फ्रॉड/ फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें? साइबर सेल में कंप्लेंट कैसे करें?

|| Farji call ki shikayat kaha kare, फर्जी कॉल शिकायत नंबर UP, फर्जी कॉल शिकायत नंबर bihar, फर्जी कॉल शिकायत नंबर mp, फर्जी कॉल शिकायत नंबर Rajasthan, ऑनलाइन ठगी की शिकायत कैसे करे, धोखाधड़ी की शिकायत कहां करें ||

आजकल तकनीक का जमाना हैं और सब कुछ बहुत ही तेजी के साथ बदल रहा हैं। एक समय में किसी किसी के पास ही मोबाइल फोन की सुविधा हुए करती थी और आज के समय में किसी के मोबाइल ना हो तो (Fake call ki complaint kaise kare) आश्चर्य सा लगता हैं। लेकिन कहते हैं ना कि जिस गति से हम उन्नति करते हैं या आगे बढ़ते हैं उतनी ही गति से उस श्रेणी में अपराध की संख्या भी बढ़ जाती हैं।

अब इसी में नाम जुड़ गया हैं फर्जी कॉल का जिससे (Fake call ki shikayat kaha kare) हम में से ज्यादातर सभी लोग जूझ रहे होंगे। आपको अपने जीवन में अभी तक कई फर्जी कॉल्स का सामना करना पड़ा होगा। कितनी ही बार आप उनसे परेशान भी हो गए होंगे और आपको उन फर्जी कॉल की रिपोर्ट करने का मन भी किया होगा।

ऐसी स्थिति में यदि आपको इन फर्जी कॉल का रिपोर्ट करने का सही तरीका नही पता होता हैं तो आप भ्रम में पड़ जाते हैं। इसलिए आज हम आपको फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें या फिर फर्जी कॉल की रिपोर्ट कैसे करें इत्यादि के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे।

फर्जी कॉल की शिकायत कहां और कैसे करें? (Farji call ki shikayat kaha kare)

फर्जी कॉल की शिकायत करने से पहले हमारा यह जानना आवश्यक हैं कि आखिरकार एक फर्जी कॉल होती क्या हैं और उसे पहचाना कैसे जाए और इन्हें किस कारण से रिपोर्ट करना पड़ सकता हैं। यदि आप पूरी जानकारी के साथ किसी फर्जी कॉल की शिकायत करेंगे तो ज्यादा बेहतर रहेगा। तो आइए सर्वप्रथम जाने फर्जी कॉल के बारे में सब जानकारी विस्तार से।

फ्रॉड/ फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें? साइबर सेल में कंप्लेंट कैसे करें?

फर्जी कॉल क्या होती हैं (Fake call kya hota hai)

सबसे पहले तो अपने मोबाइल पर आने वाली सामान्य कॉल की बात की जाए। आप दिनभर में कितने ही लोगों की कॉल आती होगी उसमे से कुछ आपके जानकर होंगे तो कुछ अन्य लोग। कहने का तात्पर्य यह हुआ कि इनमे से कुछ संपर्क आपके (Fake call kya h) मोबाइल में पहले से ही सेव हिंगे तो कुछ अनजान नंबर होंगे।

अब यह अनजान नंबर जरुरी नही कि हमेशा फर्जी कॉल ही हो। कई बार किसी से गलती से गलत नंबर डायल हो जाता हैं तो कभी यह आपके ही किसी जानकर का नंबर होता हैं जिसका नुम्ब्वर अभी तक आपके मोबाइल में सेव नही था या आप करने वाले थे। तो कई बार यह आपके काम के सिलसिले में या बिज़नेस से या ऑफिस के किसी व्यक्ति से या किसी ग्राहक का फोन हो सकता हैं।

ऐसे में फर्जी कॉल वह होती हैं जो आपको बिना किसी मतलब के और आपको बिना किसी जानकारी के या आपको बिना कभी मिले या बिना आपसे पहले भी बात किये, आपको कोई आकर्षक ऑफर दे, कोई स्कीम बताये, पैसों का लालच दे, लाटरी इत्यादि का जिक्र करें, बैंक के बारे में बात करें या ऐसी कोई बात जो आपके दैनिक जीवन से जुड़ी हैं लेकिन आपको वह नही पता हो इत्यादि।

