GDP क्या है? | GDP Full Form In Hindi

GDP full Form In Hindi :– आपने अक्सर लोगो से GDP के बारे में बाते करते जरूर सुना होगा, जिन्हें सुनकर आपके मन मे भी यह सवाल आता है कि जीडीपी क्या है(What is GDP in Hindi), अगर आपके लिए GDP के बारे में बिल्कुल कुछ भी नहीं पता तो आज के इस पोस्ट में हम GDP kya hai in Hindi के बारे में बात करेंगे। इस पोस्ट के माध्यम से आज हम आप सभी को जीडीपी क्या होता है और इसका फुल फॉर्म क्या है? और यह क्यों महत्वपूर्ण है? यह सारी जानकारी सरल भाषा में देंगे।

जीडीपी क्या है? | What is GDP in Hindi

GDP क्या है  GDP Full Form In Hindi

पूरी दुनिया में कई देश हैं और प्रत्येक देश लगातार तरक्की करना चाहता है और इसी वजह से देशों में कई तरह के नए नए उद्योग लगाए जाते हैं। इन उद्योग के द्वारा उपयोग होने वाली वस्तुएं भी उत्पादन तैयार किये जाते हैं, लेकिन बहुत सी ऐसी वस्तुएं होती हैं अनेक देश में उत्पादन की वस्तुओं को खुद के देश में उत्पाद न करके उन्हें विदेशों से आयात किया जाता है इसके अलावा जिन चीजों का उत्पादन खुद के देश में होता है उनको दूसरे देशों को उनका निर्यात किया जाता है।

इससे दूसरे देश की इकोनामी होती है अपने देश में आती है। कई सारे ऐसे उद्योग हैं जो अपने खुद के देश में ऐसी चीजों का उत्पादन करते है जो विदेशों जिनकी आवश्यकता दूसरे देशों में होती है। जिससे इन बस्तुओं का निर्यात करके अपने देश में तेजी से विकास किया जा सके। कई लोगो को जीडीपी के बारे में अच्छी जानकारी होती है। जिन लोगों को GDP के बारे में जानकारी है.

वह अक्सर यह पता करते रहते हैं कि अभी हमारे देश की जीडीपी कितनी है। जिसकी मदद से यह पता लगायाजाता है कि देश की प्रगति किस गति से हो रही है। अगर देश मे GDP में लगातार बढ़ोतरी होती है तो इसका मतलब है कि देश का विकास हो रहा है और अगर यह नीचे जा रहा है मतलब हमारे देश का जो उत्पादन है या जो विकास है वह कम हो रहा है।

Full Form of GDP in Hindi

सकल घरेलू उत्पाद

Full Form of GDP in English

GROSS DOMESTIC PRODUCT

 GDP Meaning in Hindi

हमारे देश में किए गए उत्पादन की बस्तुओ अथवा सभी चीजों का जो कुल मूल्य को जीडीपी कहते हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि उत्पादन सरकार या नागरिकों द्वारा तैयार किया गया है या दूसरे देशों के द्वारा बनाए गए हैं। अगर कोई भी वस्तु या सेवा देश के बॉर्डर के अंदर में स्थित है तो उन का उत्पादन सकल घरेलु उत्पाद में शामिल किया जाता है।

डबल काउंटिंग से बचने के लिए सकल घरेलू उत्पाद(GDP) में उत्पादन का अंतिम मूल्य शामिल किया जाता है जैसे कि मान लीजिए कोई उधोग एक जूता बनाती है तो इसमें जो अंतिम उत्पाद यानी जूता बिकने के लिए तैयार होता है सिर्फ उसी का मूल्य शामिल किया जाता है। यानी जूते के अलग-अलग भाग के मूल्यों को नहीं लिया जाता है बल्कि जो एक अंतिम पूरा उत्पाद तैयार होता है उसका अंतिम मूल्य जोड़ा जाता है।

