teacher? के बारे में संपूर्ण जानकारी विस्तार पूर्वक बताई गई है। यह जानकारी निम्न प्रकार है-

  • उम्मीदवार का किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा अपनी इच्छानुसार स्ट्रीम के साथ पास करना अनिवार्य है।
  • इसके अलावा उम्मीदवार को एनटीटी यानी नर्सरी टीचर ट्रेनिंग कोर्स करना होगा।
  • इसीलिए उम्मीदवार के पास नर्सरी टीचर ट्रेनिंग कोर्स का प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • इसके साथ-साथ उम्मीदवार के पास B.Ed की डिग्री होनी आवश्यक है।
  • नर्सरी टीचर वह उम्मीदवार बन सकता है। जिस की न्यूनतम आयु 18 वर्ष निर्धारित की गई है।
  • वही नर्सरी टीचर बनने के लिए अधिकतम आयु 45 वर्ष निर्धारित की गई है।
  • जो उम्मीदवार पिछड़े वर्ग यानी ओबीसी के अंतर्गत आते हैं। उन्हें इस आयु सीमा में 3 वर्ष की प्रदान की जाती है।
  • तथा जो उम्मीदवार अनुसूचित जाति व जनजाति यानी एससी / एसटी वर्ग के अंतर्गत आते हैं। उन्हें इस आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट प्रदान करने का प्रावधान है।
  • ऊपर दी गई संपूर्ण योग्यता यदि किसी व्यक्ति के अंदर है, तो वह नर्सरी टीचर बनने में सक्षम हो सकता है।

नर्सरी टीचर की चयनित प्रक्रिया? (Selection process for nursery teacher?)

नर्सरी टीचर बनने के लिए उम्मीदवार को परीक्षा देनी पड़ती है। यह एक प्रकार की लिखित परीक्षा होती है। जब उम्मीदवार लिखित परीक्षा को पास कर लेता है। उसके तत्पश्चात ही वह नर्सरी टीचर बन पाता है। परंतु लिखित परीक्षा के अंतर्गत अभ्यार्थी बहुत आसानी से उत्तीर्ण नहीं होते हैं। इस परीक्षा को पास करने के लिए अभ्यार्थियों को दिन रात मेहनत करनी पड़ती है। यदि अभ्यर्थी इस लिखित परीक्षा को पास कर लेता है, तो उसे इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। इंटरव्यू में पास होने वाले अभ्यार्थियों का सिलेक्शन नर्सरी टीचर के पद पर कर लिया जाता है।

नर्सरी टीचर की सैलरी? (Salary of a nursery teacher?)

जो युवा नर्सरी टीचर के रूप में अपना भविष्य बनाने के इच्छुक हैं। उन्हें इस बात की जानकारी होनी चाहिए, कि नर्सरी टीचर को कितनी सैलरी प्रदान की जाती है? हमारे द्वारा यहां आप सभी को salary of a nursery teacher? के बारे में बताया गया है। सभी राज्यों में सरकारी टीचर की सैलरी भिन्न-भिन्न होती है। साथ ही साथ सरकारी और प्राइवेट संस्थानों में भी नर्सरी टीचर को अलग-अलग सैलरी दी जाती है। यदि आप निजी संस्थान में नर्सरी टीचर बनते हैं, तो आपको ₹15 हज़ार रुपए से लेकर ₹20 हज़ार रुपए प्रतिमाह सैलेरी प्रदान की जाती है। वहीं यदि आप सरकारी स्कूल में नर्सरी टीचर बनते हैं, तो आपको ₹9300 से लेकर ₹40000 प्रतिमाह सैलरी प्रदान की जाती है।

नर्सरी टीचर किसे कहते हैं कैसे बने? इससे संबंधित प्रश्न व उत्तर (FAQs)

Q:-1. नर्सरी टीचर किसे कहते हैं?