फर्जी कॉल के बारे में बेहतर तरीके से समझने के लिए हम नीचे कुछ उदाहरण देकर बताएँगे कि यह कॉल्स किस तरह की हो सकती हैं या किस तरह की लोगों को आती हैं।

फर्जी कॉल किस तरह की होती हैं (Fake call kaise pata kare)

फर्जी कॉल के बारे में तो आपने जान लिया लेकिन यह किस तरह की हो सकती हैं या इसमें आपको किस तरह से कॉल करके स्पैम, धोखाधड़ी इत्यादि की जा सकती हैं। आइए इसके बारे में विस्तार से जाने ताकि आप फर्जी कॉल्स को पहचान सके और उनके बारे में रिपोर्ट या शिकायत कर सके।

  • सबसे प्रमुख फर्जी कॉल में आपके बैंक का नाम शामिल हैं। दरअसल बैंक के अधिकारी या बैंक के द्वारा कभी भी आपसे आपका खाता नंबर, CVV नंबर, OTP कोड इत्यादि फ़ोन करके नही मांगे जाएंगे।
  • साथ ही आपको बैंक में कुछ बदलवाने, उसमे कुछ परिवर्तन लाने, कुछ बंद हो जाने या कुछ भी अन्य जानकारी यूँ कॉल करके नही मांगी जाएगी और ना ही दी जाएगी। इसलिए आपको अपने बैंक या किसी एनी बैंक के द्वारा ऐसा कोई भी कॉल आये तो समझ जाइये कि वह एक फर्जी कॉल हैं।
  • यदि आपको कॉल करके किसी भी तरह के लोन इत्यादि के लोए कहा जाए जिसमें आपको किसी भी तरह के आकर्षण ऑफर, बिना ब्याज का लोन, बहुत बड़ा लोन, इत्यादि कुछ भी कहा जाए या कोई भी लोन या ऋण से संबंधित कुछ भी बताया जाए तो समझ जाइये कि यह एक फर्जी कॉल हैं।
  • यदि आपके फोन पर किसी अनजान व्यक्ति का फोन आये और वह आपसे किसी लाटरी, ऑफर, स्कीम, सरकारी योजना, कल्याणकारी योजनाएं, धमाका, सेल, नौकरी, करियर इत्यादि (Fake call ka pata kaise lagaye) किसी भी तरह का ऑफर दे या कुछ भी पेशकश करें या ऐसा कुछ भी तो समझ जाइये कि वह भी एक फर्जी कॉल ही हैं।
  • आजकल फर्जी कॉल करने वाले बहुत शातिर हो गए हैं और वे इसके लिए नए नए हथकंडे अपना रहे हैं। जैसे कि वे आपको फर्जी परिवार वाले या दूर के रिश्तेदार या किसी रिश्तेदार का नाम लेकर बात करेंगे।
  • अब आप कहेंगे कि वे आपके उस रिश्तेदार का नाम या इत्यादि का नाम कैसे जान गए तो यह जानकारी सोशल मीडिया या अन्य माध्यमों से आसानी से निकाली जा सकती हैं। तो ऐसे किसी का कॉल आने पर उनकी सहायता करने की बजाए या उन्हें अपनी जानकारी देने की बजाए, पहले अपने उस रिश्तेदार से अवश्य बात अवश्य कर ले।
  • इसी के साथ एक नया हथकंडा भी अपनाया जा रहा हैं और वह हैं लोगों को डराने का। वह आपको पुलिस बनकर, सरकारी अधिकारी बनकर, वकील बनकर या कुछ भी ऐसा तरीका अपना कर कॉल करेंगे और बताएँगे कि आपने यह गलती की हैं या फिर आपसे यह अपराध हुआ हैं और उसके लिए आपको यह करना पड़ेगा तो समझ जाइये कि वह भी एक फर्जी कॉल हैं।