जीडीपी का महत्व क्या है? | What is the importance of GDP

  • GDP एक अर्थव्यवस्था के सुधार के लिए सबसे अच्छा उपाय है, रिसर्च और मिलने वाले डाटा में सुधार के साथ स्टैटिसटिक्स और सरकार जिस Gross Domestic Product (GDP) के मजबूत करने के उपाय को पता लगाने के लिए कोशिश करती है.
  • इसमें खर्च निवेश में होने वाले के खर्च , सरकारी खर्च और शुद्ध निर्यात को शामिल किया जाता है इसीलिए GDP की मदद से अर्थव्यवस्था के सभी खर्चों जानकारी प्राप्त की जा सकती है।
  • GDP में हर एक कॉम्पोनेंट को उसी के रिलेटिव प्राइस को महत्व दिया जाता है। और बाजार की कीमतों पर क्लिक करता क्योंकि उत्पादक के लिए मार्जिनल कॉस्ट और उपभोक्ता के लिए दोनों को दर्शाया जाता है ताकि लोग ऐसे उत्पादों को  ऐसी कीमत पर बेचते हैं जिसके लिए दूसरे भुगतान करने के लिए तैयार हो जाये।
  • इससे इन्वेस्टर्स को अर्थव्यवस्था की स्थिति के बारे में मार्गदर्शन प्रदान करके उनके पोर्टफोलियो को प्रबंधित करने में मदद करता है.

GDP के फायदे क्या है? | What are the benefits of GDP

Higher average incomes

यह उपभोक्ताओं के लिए अधिक वस्तुओं और सेवाओं का आनंद लेने तथा जीवन जीने में सक्षम बनाता है यह देश के आर्थिक विकास गरीबी के पूर्ण स्तर को कम करने और जीवन प्रत्याशी में विधि को सक्षम करने का यह एक प्रमुख साधन है।

Lower unemployment

अधिक उत्पादन और पॉजिटिव आर्थिक विकास के साथ, देश में कंपनियां अधिक रोजगार पैदा करती हैं जिससे कारण लोगो को अधिक रोजगार दिया जा सकता है।

Improved public services

बढे हुए टैक्स के साथ सरकार पब्लिक सेवा जैसे नेशनल हाईवे और एजुकेशन पर अधिक खर्च कर सकती है जिससे देश का काफी विकास हो सकता है।

Investment

इसके द्वारा कंपनियाँ अपनी भविष्य की मांग को पूरा करने के लिए निवेश करने के लिए प्रोत्साहित रहती है उच्च निवेश भविष्य के आर्थिक वृद्धि को बढ़ाता है।

भारत की GDP कितनी है? | What is the GDP of India

वर्तमान समय में भारत की GDP ग्रोथ रेट  23.9% के आसपास है।

GDP के अंतर्गत कौन-कौन से उत्पाद और सेवाओं के मूल्यों की गणना की जाती है?

जीडीपी के तहत सभी निजी और सार्वजनिक खपत, सरकारी खर्चे, निवेश प्राइवेट इन्वेंटरी, कंस्ट्रक्शन में होने वाले खर्चे विदेशी व्यापार का संतुलन यानी कि जो निर्यात की जाती है।

जीएनपी क्या है? | What is GNP?

जीएनपी एक अर्थव्यवस्था के नागरिकों के पूरे उत्पादन को मापता है जिसमें विदेश में रहने वाले लोग शामिल हैं. जबकि विदेशियों द्वारा घरेलू उत्पादन को इसमें शामिल नहीं किया गया है. वैसे तो GDP की गणना सालाना की जाती है लेकिन जीएनपी की गणना 3 महीनों में एक बार की जाती है.

जीडीपी की गणना करने का सूत्र क्या है?

इस मानक सूत्र का GDP = C + I + G + (X – M) इसका उपयोग करके देश के सकल घरेलू उत्पाद की गणना आसानी से की जा सकती हैं, जहाँ

C – Private consumption

I – Gross investment

G – Government investment

X – Exports

M – Imports

निष्कर्ष

आज हमने आपको अपने इस आर्टिकल में GDP क्या है? | GDP Full Form In Hindi के बारें में हििंदी में पूरी जानकारी शेेेेयर की है। मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको इस आर्टिकल में दी गयी जीडीपी के बारे में जानकारी दी पसन्द आयी होंगी।

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।