Ans:-1. नर्सरी टीचर उस व्यक्ति को कहते हैं, जो नर्सरी क्लास के बच्चों को पढ़ाता है। नर्सरी टीचर बनने के लिए सभी को बहुत मेहनत करनी पड़ती है। नर्सरी टीचर के द्वारा बच्चों को शिक्षित किया जाता है। साथ ही उन्हें बेसिक नॉलेज भी दी जाती है।

Q:-2. नर्सरी टीचर कैसे बने?

Ans:-2. नर्सरी टीचर बनने के लिए युवाओं को 12वीं कक्षा अच्छे नंबरों के साथ पास करना आवश्यक है। इसके तत्पश्चात उन्हें स्नातक की डिग्री प्राप्त करनी होगी। फिर उन्हें नर्सरी टीचर कि निकलने वाली भर्तियों पर आवेदन करना होगा। इस प्रकार आप इस परीक्षा को पास करने नर्सरी टीचर बन जाएंगे।

Q:-3. नर्सरी टीचर का क्या कार्य होता है?

Ans:-3. नर्सरी टीचर के द्वारा नर्सरी कक्षा के बच्चों को पढ़ाया जाता है। साथ ही साथ इनके द्वारा यूकेजी/ एलकेजी आदि कक्षाओं के बच्चों को भी शिक्षा दी जाती है। यह शिक्षक बच्चों को शिक्षित करने के साथ-साथ उनके व्यक्तित्व का भी विकास करते हैं

Q:-4. नर्सरी टीचर की चयनित प्रक्रिया क्या होती है?

Ans:-4. नर्सरी टीचर बनने के लिए हर राज्य के द्वारा नर्सरी टीचर भर्ती निकाली जाती है। इन भर्तियों में आवेदन करने के तत्पश्चात एक निर्धारित तिथि पर अभ्यार्थियों को परीक्षा देनी होती है। परीक्षा पास करने के तत्पश्चात उम्मीदवारों को इंटरव्यू पास करना होता है। इस प्रकार नर्सरी टीचर की चयन प्रक्रिया पूरी होती है।

Q:-5. नर्सरी टीचर की निजी स्कूलों में कितनी सैलरी होती है?

Ans:-5. नर्सरी टीचर बनने के लिए आप निजी स्कूलों में भी अप्लाई कर सकते हैं। निजी स्कूलों में नर्सरी टीचर की सैलरी ₹15 हज़ार रुपए प्रति माह से लेकर ₹20 हज़ार रुपए प्रति माह तक होती है।

Q:-6. नर्सरी टीचर की सरकारी स्कूल में कितनी सैलरी होती है?

Ans:-6. नर्सरी टीचर कि सरकारी स्कूल में ₹9300 से लेकर ₹40 हज़ार रुपए प्रति महा सैलरी होती है। साथ ही साथ अन्य सुविधाएं भी एक नर्सरी टीचर को प्राप्त होती हैं।

निष्कर्ष (Conclusion)

आज हमारे द्वारा आप सभी को इस आर्टिकल के अंतर्गत Nursery teacher kon hota hai? Nursery teacher kaise bane? Nursery teacher ki salary? आदि के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी जा रही है। बहुत से लोग जो बच्चों के साथ समय व्यतीत करना पसंद करते हैं तथा अपना भविष्य भी उज्जवल बनाना चाहते हैं। वह नर्सरी टीचर बन सकते हैं। हमें उम्मीद है कि आप सभी को हमारे द्वारा दिया गया यह लेख बेहद पसंद आया होगा। यदि आप सभी को यह जानकारी पसंद आई हो, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बता सकते हैं। साथ ही इस लेख को अपने सभी जरूरतमंद दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले।

रिया आर्या

मैं शाहजहाँपुर उत्तर प्रदेश की रहने वाली हूँ। शुरू से ही मुझे डायरी लिखने में रुचि रही है। इसी रुचि को अपना प्रोफेशन बनाते हुए मैं पिछले 3 साल से ब्लॉग के ज़रिए लोगों को करियर संबधी जानकारी प्रदान कर रही हूँ।

Comment (1)

Leave a Comment