कुल मिलाकर आज के आधिनिक समय में किसी भी अनजान व्यक्ति से आया कॉल फिर सामने चाहे महिला हो या पुरुष, बुजुर्ग हो या बच्चा या कोई और, वह आपसे यदि आपसे संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी मांगे, कुछ भी शेयर करने को कहे या अन्य (Fake call kaise karte h) किसी जानने वाले की जानकारी मांगे तो उसे यह जानकारी बिल्कुल ना दे और साथ ही उस नंबर से बार बार कॉल आने पर उसे रिपोर्ट अवश्य करें।

फर्जी कॉल की शिकायत क्यों की जाती हैं (Fake call kaise band kare)

अब बात करते हैं कि आखिरकार ऐसा क्या कारण आ पड़ता हैं कि हमें फर्जी कॉल की शिकायत करने की नौबत आ पड़ती हैं। अब आप कहेंगे कि जब हम सभी के मोबाइल में यह फीचर आ गया हैं कि हम किसी भी नंबर को ब्लॉक कर सकते हैं या फिर रिपोर्ट भी तो उनकी शिकायत क्यों की जाए। तो आइए जाने फर्जी कॉल की शिकायत करने की आवश्यकता ही क्यों पड़ती हैं।

  • बहुत से लोगों के मोबाइल में इस चेज़ की सुविधा नही होती हैं कि वे किसी नंबर को ब्लॉक या रिपोर्ट कर पाए। ऐसी स्थिति में वे इसकी शिकायत ही दर्ज करवा सकते हैं।
  • आजकल फर्जी कॉल चलने का पूरा जाल चल रहा हैं और इसमें कई बड़ी कंपनी भी शामिल हैं जिनके अंदर सैकड़ों लोग काम करते हैं। यही कारण हैं कि आप लोन देने वाले या बैंक से आने वाले कॉल के कई नंबर ब्लॉक कर चुके होते हैं लेकिन फिर भी उनकी ओर से हमेशा किसी नए नंबर से काल आ जाता हैं। ऐसे में आप भी कितने ही नंबर को ब्लॉक करेंगे।
  • कई बार ऐसा होता हैं कि वह हमें गलत समय पर कॉल करते हैं और फिर हमें गुस्सा आ जाता हैं। जैसे कि देर रात को कॉल करना या जल्दी सुबह कॉल करना या फिर काम करते हुए कॉल करना इत्यादि।
  • ऐसा आवश्यक नही कि कोई हमारा लाभ उठाने या हमारे साथ धोखाधड़ी करने के लिए ही फर्जी कॉल करें। कई बार ऐसा होता हैं कि कोई मुख्यतया हमें ही परेशान करना चाह रहा हो और इसलिए वह हमें कई नंबर से कॉल करके परेशान कर रहा हो। ऐसे में भी उस फर्जी कॉल की या उस व्यक्ति की शिकायत की जा सकती हैं।
  • बहुत से लोग ऐसे भी होते हैं जो समाज को इन फर्जी कॉल की समस्या या धोखाधड़ी का शिकार होने से बचाने के लिए भी इन फर्जी कॉल की शिकायत करना अपना कर्तव्य समझते हैं। इसलिए भी आप फर्जी कॉल की शिकायत कर सकते हैं।

क्या फर्जी कॉल करना एक अपराध है (Fake call cyber crime)

यदि आप फर्जी कॉल की शिकायत करने जा रहे हैं तो अवश्य ही आपके मन में यह शंका होगी कि क्या किसी को फर्जी कॉल करना भारतीय दंड सहिंता के अनुसार अपराध की श्रेणी में आता हैं? इसलिए आज हम आपको बता दे कि यदि कोई व्यक्ति किसी को फर्जी कॉल कर उससे धोखाधड़ी करता हैं या फिर उसे परेशान भी करता हैं तो उसे भारतीय टेलीग्राफ एक्ट की धारा 25 सी के अंतर्गत दंड भुगतना पड़ता हैं।

यदि किसी व्यक्ति पे ऊपर भारतीय टेलीग्राफ एक्ट की धारा 25 सी सिद्ध हो जाती हैं तो उसे अधिकतम 3 वर्ष का कारावास हो सकता हैं व साथ ही उस पर जुर्माना भी लगाया जा सकता हैं।

फर्जी कॉल की शिकायत कहां करें (Fake call ki complaint kaise kare)

अब आपका प्रश्न होगा कि इन फर्जी कॉल की शिकायत करनी हो तो वह कहां की जा सकती हैं। तो इसके लिए एक नही बल्कि कई तरीके हैं जिनसे आप इन फर्जी कॉल की शिकायत कर सकते हैं। वैसे तो इनकी शिकायत करने को लेकर कई तरह के स्रोत हैं लेकिन इनमे से ज्यादातर ऐसे स्रोत हैं जो उन कॉल की गतिविधि के अनुसार संबंधित हैं। आइए इन्हें एक एक करके जाने।

#1. फर्जी कॉल की ऑनलाइन शिकायत करना (Fake call online complaint)

भारत सरकार के द्वारा इस तरह के साइबर अपराध के लिए एक स्पेशल वेबसाइट लांच की गयी है जिसका नाम है “राष्ट्रीय साइबर अपराध रिपोर्टिंग पोर्टल (National Cyber Crime Reporting Portal)”. इस वेबसाइट का लिंक https://cybercrime.gov.in/Hindi/Defaulthn.aspx है। यहाँ से आप किसी भी तरह की फर्जी कॉल या अन्य साइबर अपराध की रिपोर्ट कर सकते हैं और वह भी घर बैठे।

अब यहाँ पर किसी फर्जी कॉल की रिपोर्ट कैसे की जाती हैं या उसके लिए क्या प्रक्रिया हैं इत्यादि के बारे में हम आपको नीचे समझाएंगे। उससे पहले आप फर्जी कॉल की शिकायत करने के अन्य माध्यम भी जान लीजिए।

#2. विदेशों से आई फर्जी कॉल की शिकायत करना (International fake call complaint number)

बहुत बार ऐसा होता हैं कि हमें विदेश से भी फर्जी कॉल आती हैं और इनके जरिये हमें चूना लगाने का प्रयास किया जाता हैं। यह कॉल ज्यादातर हमारे पड़ोसी देशों जैसे कि पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल इत्यादि के जरिये आती हैं।

इसका पता आप उस नंबर के शुरूआती नंबर से लगा सकते हैं। यदि वह कॉल भारत से हैं तो उसकी शुरुआत में +91 लिखा होगा जबकि अन्य देश से आये कॉल पर शुरू में +91 नही होगा।

ऐसी स्थिति में यदि आपको किसी अन्य देश से इस तरह का कॉल आये तो आप इसकी शिकायत करने में एक मिनट की भी देर ना लगाए।

इसके लिए सरकार ने एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया हुआ हैं जहाँ पर आप विदेशों से आने वाली संदिग्ध कॉल की शिकायत कर सकते हैं। ऐसे नंबर की शिकायत आप टोल फ्री नंबर 1800110420 पर कर सकते (Farji call complaint number) हैं।

#3. बैंक धोखाधड़ी की शिकायत आरबीआई में करें (Bank fraud call complaint)

यदि आपको अपने बैंक या किसी अन्य बैंक या ऐसा ही कोई संबंधित कॉल आता हैं और आपके साथ धोखाधड़ी होती हैं तो आप उसकी शिकायत भारतीय रिज़र्व बैंक अर्थात आरबीआई से कर सकते हैं। इस तरह की समस्या या धोखाधड़ी के लिए आप चाहे तो आरबीआई की हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं या फिर उनकी वेबसाइट पर जाकर भी शिकायत कर सकते हैं।

बैंक से संबंधित फर्जी कॉल या धोखाधड़ी की शिकायत करने के लिए आप आरबीआई के हेल्पलाइन नंबर 8691960000 पर संपर्क करें। या फिर आप RBI की वेबसाइट पर जाए और वहां पर फर्जी कॉल की शिकायत करें। RBI की वेबसाइट का लिंक https://www.rbi.org.in/ है।

#4. ग्रह मंत्रालय में करें शिकायत (Fake call complaint helpline number)

आपको यह जानकर प्रसन्नता होगी कि ऐसे फर्जी कॉल्स को लेकर भारत सरकार का गृह मंत्रालय भी कठोर झो गया है और इन पर कठोरता दिखाने के लिए उसके द्वारा कुछ नंबर जारी किये गए हैं। भारत का कोई भी नागरिक ऐसे फर्जी कॉल की शिकायत सीधे गृह मंत्रालय भी कर सकता हैं।

इसके लिए आप गृह मंत्रालय के 155260 या 112 नंबर पर कॉल कर शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। इसके बाद तुरंत उस पर कार्यवाही की जाएगी। इसलिए किसी भी फर्जी कॉल की शिकायत करने से झिझके नही।

#5. साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन जाकर करें शिकायत (Cyber crime police station)

यदि आप ऑनलाइन वेबसाइट पर जाकर या कॉल करके शिकायत दर्ज करवा पाने में असमर्थ हैं और यह सब आपको एक झंझट लगता हैं या सही से समझ नही आता हैं तो चिंता मत कीजिए।

भारत सरकार के द्वारा देश में बढ़ते साइबर अपराध को देखते हुए हर जिले में साइबर पुलिस स्टेशन की व्यवस्था की गयी हैं। बड़े शहर में यह पुलिस स्टेशन अलग होते हैं जबकि छोटे शहर में पहले के ही स्टेशन में इन्हें एक अलग जगह दी गयी होती हैं।

स्य्बेर पुलिस स्टेशन में हमेशा साइबर अपराध से जुड़े मामले ही देखे जाते हैं। इसलिए यदि आपको फर्जी कॉल की शिकायत करनी हो या ऐसा कुछ रिपोर्ट करवाना हो तो आप तुरंत अपने शहर के साइबर पुलिस थाने जाए और वहां अपनी शिकायत दर्ज करवा दे। आपकी शिकायत पर तुरंत कार्यवाही की जाएगी।

ऑनलाइन फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें (Online farji call ki shikayat kaise kare)

ऑनलाइन फर्जी कॉल की शिकायत करना और उस पर क्या प्रगति हुई हैं इत्यादि जांचना अब बहुत सरकल हो गया हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि जैसा कि हमने आपको ऊपर ही बताया कि भारत सरकार के द्वारा इसके लिए मुख्य रूप से एक वेबसाइट बनाई गयी हैं जहाँ पर हर तरह के साइबर अपराध दर्ज होते हैं और उनकी शिकायत करवाई जाती हैं।

इसलिए आप भी इस वेबसाइट पर जाकर उसका पूरा लाभ उठा सकते हैं। उस वेबसाइट का नाम हैं राष्ट्रीय साइबर अपराध रिपोर्टिंग पोर्टल (National Cyber Crime Reporting Portal) और इसका लिंक हैं https://cybercrime.gov.in/Hindi/Defaulthn.aspx 

आपको बस यहाँ जाकर अपने विरुद्ध हुए अपराध, धोखाधड़ी, फर्जी कॉल्स या अन्य किसी भी साइबर अपराध की शिकायत करनी होगी और वह भी घर बैठे। इसके बाद तत्काल उस पर कार्यवाही शुरू कर दी जाएगी। आइए जाने इस पर कैसे आप फर्जी कॉल की शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

  • सबसे पहले तो https://cybercrime.gov.in/Hindi/Defaulthn.aspx इस लिंक पर क्लिक कर वेबसाइट को ओपन करिए।
  • यहाँ पर आपको ऊपर ही नीले रंग की पट्टी में मेनू दिखाई देगा जिसमें कई तरह के विकल्प दिए गए होंगे। इन विकल्प में से आपको दूसरे नंबर के विकल्प पर क्लिक करना होगा जिस पर लिखा होगा “अन्य साइबर अपराध रिपोर्ट करें”
  • इसके बाद एक नया पेज खुल जाएगा जिसमें कुछ जानकारी दी गयी होगी नीचे दाई और आपको नीले रंग में एक बटन दिखाई देगा जिस पर लिखा होगा “शिकायत दर्ज करें”, आपको बस इसी बटन पर क्लिक करना हैं।
फ्रॉड/ फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें? साइबर सेल में कंप्लेंट कैसे करें?
  • इसके बाद आपको फिर से कुछ जानकारी दी जाएगी और उसके नीचे सफेद रंग का बॉक्स होगा जिस पर आपको टिचक करना हैं या बस एक क्लिक करना हैं। क्लिक करते ही उसके साथ वाला बटन “मुझे स्वीकार है” लाल हो जाएगा और अब आपको उस पर क्लिक करना हैं।
  • इस पर क्लिक करते ही आपसे आपकीलॉग इन जानकारी मांगी जाएगी। यदि आपने पहले कभी इस पर अपना खाता बनाया हैं तो लॉग इन कर लीजिए। लॉग इन करने के लिए आपको अपना राज्य, लॉग इन आईडी व मोबाइल नंबर डालना होगा। इसके डालते ही आपके मोबुले नंबर पर एक OTP आ जाएगा, उसे भरे और Captcha भरके सबमिट कर दे।
फ्रॉड/ फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें? साइबर सेल में कंप्लेंट कैसे करें?
  • यदि आपने पहले कभी इस वेबसाइट पर खाता नही बनाया हैं और आप पहली बार लॉग इन कर रहे हैं तो आपको पहले एक नया खाता बनाने की आवश्यकता हैं। इसके लिए आप नीचे दिए गए विकल्प “Click here for new user” पर क्लिक करें और यह आपको नया खाता बनाने के पेज पर ले जाएगा। वहां से नया खाता बनाए और आगे बढ़ें।
  • अब आप जैसे ही लॉग इन करके आगे बढ़ेंगे तो आपके सामने एक नया पेग खुलेगा और उसमे आपसे आपकी शिकायत की संपूर्ण जानकारी मांगी जाएगी।
  • इसमें सबसे पहले तो आपसे आपकी जानकारी मांगी जाएगी जैसे कि आपका ईमेल एड्रेस, आपके घर का पता, मोबाइल नंबर, इत्यादि जिसे भरकर आपको आगे बढ़ना होगा।
  • इसके पश्चात आप शिकायत वाले पेग पर पहुँच जाएंगे। वहां आपको क्रोमे की केटेगरी या श्रेणी चुनने को कहा जाएगा। इसलिए आपको जिस भी श्रेणी से सम्बन्हित वह कॉल आया हैं जैसे कि स्पोसिअल मीडिया धोखाधड़ी तो उसकी श्रेणी चुने, और यदि ऑनलाइन जुएँ का काल आये हैं तो उसकी श्रेणी चुने इत्यादि।
फ्रॉड/ फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें? साइबर सेल में कंप्लेंट कैसे करें?
  • इसके बाद आपकी शिकायत को और विस्तार देते हुए नीचे Sub category of complaint का विकल्प भी दिया गया होगा। आप जैसे ही अपनी शिकायत का टाइटल चुनेंगे तो नीचे sub केटेगरी वाले विकल्प पर भी कई विकल्प की सूची दिखाई देंगी जिसमें से आप एक केटेगरी को चुन लीजिए।
फ्रॉड/ फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें? साइबर सेल में कंप्लेंट कैसे करें?
  • फिर एक तरह से आपको सब जानकारी देनी होगी जैसे कि वह घटना कब घटित हुई, उसका समय व तिथि क्या थी, क्या अपने उसे उसी समय रिपोर्ट किया या बहुत समय बाद, अन्य जानकारी इत्यादि सब एक एक करके भरे।
  • इसके बाद सस्पेक्ट डिटेल में आपको उस व्यक्ति की जानकारी देनी होगी जिसकी आप शिकायत करने जा रहे हैं  या जिससे आपको फर्जी कॉल आया हैं। इसमें आपको उसका नंबर, मैसेज या फोन पर हुई बातचीत इत्यादि का ब्यौरा देना होगा।
फ्रॉड/ फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें? साइबर सेल में कंप्लेंट कैसे करें?
  • फिर आपसे आपकी शिकायत के संबंध में कुछ अन्य महत्वपूर्ण जानकारी मांगी जाएगी। इसे भर कर आपको आगे बढ़ जाना हैं।
फ्रॉड/ फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें? साइबर सेल में कंप्लेंट कैसे करें?
  • अंत में आपको आपकी शिकायत का पूरा ब्यौरा दिखाया जाएगा जिसमें आपके द्वारा दर्ज की गयी हर जानकारी लिखी हुई होगी। यदि इसमें आपको कुछ एडिट करने की आवश्यकता हैं या कुछ अपडेट करने की आवश्यकता हैं तो वह आप कर सकते हैं।
  • यदि आपको लगता हैं कि आपके द्वारा भरी गयी जानकारी एकदम सही हैं तो आप आगे बढ़ जाइये और इसे सबमिट कर दीजिए।
फ्रॉड/ फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें? साइबर सेल में कंप्लेंट कैसे करें?

एक बार जब आप शिकायत को सबमिट कर देंगे तो आपके पास एक शिकायती नंबर आ जाएगा। यह शिकायती नंबर आप अपने ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर व स्क्रीन तीनों पर देख पाएंगे। भविष्य के लिए इस नंबर को संभाल कर रखें।

यदि आगे चलकर आपको कभी अपने द्वारा दर्ज की गयी शिकायत पर हुई कार्यवाही को देखना हो या उसे ट्रैक करना हो तो आपको उसी वेबसाइट में लॉग इन कर ट्रैक योर कंप्लेंट पर क्लिक कर वह देखना होगा। इसमें आपको बस अपना शिकायती नंबर डालना होगा और आप अपने द्वार दर्ज करवाई गयी शिकायत के स्टेटस चेक कर सकते हैं।

फर्जी कॉल की शिकायत कहां और कैसे करें Related FAQs

प्रश्न: फ्रॉड कॉल आए तो क्या करें?

उत्तर: फ्रॉड कॉल आने पर तुरंत उसके विरुद्ध भारत सरकार की साइबर अपराध शाखा के अन्ब्तार्गत एक शिकायत दर्ज करवा दे।

प्रश्न: ऑनलाइन ठगी के बाद मैं अपना पैसा कैसे वापस पा सकता हूँ?

उत्तर: ऑनलाइन ठगी के बाद अपना पैसा वापस पाने के लिए आपको ऑनलाइन शिकायत दर्ज करवानी होगी या फिर अपने शहर के साइबर पुलिस स्टेशन जाना होगा।

प्रश्न: फेक कॉल कैसे किया जाता है?

उत्तर: फेक कॉल्स करने के कई सारे ऐप्स व वेबसाइट उपलब्ध हैं जिन्हें आप गूगल प्ले स्टोर पर देख सकते हैं।

प्रश्न: साइबर अपराध में हमले कैसे होते हैं?

उत्तर: साइबर अपराध में ऑनलाइन ठगी, पैसे हड़पना, चूना लगाना इत्यादि सम्मिलित है।

प्रश्न: साइबर क्राइम से संबंधित कानूनों को क्या कहा जाता है?

उत्तर: साइबर अपराध से संबंधित सभी तरह के कानून आईटी एक्ट के अंतर्गत आते हैं।

तो कुछ इस तरह से आप ऑनलाइन फर्जी कॉल की शिकायत कर सकते हैं। तो आज आपने जाना कि फर्जी कॉल्स किस प्रकार की होती हैं, उन्हें कैसे पहचाना जा सकता हैं व उनके विरुद्ध किस प्रकार शिकायत की जा सकती हैं।

Main Points

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना 2022 राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना उद्योग आधार पोर्टल बिहार मुख्यमंत्री बाल सहायता योजना राजस्थान ग्रामीण आवास विकास योजना